गमले वाली बूढ़ी औरत, hindi true story

 hindi true story

true story.jpg

hindi true story

गमले वाली बूढ़ी औरत

hindi sad story, hindi true story, sad kahani in hindi, एक गांव में एक बूढ़ी औरत अपने पति के साथ रहती थी वह गांव से मिट्टी खोदकर उसके गमले बनाकर शहर में घर घर बेचा करती थी शहर में बूढ़ी औरत के गमले हर कोई ले लेता था और बदले में कभी उसे रोटी दे देता था और कोई उसे चाय बनाकर भी देता था.

 

गमले बेचकर जो कोई थोड़े बहुत पैसे देता था उसी से वह बूढ़ी औरत अपना घर चलाती थी और अपने बीमार पति की देखभाल भी करती थी उसका पति बहुत बीमार था और ज्यादातर बीमार ही रहता था बूढ़ी औरत बहुत अच्छी थी इसीलिए शहर की औरतें उसे खुश रहती थी और उसे जरूरत पड़ने पर कुछ पैसे भी दे दिया करते थे एक दिन बूढ़ी औरत गमले बेचने शहर गई तो एक औरत ने उसे अपने घर बैठा लिया उसे  रोटी और चाय दे दी

चाय उसे में पीतल के लंबे से गिलास में,  पीतल का गिलास देख बूढ़ी औरत कहने लगी आज के जमाने में  ऐसे पीतल के गिलास कहां देखने को मिलते हैं दूसरी औरत बोली हां बस क्योंकि ज्यादा  देख रेख करनी पड़ती है

Read More-बाबा की सीख

Read More-ढोंगी पंडित की कहानी 

Read More-बेवकूफ दोस्त की कहानी

बूढ़ी औरत ने चाय से दो रोटी खायी और एक रोटी अपने पति के लिए बचाकर रख ली उसने सोचा रास्ते में से एक प्याज खरीद कर उसे पीसकर उसे अपने पति को रोटी खिला दूंगी घर जाकर उसने देखा तो उसका पति की कोई हलचल नहीं हो रही थी

Read More-बाबा की सीख

Read More-ढोंगी पंडित की कहानी 

Read More-बेवकूफ दोस्त की कहानी

उसमें छू कर देखा तो वह मर चुका था बूढ़ी औरत सहमी नीचे बैठ गई और तेज-तेज रोने लगी कुछ दिनों बाद वह वापस अपना पेट पालने के लिए फिर मिट्टी खोजने गई और उसके गमले बनाकर बेचने चल दी

Read More-सेब का फल हिंदी कहानी

Read More-साधू की पद यात्रा

Read More- धनवान आदमी हिंदी कहानी 

शहर में उसने खबर सुनी थी जहां से वह मिट्टी होती है वहां कोई बड़ी इमारत बनाने वाला है और गांव भी खाली करना पड़ सकता है जो लोग अच्छा खासा कमाते थे उनको तो चिंता की कोई बात नहीं थी पर वह बस बूढ़ी औरत तो बिचारी अकेली ही अपना पेट पालती थी

 

वह कहां जाएगी यह सोचकर वह गांव के जमीदार के पास गई गांव के जमीदार ने कहा तुम्हारे पास तुम्हारी झोपड़ी के कागज है उसने कहा झोपड़ी के कागज कहां से लाऊं बोला अब तो मैं कुछ नहीं कर सकता

Read More-ज्ञान का भंडार

Read More-बिना सोचे विचारे

Read More-राजा और लेखक

क्योंकि जिस पर तुमने झोपड़ी बना रखी है यह भी सरकार की ही है धीरे धीरे गांव में पानी भरना शुरू हो गया और गांव के सारे घर बहने लग गए सब अपने घर छोड़ छोड़कर जाने लगे 

hindi sad story, hindi true story, sad kahani in hindi, गमले वाली जोर-जोर से चिल्लाने लगी गरीबों का घर मत छीनो गरीबों का घर छीनोगे तो गरीब कहां जाएंगे  और मैं गमले कहां से बना कर बेचूंगी पर उस बूढी औरत वाली की किसी ने नहीं सुनी.

Read More-आखिरी काम की कहानी

Read More-संत के स्वप्न की कहानी

Read More-अपने मन के राजा की कहानी

Read More-परेशानियों से बचे एक कहानी

Read More-एक जोकर की कहानी

Read More-एक पत्रकार की कहानी

Read More-सब कुछ बह जायेगा हिंदी कहानी

Read More-दो मूर्खों की कहानी

Read More-बुद्धि की परीक्षा की कहानी

Read More-माँ के दिल की कहानी 

Read More-आज और कल की कहानी

Read More-अंधे को मिली सजा की कहानी

Leave a Reply

error: Content is protected !!