तीन मजेदार कहानिया, story for kids in hindi

story for kids in hindi

kids.jpg

तीन मजेदार कहानिया

 

शिक्षा, बच्चो की कहानी 

story for kids in hindi, एक बार की बात है कि गांव में कुएं खोदना के लिए एक व्यक्ति को काम दिया गया उससे कहा गया कि जल्दी ही कुआं खोद लो जिससे सभी लोगों को पानी प्राप्त मात्रा में मिल जाए आदमी ने सोचा कि यह तो काम बहुत समय का है क्योंकि कुएं खोदना के लिए जो गड्ढे चाहिए वह 40 फुट गहरा होना है



एक व्यक्ति को अगर मैं लगाता हूं तो बहुत समय लग जाएगा उसे तो, क्यों ना ऐसा करते हैं कि हम चार व्यक्ति को बुला लाते हैं और चारों तरफ 4 गड्ढे देते हैं जो कि 10 फुट के हो जाएंगे और जल्दी पानी हमें मिल जाएगा अगर एक व्यक्ति करता रहेगा तो काफी समय लग जाएगा




व्यक्ति सोचा ने ऐसा ही करना चाहिए वह चार आदमी को बुलाया है और चारों ने 4 गड्ढे खोल दिए चारो गड्ढे खुद गए तब उसने सोचा कि पानी तो नहीं निकल रहा है तभी वह पर महाजन आ गया कि काम पूरा हो गया

Read More-तेनाली रमन

 इतनी जल्दी पूरा हो गया है 1 दिन में तुमने पूरा कर लिया ऐसा कैसे हो सकता है तो उसने देखा कि यह तो और 4 गड्ढे हुए पड़े हैं जबकि एक ही जगह पर 40 फुट खोदना के बाद ही पानी निकलना था और कहने लगा कि

 

 ऐसा तुमने क्या सोचा कि चार जगह खोदने पर जल्दी पानी आ जाएगा जबकि ऐसा नहीं होता जो भी व्यक्ति एक दिशा में काम करता है तभी वह सफलता प्राप्त कर सकता है चारों दिशाओं में काम करने वाले को कभी भी कोई सफलता हासिल नहीं होती इसलिए सभी परिश्रम करने वाले एक ही दिशा में परिश्रम करें तो उन्हें सफलता निश्चित तौर पर मिलती है

 

 

समय बदलाव, बच्चो की कहानी 

एक बार राजा ने अपने सेनापति से कहा कि मुझे अपने मंत्री पद के लिए एक ऐसा आदमी चाहिए जो दयालु हो और जिसमें प्रेम भाव की पूरी सद्भावनाएं हो और वह लालची भी नहीं हो और सब का भला करने वाला हो मुझे ऐसा व्यक्ति को खोज कर ला कर दो

Read More-stories of tenali raman in hnidi

 सेनापति ऐसे व्यक्ति की तलाश में गया और नगर में काफी खोज करने के बाद उसे एक बहुत ही बड़ा मकान दिखाई दिया जो कि चार मंजिला मकान बना हुआ था और उसका मालिक अपने कंधे पर मछली का जाल पकड़े हुए अंदर जा रहा था सेनापति ने उसे अपने पास बुलाया और पूछा कि तुम्हारे पास जितना अच्छा मकान है

 

 सब कुछ तुम्हारे पास है तुम यह काम क्यों कर रहे हो आदमी ने जवाब दिया कि सबसे पहले मैं यही काम करता था मछली पकड़ कर लाता था और बाजार में उन्हें भेजता था और अपना काम चला था तो धीरे में धनवान हो गया लेकिन आज भी अगर मैं अपने काम को भूल जाता हूं

 

Read More-राजा की सोच कहानी

 तो मैं आलसीपन मेरे अंदर आ जाएगा घमंड मेरे अंदर आ जाएगा चीजें मेरे अंदर उत्पन्न ना हो इसलिए मैं यह काम करता रहता हूं सेनापति ने जब उस आदमी की बात सुनी तो उसने कहा यही शायद वह आदमी है जिसकी तलाश हम कर रहे हैं

 

राजा की सारी शर्तें पूरी करता है यह बहुत ही निर्मल है मन का इच्छा है घमंडी नहीं है हमें इसे ही मंत्री पद के लिए राजा के पास ले जाना चाहिए सेनापति राजा के पास पहुंचा तो वह आदमी के बारे में सब कुछ बताया और

Read More-राजा बीरबल की खिचड़ी

 महाराज ने देखा कि हां हमें ही से मंत्री पद के लिए नियुक्त कर देना चाहिए और राजा ने मंत्री पद के लिए नियुक्त कर दिया कुछ दिनों के बाद जब सेनापति ने देखा कि अब तो यह मछली का जाल भी अपने पास नहीं रखता है और जो कपड़े यह से पहने थे उसने छोड़ दिए हैं अभी अच्छे कपड़े पहनता है और अब से बिल्कुल ऐसे रहता है वैसे ही तुम मंत्री रहता है

