आत्मा की कहानी, meri kahani meri zubani

meri kahani meri zubani

आत्मा की कहानी, (meri kahani meri zubani, Aatma ki kahani) कुछ बातों पर विश्वास करना बहुत मुश्किल हो जाता है, मगर जब हम उनकी सच्चाई पर ध्यान देते है, तो पता चलता है की कुछ ऐसा जरूर है, जिसका प्रभाव पड़ रहा है, यह कहानी भी इसी तरह की है, जब एक सच्चाई पर नज़र पड़ती है, तो इस बात का पता चलता है,

आत्मा की कहानी : meri kahani meri zubani

Aatma kahani.jpg

Aatma ki kahani

वैसे तो मैं कभी भी भूत प्रेतों मैं विस्वास नहीं करता हु , पर जब बात खुद नज़र आने की हो तो विस्वास करना ही पड़ता है. ऐसा ही एक वाक्य मेरे साथ घटा , और वो भी मेरी पत्नी के साथ. मेरा नाम अनिल कुमार है और मैं जिला आजमगढ़ उत्तर प्रदेश का रहने वाला हु.

 

मैं और मेरा परिवार काफी टाइम से यहाँ पर रह रहे है. हम  चार मेंबर है. मैं , मेरी पत्नी और मेरे दो बच्चे . मेरी पत्नी भगवन को बहुत ही ज्यादा मानती है . वो दिन भर पूजा पाठ मैं ही लगी रहती है . लेकिन उसके साथ एक दिन वो घटा , जिसकी कभी हमे उम्मीद भी नहीं थी . बात उन दिनों की है जब हम सब परिवार जन के लोग अपने रिस्तेदार की शादी मैं उनके यहाँ गए हुए थे .

 

हमे वह जाकर ही पता चला था की , पड़ोस मैं रहने वाली एक महिला की मोत हुई थी कुछ दिन पहले ही . शादी तो ठीक ठाक से निपट गयी और हम सब घर वापिस आ गए . लेकिन इस बार हम चार लोग नहीं बल्कि पांच लोग घर वापिस आये थे . आप ये सोच रहे होंगे की आखिर ये पांचवा सायद कोई रिस्तेदार होगा . लेकिन ऐसा नहीं था , वो कोई रिस्तेदार नहीं बल्कि . उस औरत की आत्मा थी जो की अभी कुछ दिन पहले ही मरी थी . उसी आत्मा को हम चुड़ैल के नाम से जानते है . मुझे उस चुड़ैल के बारे मैं तब पता चला जब हम रात को सो रहे थे .

Read More-एक पुराना किला

Read More-वो सुनसान रास्ता

रात मैं अचानक से मेरी पत्नी उठी और घर का गेट खोलकर बाहर चली गयी . मैं भी अपनी पत्नी के पीछे पीछे घर से बाहर चला गया , तो मैं क्या देखता हु की वो पेड़ के निचे खड़ी किसी से बात कर रही थी . लेकिन किस्से बात कर रही थी . वो बिलकुल भी नज़र नहीं आ रहा था . मुझे लगा सायद वो नींद मैं चलकर बाहर आयी होगी और नींद मैं ही अपने आप से बात केर रही होगी . मैंने उस रात कुछ ज्यादा ध्यान नहीं दिया और उसके घर आने के बाद मैं भी घर वापिस आकर सो गया . अगली रात फिर वैसा ही हुआ की मेरी पत्नी कमला रात मैं उठी और उसी पेड़ के निचे जहा पर कल थी खड़ी होकर किसी से बात कर रही थी .

Read More-कब्रिस्तान मैं वो इंसान

अब की बार मैंने किसी से पूछने का फैसला कर लिया था . अगले ही दिन मैं एक बाबा के पास गया और अपने साथ हुआ सारा वाक्य उन्हें बताया, तो वो मेरे साथ घर पर आ गए और मेरी पत्नी को देखा , तो उन्होंने साफ़ साफ़ बता दिया की आपकी पत्नी पर एक चुड़ैल का साया है . जो की उसे ये सब करने पर मजबूर कर रहा है . मैंने कहा की हम सब ऐसे ऐसे एक शादी मैं गए थे ,

Read More-डरावनी रात एक कहानी

Read More-एक हवैली

तो क्या ये वही है . उन्होंने कहा की हां ये वही है . तो मैं उनसे उपाय पूछा तो उन्होंने मुझे बता दिया . बाबा ने उस चुड़ैल से बात की , की क्या चाहती है वो कमला से. तो उसने कहा की मुझे इन्साफ चाहिए अपनी मोत का . उसने बताया की उसे पेसो की लालच मैं उसके ससुराल वालो ने  मार डाला था . तभी से वो भटक रही है और उसकी आत्मा को अभी तक शांति नहीं मिल पायी है .

Read More-अनहोनी एक कहानी

Read More-दहशत की एक रात कहानी

meri kahani meri zubani, Aatma ki kahani, इस पर बाबा ने कहा की जब तक इसे शांति नहीं मिलेगी, ये आपकी बीवी को नहीं छोड़ेगी. इस पर उन्होंने कहा की शांति पाठ करना होगा, तभी कोई रास्ता निकल सकता है . तो हमने पुरे परिवार के साथ उसकी आत्मा की शांति के लिए पूजा पाठ किया ,  फिर हम सब शांति पूर्वक रहने लग गए .

Read More-उस रात की खौफनाक कहानी

Read More-जब उस चुड़ैल ने देखा

Read More-उस रात का डर

Read More-क्या भूत होते है

Read More-गोविन्द की भूतिया कहानी

Read More-भूत या रहस्य एक कहानी

Read More-परिवार का भूत

Read More-मेरी कहानी

Read More-कब्रिस्तान का रास्ता

Read More-भूत-प्रेत की सच्ची कहानी 

Read More-तालाब का भूत एक सच्ची घटना

Read More-कोहरे की रात

Read More-किले का रहस्य

Read More-कमरे में कौन था

Read More-पेड़ का भूत एक कहानी

Read More-हवेली का प्रेत

Read More-कमरा नंबर 201 की कहानी

Read More-कमरा नंबर 303

Read More-एक भटकती आत्मा

Read More-काला जादू की सच्ची कहानी

Read More-केंटीन का भूत कहानी

Read More-खेत मैं प्रेत से सामना

Read More-लड़की का प्रेत एक कहानी

Read More-मैंने देखी जब एक छाया

Read More-चलती गुड़िया

Read More-भूतो का गांव

Read More-पत्नी की आत्मा एक कहानी 

Read More-गली नंबर 18 की कहानी

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

error: Content is protected !!