ढोंगी पंडित की कहानी, free hindi story

Free hindi story

free hindi story, famous stories in hindi, famous hindi stories, new kahaniya, एक शहर में एक आदमी रहता था वह लोगों का हाथ पढ़कर उनका भविष्य बताता था शहर में वह एक मंदिर में रहता था मंदिर में लोग पूजा करने आते थे तो वह पेड़ के नीचे बैठा रहता था और उसके पास आकर वह लोगों का हाथ देखकर उनका भविष्य बताता था.

ढोंगी पंडित की कहानी : free hindi story

hindi story.jpg

free hindi story

कुछ लोगों की बात सच हो जाती और कुछ कि झूठ कुछ उसे अच्छा समझते थे और कुछ बुरा पर वह यह सब अपना धंधा बढ़ाने के लिए ही करता था कुछ लोगों को तो वह इतना बेवकूफ बनाता था की उनसे झूठ बोल बोल कर ना जाने कितने पैसे ले लेता था और उनका काम भी नहीं बनता था, जो लोग दूर से आते वह उसकी बातों में आ जाते थे और उसे पैसे देकर अपना काम करवाने के लिए कहते थे वह कहता था कि तुम मुझे पैसे दे दो मैं हवन करूंगा और तुम्हारा यह काम हो जाएगा वह कई तरह से लोगों को बेवकूफ बनाता था कभी कहता था कि मैं शादी करवा दूंगा कभी कहता था कि कहता था कि मैं तुम्हें बताऊंगा कि तुम अपना भविष्य कैसे अच्छा बना सकते हो और अपने भविष्य को कैसे पहले से ही देख सकते हो

उसी शहर में एक जतिन नाम का लड़का आया उसने उस ढोंगी पंडित की सारी बातें सुनी उसने सभी को समझाया कि यह सब गलत है अगर तुम्हें किसी पर भरोसा करना है तो भगवान पर करो पंडित के चक्कर में पड़ना बेकार है इन सब को कुछ नहीं पता होता अगर इन्हें इतना ही ज्ञान होता तो यह अपना क्यों नहीं भला कर लेते कोई उसकी बात नहीं समझता और उस पंडित के चक्कर में आकर बेवकूफ बनते जाते एक बार जतिन ने सोचा क्यों ना मैं इस पंडित की पोल इन्हीं लोगों के सामने खोलो तभी इन्हें मुझ पर विश्वास होगा अगले दिन सुबह वह उस पंडित के पास आया और बोला पंडित जी जल्दी चलिए आपके घर में तीन चोर घुस गए हैं और उन्होंने आपकी पत्नी को उठा लिया है और उसके बदले बहुत सारा पैसा मांग रहे हैं

 

पंडित यह सुनकर घबरा गया और जोर-जोर से अपने घर की तरफ भागने लगा घर आकर उसने देखा कि उसके घर पर बहुत सारे लोग जमा हैं और उसकी पत्नी भी सही सलामत है वह जतिन से बोला कि तुम ने मेरा बेवकूफ क्यों बनाया जतिन ने कहा तुम आज तक इन भोले भाले लोगों का पागल बनाते हो यह तुम्हें पता नहीं चला तुम सब का भविष्य बताते हो तो क्या तुम्हें यह नहीं पता था कि तुम्हारे घर में आज चोर आने वाले हैं या नहीं तुम सबकी मुसीबतों को टालते हो तो क्या तुम अपनी मुसीबतों को नहीं पता कि आने वाली है या नहीं यह कोई नहीं जान सकता कि कल क्या होने वाला है

 

यह तो भगवान ही जानता है तुम जैसे ढोंगी पंडित नहीं सभी लोगों को बात समझ आ गई और वह उस पंडित के पीछे डंडा लेकर भागने लगे पंडित वहां से ऐसा भागा जैसे की घोड़े के सिर से सींग कोई पंडित  भगवान नहीं होता और ना ही वह ग्रह जानता है कि हमें क्या मुसीबत है हम खुद ही उसके पास जाते हैं और अपनी परेशानी बताते हैं और फिर कहते हैं कि उसे तो सब पता है हमें ऐसे ढोंगी पंडितों से बचना चाहिए.

 

यह कहानी हमे यही बताती है की हमे ऐसे लोगो से बचना चाहिए हमे अपने आप ही सब कुछ पता करना चाहिए जिसके बाद आप हर परेशानी का हल पा सकते है, आपको अपनी परेशानी का हल खुद ही मिल जाता है, free hindi story, famous stories in hindi, famous hindi stories, new kahaniya, ढोंगी पंडित की कहानी, अगर आपको यह कहानी पसंद आयी है तो शेयर जरूर करे.