 

तब उसने पूछा कि यह बदलाव आपके अंदर कैसे आ गया जब तक तो यह नहीं था जब तक आप अपने वहां पर रहते थे

 

तब उस आदमी ने कहा है कि जब बड़ी मछली फंस चुकी है तो तो छोटी मछली का क्या करें हमें भी अपने स्वभाव में परिवर्तन लाना चाहिए अब हम वह व्यक्ति भी नहीं रहे जो पहले थे

Read More-अकबर और बीरबल

आज हम मंत्री हो गए हैं तो हमें भी वैसे ही डाल लेना चाहिए अपने आप को जैसा कि वास्तव में है मेरे से बहुत से कितने लोग हैं जो वह अपनी पुरानी रणनीतियों पर चलते हैं बदलाव किसके अंदर नहीं आता है

 

लालच, बच्चो की कहानी 

एक बार एक साधु महाराज के पास एक दुर्बल आदमी आता है और उसने महाराज से कहा कि महाराज जी मेरी मदद कीजिए मैं बहुत ही दुर्बल व्यक्ति हूं मेरे पास घर भी नहीं है खाने को अन नहीं है अगर आप मेरी मदद कर देंगे तो मेरा जीवन सफल हो जाएगा

 

साधु महाराज ने उसकी बात सुनी और कुछ देर तक चुप रहे फिर वह वह रोता है और कहां मारा आज मेरी मदद करें रोने लगा साधु महाराज पर उसके ऊपर दया आ गई और अपनी झोली में से एक पारस मणि निकालकर उसके हाथ में दे दी

 

पारस मणि को देते हुए साधु महाराज ने कहा कि जब भी तुमसे किसी लोहे पर स्पर्श कर आओगे तो वही चीज सोने में तब्दील हो जाएगी इससे तो बहुत सारा धन बना लोगे और इसका असर एक हफ्ते तक ही रहेगा, तो इसका इस्तेमाल जल्द से जल्द कर लेना महाराज की बात सुनके और पारस मणि को लेकर अपने घर चला गया

 

 और सोचने लगा कि कहां पर जाऊं कि मैं सबसे सस्ता लोहा खरीदूं और उसके बाद उसको पारस मणि से सोना बना  लूंगा लोहा खरीदने के लिए बाजार में गया फिर उस बाजार में उसे भी थोड़ा लोहा महंगा मिला ऐसे करते हुए दूसरे बाजार में गया वहां पर विशेष सस्ता लोहा नहीं मिला और

 

 इस प्रकार 7 दिन बीत गए जो 7 दिन बीत गए थे उसने एक के जगह से लोहा सस्ता था जो की बहुत ही खरीदा और उसको पारस मणि से छुआ लेकिन पारस मणि ने कोई भी प्रतिक्रिया नहीं दिखाई और वह साधु महाराज जी के पास वापस गया और

 

कहने लगा साधु महाराज जी यह मणि काम नहीं कर रही है और सोना नहीं बन रहा है साधु महाराज जी ने कहा क्या रे मूर्ख तूने इसका सही इस्तेमाल नहीं किया है समय निकलने के बाद अब यह किस काम की इन 7 दिनों में ही तुझे ऐसे करना था जबकि  जिसकी 7 दिन बीत चुके हैं 7 दिन बाद यह मणि काम नहीं करेगी

 

यह तेरी लालच ही तो चाहता था कि थोड़े में ही बहुत ज्यादा ले लूंगा और इस तरह तूने 7 दिन बर्बाद करती है और यह मणि किसी काम की नहीं रही

 

story for kids in hindi, दोस्तो समय रहते अपना काम पूरा कर लेना चाहिए, समय निकल गया तो फिर हम कुछ भी काम नहीं कर पाते हैं समय रहते अगर आपने वह काम कर लिया तो उसका फल भी आपको अच्छा ही मिलेगा तो इसलिए फल अच्छा मिले उसे समय रहते उस काम को पूरा कर लीजिए

Read More-मोटू पतलू और फिल्म शूटिंग

Read More-मोटू पतलू और जादुई फूल

Read More-मोटू पतलू और जादुई टापू

Read More-मोटू पतलू और मिलावटी दूध

Read More-मोटू पतलू और साधू बाबा

Read More-मोटू पतलू और चिराग

Read More-मोटू पतलू और नगर की सफाई

Read More-मोटू-पतलू का सपना

Read More-पेटू पंडित हास्य कहानी

Read More-शेखचिल्ली की कुश्ती

Read More-शेखचिल्ली का मजाक

Read More-शेखचिल्ली की दुकान

Read More-छोटा भीम और जादूगरनी

Read More-छोटा भीम और क्रिकेट मैच

Read More-मोटू और पतलू का जहाज

Read More-मोटू और पतलू के समोसे

Read More-छोटा भीम और नगर में चोर

Read More-छोटा लड़का और डॉग

Leave a Reply

error: Content is protected !!