मेरे दोस्त की कहानी, small story in hindi

small story in hindi

मेरे दोस्त की कहानी, (small story in hindi) इस कहानी से पता चलता है की दुनिया में बहुत कुछ अजीब है और जब तक हम देख न ले तब तक यकीन नहीं होता है, यह कहानी आपको पसंद आएगी.

      मेरे दोस्त की कहानी : small story in hindi

यह कहानी मेरे दोस्त की है उसने जब मुझे बताया, तो मुझे भी इस बात पर यकीन नहीं हुआ लेकिन जब उसने कहा कि उसके साथ बहुत अजीब हुआ है तो हमें भी सोचने पर मजबूर होना पड़ा यह बात बहुत साल पहले की बात है वह किसी काम से शहर में गया हुआ था उसका काम 2 दिन में समाप्त हो जाना था इसीलिए वह शहर में 2 दिन के लिए रुक गया था

 

उसी शहर से लगा हुआ कुछ दूरी पर एक गांव था और सभी लोग यह कहते थे कि उस गांव के लोग बहुत ही अच्छे हैं जो भी वहां जाता है उसका बहुत ही वह आदर करते हैं और अच्छी तरह भोजन खिलाते हैं हम यह भी कह सकते हैं कि वहां पर जो भी व्यक्ति जाता है उस गांव की तारीफ किए बगैर नहीं रह सकता था यह बात मेरे दोस्त को जब पता चली तो वह सोचने लगा कि उस गांव को जाकर देखना चाहिए वह गांव उस शहर से लगभग 7 किलोमीटर दूरी पर था

 

जब उस गांव की तरफ गया तो उसे बहुत सारी हरियाली नज़र आए और बहुत सारे बाग-बगीचे भी उसने देखें जब मैं गांव की ओर जा रहा था उसे लग भी नहीं रहा था कि वह कहीं पर चल रहा है क्योंकि वहां सभी जगह इस तरह पेड़ पौधे लगे हुए थे कि चलते हुए भी बहुत अच्छा लग रहा था वह अक्टूबर का महीना था और वह उस गांव की और लगातार बढ़ रहा था कुछ लोग गांव में से शहर की ओर जाते हुए दिखाई दे रहे थे जो भी कोई गांव वाला उनकी ओर जाते हुए देख रहा था सभी लोग उसे नमस्कार किए बगैर आगे नहीं जा रहे थे

Read More-एक राजा की हिंदी कहानी

उसे बहुत अच्छा लग रहा था क्योंकि ऐसे लोग उसे कहां पर मिल पाते हैं वह तो सिर्फ गांव को देखने ही गया था क्योंकि वह उस गांव में किसी को भी नहीं जानता था तभी उसे कुछ लोग खेत में काम करते हुए दिखाई दिए वह मिला और गांव के बारे में पूछा उसे बहुत अच्छा लगा क्योंकि गांव वाले बहुत अच्छी तरह से बात कर रहे थे और इस तरह वह गांव की ओर बढ़ता हुआ जा रहा था जब गांव की ओर जा रहा था तभी रास्ते में एक बूढ़ा आदमी उसे मिला और उस बूढ़े आदमी ने मेरे दोस्त को देखा और कुछ देर देखने के बाद वह बुढा आदमी तेजी से गांव की ओर जाने लगा

 

उस व्यक्ति को देखकर ऐसा लग रहा था कि जैसे उसने कोई भूत देख लिया हो लेकिन मेरे दोस्त को कुछ भी समझ में नहीं आ रहा था वह उस बूढ़े आदमी को रोकना चाह रहा था मगर वह रुके नहीं वह आगे ही बढ़ते रहे मेरा दोस्त यह सोच रहा था कि पता नहीं उन्होंने ऐसा क्या देखा जो आगे की ओर बढ़ने लगे मेरा दोस्त पीछे पीछे जाने लगा तभी कुछ गांव वाले सामने से आते हुए दिखाई दिए वह बूढ़ा आदमी उन गांव वालों से मिला और वैसे गांव वाले वापस चले गए मुझे कुछ भी समझ में नहीं आ रहा था और इसलिए मेरा दोस्त यह सोचने लगा कि अब क्या किया जाए सभी लोग मुझे देख कर भाग रहे हैं