 

ढोंगी पंडित की दूसरी कहानी : famous stories in hindi

वह ढोंगी पंडित कहता है की अगर कोई भी उस भूत के पेड़ के पास जाएगा तो मुसीबत आ जाएगी, सभी लोग इस बात को जानते थे की भूत के पेड़ से डरावनी आवाज आती है जिससे सभी लोग डरते थे यह ढोंगी पंडित हर महीने पूजा करवाता था जिससे कोई भी भूत गांव की और न आ जये इसलिए सभी लोग डरते थे और ढोंगी पंडित को पैसा देते थे but कोई नहीं जानता था की उस जगह पर कोई भूत नहीं है,

दो हिंदी मोरल कहानी

एक दिन उस गांव में एक आदमी आता है वह पहली बार आया था वह उस गांव में किसी को भी जानता नहीं था इसलिए उसे गांव में कोई भी जगह नहीं मिली थी वह उस भूत के पेड़ को देखता है उस जगह धुप से बचने के लिए बहुत अच्छी छांव आयी थी वह उस जगह पर रुक जाता है उसे कुछ आवाज आती है उस पेड़ पर कोई है, जब वह देखता है की उस पेड़ पर बहुत अधिक पक्षी है जोकि आवाज कर रहे है उसे परेशान भी कर रहे है वह उन्हें उड़ा देता है और आराम करता है कुछ लोग उसे देखते है की एक आदमी भूत के पेड़ के पास आराम कर रहा है

धर्य का परिणाम कहानी

उसे तो कोई भी भूत परेशान नहीं कर रहा है वह सभी उसके पास जाते है उसे पूछते है की तुम यहां पर क्या कर रहे हो यह भूत का पेड़ है यह सुनकर वह आदमी हँसता है कहता है की यहां पर कोई भी भूत नहीं है वह सभी आदमी कहते है की तुम्हे शायद पता नहीं है यह भूत का पेड़ है वह आदमी कहता है की अगर तुम्हे दर लगता है तो में इस पेड़ को ही काट देता दू, वह सभी आदमी सोचते है but वह आदमी उस पेड़ को काटना शुरू करता हैकुछ समय बाद वह पेड़ गिर जाता है

free hindi story, famous stories in hindi, famous hindi stories, new kahaniya

but कोई भी भूत नहीं था वह आदमी कहता है की अब तुम्हे पता चल गया होगा, की कोई भूत नहीं है, वह सभी समझ गए थे की वह ढोंगी पंडित ही सब कुछ करता है वह कहता है की इस पेड़ पर भूत है but यहां पर कोई नहीं है वह भूत को गांव में आने से रोकता है इसलिए सबसे पैसा लेता है अब सभी आदमी उस ढोंगी पंडित के पास जाते है जब उसे भी पता चलता है तो वह भाग जाता है Because वह समझ गए थे उन्हें पता चल गया है उसके बाद कोई भी उस ढोंगी पंडित की बात नहीं सुनता है अगर आपको यह ढोंगी पंडित की दूसरी कहानी पसंद आयी है तो शेयर करे

Read More Hindi story :-

समय अधिक बलवान है

भविष्य की चिंता की कहानी

बारिश अभी नहीं आयी मोरल कहानी

जीवन अच्छे में बदल सकता है हिंदी कहानी

उन दोनों की मदद मोरल कहानी

एक दिन की मेहनत कहानी

मेरे जीवन का निर्णय प्रेरणादायक हिन्दी कहानी

एक बदलाव जीवन को बदल सकता है कहानी

देखने का नजरिया एक हिंदी कहानी

समस्या दूर हुई नयी हिंदी कहानी

जीवन में बदलाव लाये कहानी

निरंतर चलते रहिये प्रेरित कहानी

यह बात कभी न भूले मोरल कहानी

बाते हमेशा याद रहती है मोरल कहानी

धीरे धीरे जीवन ही बदल गया

मेहनत बेकार नहीं जाती

एक अनजान की मदद कहानी

रिक्शेवाले ने मेरी मदद की कहानी

में अब बूढ़ा हो गया हू नयी कहानी

जीवन में सफलता आसान नहीं कहानी

एक सफल आदमी की कहानी

जीवन की सफलता की कहानियां

सही मार्ग कौनसा है हिंदी कहानी

सफलता कुछ ही दूरी पर थी

एक मदद से जीवन सफल कहानी

कामयाबी मिल जाती है कहानी

मेहनत ही जीवन का धन है कहानी

जिंदगी का सबक एक कहानी

बदलते विचार की हिंदी कहानी

मेहनत बेकार नहीं जाती कहानी

जैसे को तैसा हिंदी कहानी

2 thoughts on “ढोंगी पंडित की कहानी, free hindi story

  1. duniahub.ind.in

    यह कहानी बहुत अच्छी है, अगर आप यह कहानी भी पढ़ते है तो आपको यह कहानी भी पसंद आएगी, रिश्ते जाने पहचाने हिंदी कहानी
    Read More- https://www.duniahub.ind.in/stories-hindi/

    Reply
  2. Flirty Status

    Bahut acchi acchi kahaniya share kiye hai aapn ne, thank for entrtain us

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.