जब सांप ने काटा, story in hindi with moral

story in hindi with moral

story in hindi.jpg
story in hindi with moral

जब सांप ने काटा हिंदी कहानी

story in hindi with moral, hindi story, एक गांव में एक गरीब किसान रहता था उसका नाम गोकुल था एक दिन गोकुल को सांप ने काट लिया और वह खेत में ही पड़ा  रहा उसने सोचा अच्छा है इस जीवन से मुझे मुक्ति मिल गई उसका शरीर ठंडा होने लगा था और उसका मुंह में झाग आने लगे थे तभी एक और गांव के आदमी ने उसे देखा और कहा अरे गोकुल तुझे तो सांप ने काट लिया है.

 

वह उसे पकड़ कर गांव में ले आया गांव में एक बाबा रहते थे जो सांप और बिच्छू के काटे हुए को सही करते थे वह गोकुल को उनके पास ला कर लेटा दिया बाबा ने का इसे तो जहरीले सांप ने काटा है  तुम पहले क्यों नहीं लाए

वह बोला कि मैं तो उधर से गुजर रहा था तो देखा यह खेत में पड़ा था धीरे धीरे गांव के और लोग भी आने लगे गोकुल नीच जाति का आदमी था जब सबको पता चला कि गोकुल को सांप ने काट लिया तो ऊंची जाति के लोग भी जमा हो गए और बातें बनाने लगे

Read More-सेब का फल हिंदी कहानी

Read More-साधू की पद यात्रा

Read More- धनवान आदमी हिंदी कहानी 

अरे यह तो चोर था जरूर खेत में चोरी करने गया होगा अच्छा किया सांप ने काट लिया अभी उसको सभी भुला बुरा कहने लगे कुछ लोग हंसने लगे इतने में ही गोकुल की पत्नी रोती हुई आई और जमीन पर हाथ मार-मार कर रोने लगे उस का छोटा बेटा भी रोने है

रात बाबा अपना मन तो पूछ रहे थे पर गोकुल का शरीर नीला हुआ पड़ा था उसे किसी बड़े सांप ने काटा था अब बाबा को भी लगने लगा था कि उसके मंत्र काम नहीं करेंगे बाबा को लगा अगर मैंने इसे ठीक  नहीं किया तो गांव वालों का मुझ पर से भरोसा उठ जाएगा अचानक उसका बड़ा बेटा आया और कहने लगा बापू बापू क्या हुआ आपको, यह सुनकर गोकुल की आंखे टिमटिमा एक ऐसा लगा मानो उस में जान आ गई हो बाबा का भी हौसला बढ़ने लगा

 

वह फिर से मंत्र फूटने लगे और उसे सही करने लगे अचानक गोकुल की आंखें खुली और उसे होश आया भीड़ कम होने लगी और सब अपने-अपने घर को जाने लगे इस बाबा ने कहा अब यह ठीक हो गया है इसका जहर उतर गया है इसे घर ले जाओ और गोकुल की पत्नी और बच्चे उसे पकड़ कर घर ले गए

Read More-ज्ञान का भंडार

Read More-बिना सोचे विचारे

Read More-राजा और लेखक

घर जाकर गोकुल अपने पत्नी से बोला तुम सो जाओ मैं भी सोता हूं गोकुल लेट गया और सोचने लगा कि अगर मैं मर जाता तो मेरे परिवार का क्या होता मेरे बच्चे किससे बात कहते और मेरी पत्नी कहां जाती मैं इस गरीबी से तंग आकर मरने जा रहा था पर मेरे बच्चों का क्या होता

 

आज  गांव के प्रधान ने मेरा खेत मुझसे छीन लिया और मुझे नौकरी दे दी और तो अब कहता है कि तुम यहां से जाओ 4 दिन से मेरे घर में खाना नहीं बना था गोकुल उसी खेत में मक्के की बाल तोड़ने गया था जिस से कि उसके बच्चों का पेट भर जाए और अचानक उसे सांप ने काट लिया

 

यह सब बातें गोकुल सोच ही रहा था कि अचानक दरवाजा बजे और कहां गोकुल गोकुल तुझे प्रधान जी ने बुलाया है गोकुल ने कहा क्या आफत आ गई अभी तो मैं लेटा हूं उसने कहा मुझे नहीं पता गोकुल प्रधान के घर गया प्रधान गोकुल तूने मेरे खेत में चोरी की गोकुल ने कहा नहीं मैंने चोरी नहीं की

Read More-बाबा की सीख

Read More-ढोंगी पंडित की कहानी 

Read More-बेवकूफ दोस्त की कहानी

मैं तो वह खेत तुम्हारा कहां से आया तुम ने जबरदस्ती उसे मुझसे छीन लिया था मैं गरीब हूं और नीच जाति का हूं इसलिए तुम लोग मुझे बंधुआ मजदूर बनाना चाहते हो जब मैं अपने ही खेत में से अपनी ही फसल की दो बारे तोड़ने गया तो तुमने उसे चोरी का आरोप लगा दिया

 

प्रधान गुस्से में तिलमिला उठा उसे लगा कि नीची जाति का उसके सामने आवाज उठा रहा है उसने उसको एक थप्पड़ मारा और अपने आदमियों से कहा इसे ले जाओ और मार मार के अधमरा कर दो प्रधान के लोगों ने विचारे गोकुल को नीचे गिरा दिया और उसे मारने लगे उसके मुंह से खून आने लगा

 

इतने में गोकुल की पत्नी आई और उसके ऊपर गिर कर रोने लगी प्रधान के नौकर उसे मार कर भाग गए उसका बेटा आया बोला मैं अभी आता हूं उसकी मां ने कहा कहां जा रहा है बोला जब मेरे  बापू  को सांप ने काटा था  तो हमारी जाति का दूसरे गांव का एक मुखिया आया था.

Read More-जलपरी की सच्ची कहानी

Read More-बुढ़ापे का कड़वा सच

Read More-एक साया जब दिखा

story in hindi with moral, hindi story, उसने कहा था कि जब तक हम बड़ी जाति के लोगों को सबक नहीं सिखा देंगे और बड़ी जाति के सांपों को नहीं मार देंगे तब तक हमारे शरीर के अंदर का जहर नहीं जाएगा नीच जाति के लोग इंसान होते हैं अगर उन्हें इंसान ना समझकर जानवर समझा जाएगा तो एक ना एक दिन आवाज जरुर उठाएंगे.

Read More-हौसला बनाये रखना

Read More-दोस्त की सच्ची कहानी

Read More-बिना सोचे विचारे

Read More-गमले वाली बूढ़ी औरत

Read More-छोटी सी बात हिंदी कहानी

Read More-समय जरूर बदलेगा

Read More-सोच का फल कहानी

Read More-निराली पोशाक

Read More-पेड़ और झाड़ी

Read More-राजा और चोर की कहानी

Read More-पत्नी का कहना

Read More-एक किसान

Read More-रेल का डिब्बा

Read More-छोटी सी मदद

Read More-दिल को छूने वाली कहानी

Read More-गुस्सा क्यों

Read More-राजा की सोच कहानी

Read More-हिंदी कहानी एक सच

Read More-दोस्त की सच्ची कहानी

Read More-हिंदी कहानी विवाह

Read more-गांव में बदलाव

Read More-चश्में की हिंदी कहानी

Read More-परीक्षा का परिणाम

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

error: Content is protected !!