डायन की डरावनी कहानी, ghost stories in hindi

ghost stories in hindi

डायन की डरावनी कहानी 

ghost stories.jpg

ghost stories in hindi

ghost stories in hindi, दोस्तों ये डायन की डरावनी कहानी है , जो की एक दम सच्ची है. क्योकि ये डायन हमारे गांव मैं ही आ गयी थी और इससे पूरा गांव ही परेशान हो गया था. जानते है कैसे गांव वालो ने इस डायन से अपनी जान बचायी. ये कहानी मुझे मेरी मम्मी ने सुनाई थी. जिस गांव से मेरी मम्मी है उस गांव में कुछ बुरी शक्तियां भी वास करती हैं. ऐसी ही एक बुरी आत्मा से सामना हुआ मेरे दादाजी का. वह चुड़ैल थी,





खुले बालों और सफेद भयानक चेहरे वाली चुड़ैल. ठंड का समय था. शहर में घना कोहरा छाया हुआ था. मेरे दादा एक बड़े अधिकारी थे.रोज की तरह उस दिन जब मेरे दादा अपना काम खत्म कर दफ्तर से घर की ओर जाने लगे तो रास्ते में पड़ने वाले बाजार से वह कुछ सामान लेने के लिए रुके. उनके बाकी साथी आगे चले गए और वो पीछे छूट गए.




सामान लेते लेते उन्हें टाइम का पता ही नहीं चला और जब दादाजी ने अपनी घड़ी देखी तो टाइम देखकर उन्हें लगा कि आज घर पहुंचने में बहुत देर हो जाएगी. उन्होंने सोचा जंगल के रास्ते अगर जाऊं तो जल्दी पहुंच जाऊंगा इसीलिए उन्होंने जंगल की ओर गाड़ी घुमा ली. काफी अंधेरा हो गया था. दादाजी तेज गति के साथ गाड़ी चला रहे थे लेकिन उनकी गाड़ी के एक आगे एक औरत आ गई. उन्हें झटके से ब्रेक मारनी पड़ी. जो औरत गाड़ी के सामने आई थी वह तेज तेज रो रही थी.

Read More-भयानक भूत

दादाजी को लगा कि वह जरूर किसी मजदूर की पत्नी होगी जो रास्ता भटक गई है. रास्ता सुनसान था इसीलिए उन्होंने सोचा कि इस महिला की मदद की जाए. उन्होंने उस औरत से पूछा कि वह यहां अकेले क्या कर रही है? उसने कोई जवाब नहीं दिया और जोर जोर से रोने लगी. ऐसा लग रहा था मानो सारा जंगल उसकी आवाज से गूंज रहा हो. दादाजी ने पूछा कि उसका घर कहां है, तो भी वह कुछ ना बोली. दादाजी ने उसे बोला कि तुम मेरे साथ मेरे घर चलो सुबह तुम्हें तुम्हारे घर छोड़ दूंगा.

Read More-वो भूतिया रास्ता

वह दादाजी के साथ चलने के लिए तैयार हो गई और गाड़ी के पीछे वाली सीट पर बैठ गई. रीति रिवाज के कारण उसने अपने सिर पर घूंघट डाल रखा था जिसकी वजह से उसका चेहरा छिपा हुआ था. गाड़ी पर सब दादाजी का इंतजार कर रहे थे जैसे ही गाड़ी की आवाज आई सब भाग कर इकट्ठा हो गए. जब उस महिला के बारे में घर में पूछा गया तो दादाजी ने सारी कहानी बताई. दादाजी ने कहा आज खाना यही बना देगी. लेकिन मेरी मम्मी को उस महिला पर शक हो गया.

Read More-डरावनी रात एक कहानी

उन्हें लगा कि यह कोई चोर है जो घर का सामान चुराकर भाग जाएगी. मम्मी ने उसे रसोई में जाकर खाना बनाने को कहा, वह बिना कोई जवाब दिए वहां से चली गई. रसोई में से अजीब से आवाजें आ रही थीं बस. रसोई में सारा सामान रखवा कर मेरी मम्मी ने उसे कहा कि सब भूखे हैं इसीलिए जल्दी खाना बना दे. उसे रसोई में भेज तो दिया लेकिन मम्मी का मन अभी भी शांत नहीं हुआ. 15 मिनट बाद मम्मी रसोई में पहुंची तो देखा अभी वह थैले में से मछलियां निकाल ही रही थी.

Read More-एक हवैली

यह देखकर मम्मी को गुस्सा आ गया. उन्होंने उसे बोला कि अभी तक तुमने खाना बनाना शुरू नहीं किया, कब बनेगा और कब हम खाएंगे. उस महिला का चेहरा अभी भी ढका हुआ था इसीलिए किसी ने उसका चेहरा नहीं देखा था. मम्मी उसका चेहरा देखने की कोशिश करती रही लेकिन उन्हें उसकी झलक भी दिखाई नहीं दी. मम्मी ने कहा कोई जरूरत हो तो बुला लेना लेकिन फिर भी वह कुछ नहीं बोली. उन्हें लगा कि शायद अंजान लोगों से डर रही होगी. मम्मी रसोई से चली गई लेकिन जब 15 मिनट बाद वह फिर वापस आई तो रसोई का दृश्य देखकर मम्मी डर गई. उनके पैर जैसे वहीं जम गए. उनके गले की आवाज नहीं निकल रही थी.

