धर्य का परिणाम कहानी, Patience moral stories in hindi june july 2019

Patience moral stories in hindi june july 2019

धर्य का परिणाम कहानी, Patience moral stories in hindi june july 2019, शाम को घर पर आया, सभी को देखा सभी के चेहरे पर उदासी नजर आ रही थी, (Patience moral hindi kahani) उस उदासी को देखकर वह भी परेशान हो जाता है वह कुछ दूर पर जाकर बैठ जाता और सोचने लगता है क्योंकि वह जीवन के सभी पहलुओं को समझने में आज भी तैयार नहीं है, (Patience hindi kahani with moral) उसका जीवन हमेशा परेशानी से होकर गुजर रहा है वह इस बात को जानता है जिससे कि उसका परिवार भी परेशानी में ही है.

moral stories.jpg

Patience moral stories in hindi june july 2019

वह अपने परिवार की जरूरतों को पूरा नहीं कर पा रहा है लेकिन वह लगातार कोशिश कर रहा है जिसकी वजह से शायद उसके परिवार को थोड़ा सुख प्राप्त हो जाए लेकिन ऐसा कुछ भी नजर नहीं आ रहा है जिससे कि उसे लगे कि शायद उसके जीवन में कुछ बदलाव हो सकता है मगर वह कोशिश कर रहा है उसकी कोशिश लगातार चल रही है पत्नी उसके पास आती है और कहती है कि तुम आराम करो परेशानी तो हमारे सामने ही रहेंगे इनका समाधान भी धीरे-धीरे हो ही जाएगा

Read More-समय अधिक बलवान है

अपनी पत्नी की बात सुनकर वह थोड़ा शांत हो जाता है लेकिन वह जानता है कि जब तक वह कुछ ऐसा काम नहीं करेगा जिससे परिवार को सभी सुविधाएं प्राप्त ना हो जाए तब तक परेशानी तो जीवन भर चलती ही रहेंगे वह अपने काम से भी परेशान है क्योंकि वह काम भी अच्छा नहीं चल पा रहा है जिसकी वजह से वह हर रोज यही सोचा करता है कि शायद आज उसका जीवन अच्छा बन जाए लेकिन उनके सामने तो समस्या आती ही रहेंगी वह उनका समाधान कैसे कर पाएगा यह बात वह जानता है रात हो गई थी सोने के लिए तैयार था मगर आज उसे नींद नहीं आ रही थी

Read More-भविष्य की चिंता की कहानी

Read More-बारिश अभी नहीं आयी मोरल कहानी

वह लेटा हुआ सोच रहा था कि कल से फिर वही काम होगा जिसमें उसकी मेहनत तो जरूर लगेगी मगर उसकी आमदनी ज्यादा नहीं हो पाएगी हर रोज जंगल में जाया करता है और वहां से अच्छे अच्छे फूल लेकर आया करता है जिसकी माला बनाकर वह मंदिर में बेचता है मगर वह जानता है कि इससे कुछ भी नहीं होने वाला वह मंदिर जाता था तो भगवान के लिए भी अलग से माला बनाकर लेकर जाता था जैसे कि वह खुश हो जाएं मगर उसे लगता था कि ऐसा कुछ भी नहीं होने वाला,

Read More-जीवन अच्छे में बदल सकता है हिंदी कहानी

Read More-उन दोनों की मदद मोरल कहानी

सोचते सोचते सुबह हो गई थी उसे काम पर जाना था वह सुबह उठा और अपने काम पर चला गया वह जंगल की ओर चला जा रहा था और फूलों को तोड़ता हुआ आगे की ओर बढ़ रहा था जिससे कि उनकी मालाएं बनाई जा सके माला बनाने के बाद में उन्हें मंदिर ले जाता था और वहीं पर बेचता था उसमें से एक माला भगवान के लिए अलग से रख देता था, वह मंदिर के अंदर जाता है और फूलों की माला भगवान को चढ़ा देता है और उसके बाद वह अपनी मालाओं को बेचने के लिए बैठ जाता है शाम हो जाती है वह अपने घर की ओर चल देता है क्योंकि उसकी सभी मालाएं बिक जाती है