Read More-अद्भुत पेड़ की हिंदी कहानी

मेरे दोस्त को ऐसा लग रहा था कि कहीं मैं भूत जैसा तो दिखाई नहीं दे रहा हूं इसलिए रुक गया और देखने लगा कि मैं सही दिखाई दे रहा हूं या नहीं तभी मेरे दोस्त ने एक आदमी को पकड़ा और पूछा कि वह बाबा मुझे क्यों देख कर भाग रहे थे तब वह उस आदमी ने मेरे दोस्त की ओर देखा और कहने लगे कि तुम्हारी शक्ल उस आदमी जैसी लगती है जो बहुत साल पहले यहां पर रहता था जो वह बूढ़ा तुम्हें दिखाई देखते ही भाग गया था वह उसी का दोस्त था और वह तुम्हें भूत समझ रहा था इसलिए वह भाग निकला मेरे दोस्त को बात समझ में आ गई थी कि मेरी शक्ल का कोई आदमी था जो यहां पर रहता था और आज वह सभी मुझे देखकर इसलिए भाग रहे हैं क्योंकि उन्हें भूत लग रहा है कि मैं वापस आ गया हूं या भूत हूं

 

मेरे दोस्त ने पूछा कि यह गांव और कितना बड़ा है वह आदमी बोला कि यह तो काफी बड़ा है और आपको कहां जाना है मेरा दोस्त बोला कि मैं तो यहां पर गांव को देखने आया था मैं यहां का नहीं हूं मैं तो बाहर से आया हूं मेरे दोस्त ने आदमी से पूछा कि क्या तुम बता सकते हो कि उस आदमी के साथ क्या हुआ था जो मेरी शक्ल का है वह आदमी मेरे दोस्त को अपने घर पर ले गया और कहा कि मैं तुम्हें आराम से बैठ कर बताता हूं कि क्या हुआ था फिर वह आदमी मेरे दोस्त को अपने घर पर लेकर आया क्योंकि मेरा दोस्त काफी थक चुका था इसलिए वह मेरे दोस्त को अपने घर पर ले गया जब दोनों घर पर पहुंच गए तो उस आदमी ने मेरे दोस्त को खाना खिलाया और बैठ कर बातें करने लगे

Read More-आप कैसे हो एक कहानी

उन्होंने बताया कि यह लगभग 20 साल पुरानी बात हो गई वह आदमी उस बूढ़े आदमी का बहुत अच्छा दोस्त था और दोनों ही साथ में मिलकर खेत में काम किया करते थे दोनों दोस्तों की दोस्ती बहुत गहरी थी और बहुत ज्यादा समय भी एक साथ में बिताया करते थे लेकिन अचानक यह बीमार पड़ गया और बीमारी के कारण वह इस दुनिया से चला गया उसके बाद उस बूढ़े आदमी को बहुत दुख हुआ और इस बात को सोच सोच कर परेशान हो गया और बहुत ज्यादा बीमार भी पड़ गया था

Read More-विचित्र हिंदी कहानियां

जब तुम्हें उसने देखा तो वह बहुत ज्यादा डर गया उधर किए ही वह भाग रहा था मेरे दोस्त ने कहा कि मुझे पहले यकीन नहीं होता था कि इस दुनिया में एक शक्ल के दो आदमी हो सकते हैं लेकिन आज मुझे पता चल गया कि एक शक्ल के दो आदमी होते हैं और इस तरह मेरा दोस्त है उस गांव से वापस शहर की ओर आ गया और जब वह मुझसे मिला तो उसने मुझे यह बात बताएं मुझे भी पहले यकीन नहीं हुआ लेकिन जब उसने बहुत अच्छी तरह से बताया कि उसके साथ क्या हुआ तब मुझे भी यकीन हो गया कि इस दुनिया में एक शक्ल के दो आदमी हो सकते हैं

Read More-जादू का भ्रम कहानी

मेरे दोस्त की कहानी, (small story in hindi) अगर आपको भी ये किस्सा पसंद आया हो तो आगे भी जरूर शेयर  करे……

Read More-पुराने दोस्त की कहानी

Read More-सेवा का सही मूल्य हिंदी कहानी

Read More-घर बेचने की हिंदी कहानी

Read More-पानी की समस्या हिंदी कहानी

Read More-परेशानियों का सामना हिंदी कहानी

Read More-एक जोकर की कहानी

Read More-एक पत्रकार की कहानी

Read More-सब कुछ बह जायेगा हिंदी कहानी

Read More-दो मूर्खों की कहानी

Read More-बुद्धि की परीक्षा की कहानी

Read More-माँ के दिल की कहानी 

Read More-आज और कल की कहानी

Read More-अंधे को मिली सजा की कहानी

One Response

  1. Meenu sharma February 6, 2018

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

error: Content is protected !!