मेरा बेटा हिंदी कहानी, kahani hindi story

kahani hindi story

मेरा बेटा हिंदी कहानी

hindi story.jpg

kahani hindi story

kahani hindi story, सब माता पिता यही सोचते है की उनका बेटा बड़ा होकर उनकी सेवा करे और उनका ध्यान रखे, पर ऐसा बहुत ही कम देखने को मिलता है आज का युग भी बदलता ही जा रहा है अब वो सोच भी नहीं रहती है जैसी पहले हुआ करती थी लेकिन आज भी कुछ जगह ऐसा देखने को मिलता है

 

सोनू एक ही लड़का था अपनी माता-पिता और वह अपनी माता पिता से बहुत प्यार भी करता था सोनू की उम्र अभी बारह साल की थी उसके पिता खेती कटे थे और माता भी कबि-कबि उनका खेत में हाथ बटा देती थी छोटा सा परिवार था उनका, एक दिन सोनू के पिता की तबियत खराब हो गयी

गांव में जब वेध ने उसके पिता का इलाज किया तो कुछ नहीं हो पा रहा था जब भी दवाई लेते तो कुछ सुधर हो जाता पर पूरी तरह ठीक नहीं हो पा रहे थे सोनू और उसकी माँ दोनों ही परेशान थे तभी उनके घर पर एक साधू जी आये और उन्हें सब बात बताई तो उन्होंने ने कहा की एक इलाज हो सकता है

Read More-दोस्त की सच्ची कहानी

अगर तुम हिम्मत करो तो सोनू के पिताजी ठीक हो सकते है सोनू ने साधू जी से पूछा की क्या किया जा सकता है साधू ने कहा की यहां से बीस कोस दूर एक पहाड़ी है उस पर एक फूल ऐसा है अगर तुम उसे ले आओ तो उस फूल को पीस कर खिलाने से तुम्हारे पिताजी ठीक हो सकते है

Read More-एक शादी की कहानी

मगर इस बात का ध्यान रखना की उस जंगल में बहुत खतरा है अगर तुम हर खतरे से बच सकते हो तो बताओ तो में तुम्हे रास्ता दिखता हू सोनू ने अपनी पिता को ठीक करने के लिए साधू जी की बात मान ली तब साधू जी ने सोनू को एक ताबीज दिया और कहा की यह तुम्हारी हर तरह से रक्षा करेगा

Read More-विश्वास की कहानी

साधू जी ने सोनू को कहा की जब तुम अपनी पिता जी को वह दवाई खिला डोज तो अगले दिन मेरे पास आ जाना सोनू ने साधू की बात मानकर उस पहाड़ी पर से फूल लेने के लिए चल पड़ा रस्ते में सोनू को बहुत मुस्किलो का सामना करना पड़ा    

Read More-एक दूरबीन का राज

सभी मुस्किलो को दूर करता हुआ सोनू को वह फूल मिल ही गया और वह फूल बहुत ही अलग दिखाई दे रहा था सोनू ने वह फूल थोड़ा और अपनी पास रख लिया फूल लेकर सोनू अपनी घर की और निकल पड़ा कुछ दिन बाद सोनू अपनी घर पर आ गया और जैसा बताया था फूल को पीस कर दवा के रूप में अपनी पिता को दिया और सोनू के पिताजी ठीक हो गए

Read More-मेरे जीवन की कहानी

kahani hindi story, अगले दिन जैसा साधू जी ने बुलया था सोनू और उसके पिताजी साधू जी के पास गए जब साधू जी के पास पहुंचे तो साधू जी ने कहा की आपका बेटा तो बहुत बहादुर है और यह आपकी जीवन भर सेवा करेगा और आपका ध्यान रखेगा, सोनू से वह ताबीज साधू जी ने वापिस ले लिया क्योकि अब उसका काम हो गया था दोस्तों हमे भी सोनू जैसा ही बनना चाहिए अगर आपको यह कहानी पसंद आयी है तो आगे भी शेयर करे और हमे भी बताये 

Read More-आखिर क्यों एक कहानी

Read More-जादूगर की हिंदी कहानी

Read More-छोटी सी मुलाकात कहानी

Read More-हीरे का व्यापारी

Read More-पंडित के सपने की कहानी

Read More-बिना सोचे विचारे

Read More-जादू की अंगूठी

Read More-गमले वाली बूढ़ी औरत

Read More-छोटी सी बात हिंदी कहानी

Read More-समय जरूर बदलेगा

Read More-सोच का फल कहानी

Read More-निराली पोशाक

Read More-पेड़ और झाड़ी

Read More-राजा और चोर की कहानी

Read More-पत्नी का कहना

Read More-एक किसान

Read More-रेल का डिब्बा

Read More-छोटी सी मदद

Read More-दिल को छूने वाली कहानी

Read More-गुस्सा क्यों

Read More-राजा की सोच कहानी

Read More-हिंदी कहानी एक सच

Read More-दोस्त की सच्ची कहानी

Read More-हिंदी कहानी विवाह

Read more-गांव में बदलाव

Read More-चश्में की हिंदी कहानी

Read More-परीक्षा का परिणाम

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

error: Content is protected !!