Read More-एक दिन की मेहनत कहानी

Read More-मेरे जीवन का निर्णय प्रेरणादायक हिन्दी कहानी

Read More-एक बदलाव जीवन को बदल सकता है कहानी

Read More-देखने का नजरिया एक हिंदी कहानी

उसे रास्ते में एक आदमी मिलता है वह उससे बात करने की कोशिश करता है वह रुक जाता और पूछता है कि आप कौन हैं जो मुझसे बात करना चाहते हैं तभी वह आदमी कहता है कि मुझे एक माला की जरूरत है अगर तुम्हारे पास हो तो मुझे दे सकते हो वह आदमी कहता है कि फिलहाल तो मेरे पास कोई माला नहीं है अगर मेरे पास माला होती तो मैं आपको जरूर दे देता अगर आप कल मुझसे मिलना चाहते हैं तो मैं आपके लिए एक अलग माला बनाकर ले आता हूं जैसे कि आपको भी माला मिल सकती है वह आदमी कहता है कि ठीक है मैं कल तुमसे मिलने जरूर आऊंगा और मेरे लिए अलग से माला रख देना जबकि मेरी माला बहुत सारे अलग-अलग फूलों से बनी हुई होनी चाहिए

Read More-समस्या दूर हुई नयी हिंदी कहानी

Read More-जीवन में बदलाव लाये कहानी

Read More-निरंतर चलते रहिये प्रेरित कहानी

वह आदमी कहता है कि ठीक है मैं आपके लिए ऐसे ही एक माला तैयार करके रख लेता हूं शाम हो चुकी थी वह आदमी जंगल की ओर जा रहा था उसे पता था कि उस आदमी को माला की जरूरत है लेकिन उसे अलग-अलग फूलों की जरूरत पड़ेगी इसलिए वह पहले से ही वह फूल लेकर अपने पास रखना चाहता था जब घर पहुंचा तो रात होने वाली थी उसकी पत्नी ने पूछा कि तुम बहुत देर में आए हो कहां पर गए थे तभी उस आदमी ने कहा कि एक आदमी को अलग माला चाहिए थी जो कि मुझे कई तरह के फूलों से तैयार करनी थी इसलिए मैं पहले जंगल की तरफ गया था जिसकी वजह से मैं वह माला बना पाऊं

Read More-यह बात कभी न भूले मोरल कहानी

Read More-बाते हमेशा याद रहती है मोरल कहानी

मुझे यह माला जल्दी ही तैयार करनी होगी क्योंकि वह आदमी मुझसे यह माला सुबह  लेने वाला है इसलिए रात में बैठकर यह माला तैयार करके रख देता हूं जिससे कि मैं उसे सुबह देता हूं उस आदमी ने वह माला तैयार कर ली और अपने पास रख कर सो गया जब सुबह उठा तो वह उसने देखा कि वह माला सोने की माला में बदल चुकी थी इसके बाद पति और पत्नी समझ गए थे कि वह कोई साधारण आदमी नहीं थे हो सकता है भगवान जो हमें यह सूचना दे गए कि हमारे पास अलग-अलग तरह के फूलों की माला होनी चाहिए जिसे मैं लेने आऊंगा सुबह हो चुकी थी लेकिन वह अभी तक भी नहीं आए थे

Read More-धीरे धीरे जीवन ही बदल गया

Read More- मेहनत बेकार नहीं जाती

Read More-एक अनजान की मदद कहानी

Read More-रिक्शेवाले ने मेरी मदद की कहानी

आदमी समझ चुका था कि भगवान ने मुझे दर्शन दिए और मेरी समस्या को दूर करने के लिए उन्होंने ऐसा करने के लिए कहा जिससे कि हमारी परेशानी दूर हो जाए, उस आदमी को भगवान पर पूरा विश्वाश था वह हर रोज फूलो को माला चढ़ाया करता था जिससे भगवान खुश हो जाए और उसकी परेशानी का अंत हो जाए और ऐसा ही हुआ था मगर यह जल्दी ही कुछ ऐसा नहीं हुआ था बल्कि इसमें समय बहुत लग गया था इसलिए धर्य (Patience moral hindi kahaniya) रखना बहुत जरुरी होता है अगर हम कोई कहानी पसंद आए तो आगे भी शेयर करें कमेंट करके हमें बताएं. धर्य का परिणाम कहानी, (Patience moral stories in hindi june july 2019), (Patience hindi kahani with moral) अगर आपको यह कहानी पसंद आई है तो आगे भी शेयर करें कमेंट करके हमें बताएं.

Read More motivational story in hindi :-

Read More-में अब बूढ़ा हो गया हू नयी कहानी

Read More-जीवन में सफलता आसान नहीं कहानी

Read More-एक सफल आदमी की कहानी

Read More-जीवन की सफलता की कहानियां

Read More-सही मार्ग कौनसा है हिंदी कहानी

Read More-सफलता कुछ ही दूरी पर थी

Read More-एक मदद से जीवन सफल कहानी

Read More-कामयाबी मिल जाती है कहानी

Read More-मेहनत ही जीवन का धन है कहानी

Read More-जिंदगी का सबक एक कहानी

Read More-बदलते विचार की हिंदी कहानी

Read More-मेहनत बेकार नहीं जाती कहानी

Read More-जैसे को तैसा हिंदी कहानी

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

error: Content is protected !!