Read More-अनहोनी एक कहानी

उन्होंने देखा वह औरत रसोई के स्लेप पर बैठकर कच्ची मछलियां खा रही है. उसके सिर का घूंघट भी उतरा हुआ था, उसका चेहरा बेहद खौफनाक था. बाल बहुत बड़े और नाखून एक दम काले. वह मछलियां खाने में मगन थी इसीलिए उसका ध्यान मम्मी पर नहीं गया. मम्मी भी चिल्लाई नहीं कि कहीं वह और ज्यादा खतरनाक न हो जाए. मम्मी ने एक थाल उठाया और वह चूल्हे में से जलता हुआ कोयला उठाकर उसकी तरफ दौड़ी. कोयला उस चुड़ैल पर फेंक दिया,

Read More-भूत ही भूत

आग की जलन की वजह से वह डायन तेज तेज आवाजें निकालने लगी. उसकी आवाज सुनकर सारा घर इकट्ठा हो गया. उसे आग दिखाकर घर से बाहर निकाला गया. उसकी आवाज इतनी तेज थी कि आसपास के लोगों का भी बाहर जमावड़ा लग गया. वह डायन लोगों की भीड़ को हटाते हुए जंगल की तरफ दौड़ी, सारे लोग डर के मारे कांप रहे थे और मेरी मम्मी की हिम्मत की दाद भी दे रहे थे कि अगर उन्होंने सही समय पर कोयले से उस डायन को भगाया नहीं होता तो ना जाने क्या हो जाता. तो दोस्तों कैसी लगी आपको मेरी ये डायन की कहानी मुझे जरूर बताये.

Read More-चुड़ैल की कहानी

Read More-पीपल का भूत

Read More-Bhangarh ka kila

Read More-भूतो का संसार

Read More-भूत का रहस्य

Read More-Room no-15 true story of ghost

Read More-एक घर की डरावनी कहानी

Read More-पुराना महल

Read More-दहशत की एक रात कहानी

Read More-एक पुराना किला

Read More-रात का डरावना सफर

Read More-पुराना महल

Read More-दहशत की एक रात कहानी

Read More-एक पुराना किला

Read More-वो सुनसान रास्ता

Read More-राजस्थान का किला

Read More-भूत की कुर्सी

Read More-ब्लडी मैरी शीशे के अंदर

Read More-भूतो का डर

Read More-भूत के पीछे भूत

Read More-भूत-प्रेत की कहानी

Read More-मेरी सच्ची कहानी

Read More-भूत देखना है

Read More-भूत का नाटक एक घोस्ट कहानी

Read More-भूत का साया

Read More-एक दानव कुत्ते की कहानी

Read More-क्या सच मैं भूत होते है

Read More-कब्रिस्तान मैं वो इंसान

Read More-एक भूत की फोटो जब देखी

Read More-उस रात का डर

Real More-जब हुआ रूह से सामना

Read More-क्या भूत होते है

Read More-गोविन्द की भूतिया कहानी

Read More-भूत या रहस्य एक कहानी

Read More-परिवार का भूत

Read More-मेरी कहानी

Read More-कब्रिस्तान का रास्ता

Read More-भूत-प्रेत की सच्ची कहानी 

Read More-तालाब का भूत एक सच्ची घटना

Read More-कोहरे की रात

Read More-किले का रहस्य

Read More-कमरे में कौन था

Read More-पेड़ का भूत एक कहानी

Read More-हवेली का प्रेत

Read More-कमरा नंबर 201 की कहानी

Read More-कमरा नंबर 303

Read More-एक भटकती आत्मा

Read More-काला जादू की सच्ची कहानी

Read More-केंटीन का भूत कहानी

Read More-मेरी अपनी कहानी

Read More-खेत मैं प्रेत से सामना

Read More-लड़की का प्रेत एक कहानी

Read More-मैंने देखी जब एक छाया

Read More-चलती गुड़िया

Read More-भूतो का गांव

Read More-पत्नी की आत्मा एक कहानी 

Read More-गली नंबर 18 की कहानी

Read More-आत्मा की कहानी

Read More-असली भूत की कहानी

Read More-उस रात की खौफनाक कहानी

Read More-जब उस चुड़ैल ने देखा

Read More-Horror real spirit stories in hindi

Read More-Mirror bloody mary real story in hindi

Read More-Ghost story of bloody mary in hindi

Read More-Queen bloody mary story in hindi

Read More-dar ki raat very short story in hindi

Leave a Reply

error: Content is protected !!