मोटू और ठण्ड, funny short stories in hindi

Funny short stories in hindi

मोटू और ठण्ड

funny stories.jpg

funny short stories in hindi

ये कहनी मोटू पर आधारित है, क्योकि उसे एक बार गांव का सरपंच बना दिया गया था. गांव वालों ने सोचा कि छोरा पढ़ा लिखा है, समझदार है, अगर ये सरपंच बन गया तो गांव की भलाई के लिए काम करेगा. मौसम बदला, सर्दियों के आने के महीने भर पहले गांव वालों ने मोटू से पूछा सरपंच साहब इस बार ठण्ड कितनी तेज पड़ेगी. मोटू ने गांव वालों से कहा कि मैं आपको कल बताऊंगा. मोटू तुरंत ही शहर की ओर निकल गया.





वहां जाकर मौसम विभाग में पता किया तो मौसम विभाग वाले बोले सरपंच साहब इस बार बहुत तेज ठण्ड पड़ने वाली है. मोटू भी अगले ही दिन गांव में आकर ऐसा ही बोल दिया. गांव वालों को विश्वास था कि अपने सरपंच साहब पढ़े लिखे हैं. शहर से पता करके आये हैं तो सही कह रहे होंगे. गांव वालों की नजर में मोटू की इज्जत और बढ़ गयी. तेज ठण्ड पड़ने की बात सुनकर गांव वालों ने ठण्ड से बचने के लिए लकड़ियां इकट्ठी करनी शुरू कर दी. महीने भर बाद जब सर्दियों का कोई नामोंनिशान नहीं दिखा तो गांव वालों ने मोटू से फिर पूछा. मोटू ने उन्हें फिर दूसरे दिन के लिए टाला, और शहर के मौसम विभाग में पहुंच गया.




मौसम विभाग वाले बोले कि सरपंच साहब आप चिंता मत करो. इस बार सर्दियों के सारे रिकॉर्ड टूट जायेंगे. मोटू ने ऐसा ही गांव में आकर बोल दिया. मोटू की बात सुनकर गांव वाले पागलों की तरह लकड़ियां इकट्ठी करने लग गए. इस तरह 15-20 दिन और बीत गए लेकिन सर्दियों का कोई नामोंनिशान नहीं दिखा. गांव वाले मोटू के पास आये. मोटू फिर मौसम विभाग जा पहुंचा. मौसम विभाग वालों ने फिर वही जवाब दिया कि सरपंच साहब आप देखते जाइये कि ठण्ड क्या जुल्म ढाती है.

Read More-शेखचिल्ली का मजाक

Read More-शेखचिल्ली की कुश्ती

Read More-शेखचिल्ली की तबीयत

मोटू फिर से गांव में आकर ऐसा ही बोल दिया. अब तो गांव वाले सारे काम धंधे छोड़कर सिर्फ लकड़ियां इकट्ठी करने के काम में लग गए. इस तरह 15-20 दिन और बीत गए. लेकिन सर्दियां शुरू नहीं हुईं. गांव वाले मोटू को कोसने लगे. मोटू ने उनसे एक दिन का वक्त और मांगा. मोटू तुरंत मौसम विभाग पहुंचा तो उन्होंने फिर ये जवाब दिया कि सरपंच साहब इस बार सर्दियों के सारे रिकॉर्ड टूटने वाले हैं.

Read More-शेख चिल्ली बना डॉक्टर

Read More-पेटू पंडित हास्य कहानी

Read More-शेखचिल्ली की दुकान

अब मोटू का भी धैर्य जवाब दे गया. मोटू ने पूछा आप इतने विश्वास से कैसे कह सकते हैं. मौसम विभाग वाले बोले कि सरपंच साहब हम पिछले दो एक महीने से देख रहे हैं. पड़ोस के गांव वाले पागलों की तरह लकड़ियां इकट्ठी कर रहे हैं. इसका मतलब ठण्ड बहुत तेज पड़ने वाली है. मोटू वहीं चक्कर खाकर गिर गया. आपको ये मोटू की कहानी किसी लगी , हमे जरूर बताये.

Read More-शेखचिल्ली का डंडा

Read More-शेखचिल्ली का कुआं

Read More Funny Story

Read More-बाबा का शाप हिंदी कहानी

Read More-यादगार सफर

Read More-सब की खातिर एक कहानी

Read More-जादू का किला    

Read More-मेरे जीवन की कहानी

Read More-आखिर क्यों एक कहानी

Read More-मेरा बेटा हिंदी कहानी

Read More-दूल्हा बिकता है एक कहानी

Read More-जादूगर की हिंदी कहानी

Read More-छोटी सी मुलाकात कहानी

Read More-हीरे का व्यापारी

Read More-पंडित के सपने की कहानी

Read More-बिना सोचे विचारे

Read More-जादू की अंगूठी

Read More-गमले वाली बूढ़ी औरत

Read More-छोटी सी बात हिंदी कहानी

Read More-समय जरूर बदलेगा

Read More-सोच का फल कहानी

Read More-निराली पोशाक

Read More-पेड़ और झाड़ी

Read More-राजा और चोर की कहानी

Read More-पत्नी का कहना

Read More-एक किसान

Read More-रेल का डिब्बा

Read More-छोटी सी मदद

Read More-दिल को छूने वाली कहानी

Read More-गुस्सा क्यों

Read More-राजा की सोच कहानी

Read More-हिंदी कहानी एक सच

Read More-दोस्त की सच्ची कहानी

Read More-हिंदी कहानी विवाह

Read more-गांव में बदलाव

Read More-चश्में की हिंदी कहानी

Read More-परीक्षा का परिणाम

Read More-सफल किसान एक कहानी

Read More-एक दूरबीन का राज

Leave a Reply

error: Content is protected !!