पेटू पंडित हास्य कहानी, Petu pandit ki hasya kahani

Petu pandit ki hasya kahani | Hindi kahani

 

Petu pandit ki hasya kahani, hindi kahani, एक गांव में जानकीनाथ नाम का एक पंडित रहता था वह गांव में सभी के यहां पूजा पाठ और कथा किया करता था वह खाने का बहुत शौकीन था जिनके घर वह जाता था वहां खूब खाता था और अपने घर के लिए भी बांधकर दो-तीन दिन का खाना ले आता था.

 पेटू पंडित हास्य कहानी : Petu pandit ki hasya kahani

 

hasya kahani.jpg
petu pandit ki hasya kahani,

गांव के ज्यादातर लोग उसे परेशान थे Because तब इतना नहीं दे पाते थे जितना वह मांगता था उसी गांव में गोपाल नाम का एक आदमी रहता था वह बहुत ही होशियार था एक दिन उसने सभी गांव वालों से कहा कि इस पंडित की आदत से सब परेशान हैं, मैं इसे कल अपने घर बुलाता हूं गोपाल ने पेटू पंडित को अपने घर कथा करने के लिए बुलाया पंडित जी ने शाम को खाना ही नहीं खाया

भोजन मोजी जब रहे भूखे

Because कल उसे गोपाल के घर जाना था और वहां पर भरपेट खाना था गोपाल ने अपनी पत्नी से कहा कि चार पांच लोगों का खाना बनाना Because परसो पंडित आ रहे हैं उसकी पत्नी ने बहुत अच्छे-अच्छे पकवान और मीठा बनाया खाने को देखकर पंडित के मुंह में पानी आ गया उसने फटाफट दो-तीन दिन का खाना खा लिया खाना खाने के बाद पंडित अपने घर गया और घर जाकर ना तो उससे लेटा गया ना ही बैठा गया

शेख चिल्ली और उसकी पत्नी

Petu pandit ki hasya kahani, उसके पेट में ऐसे लगा जैसे पता नहीं क्या भर गया हो गया डॉक्टर के पास गया उसे दवाई दी और कहा अब तुम घर जाकर आराम करो पंडित ने कहा डॉक्टर साहब किसी चीज से परहेज तो नहीं करना है हां एक बात का जरूर ध्यान रखना अब तुम शंख ज्यादा तेज मत बजाना तो फिर तुम पूजा करने के लायक भी नहीं रहोगे.

धन का लालच हिंदी कहानी 

 

Hindi kahani, एक आदमी सोचता है की मुझे बहुत सारा धन मिल जाये तो उसे कभी भी जाने नहीं दूंगा मगर यह कैसे होगा, कुछ भी समझ नहीं आता है सोचता हु की इस बारे में मुझे पता लगाना होगा की मुझे अधिक धन कैसे मिल सकता है, वह दूसरे आदमी के पास जाता है उससे कहता है की मुझे अधिक धन चाहिए वह कैसे मिल सकता है, वह कहता है की मुझे पता नहीं है but एक बात है अगर तुम साधू जी के पास जाते हो तो वह तुम्हे रास्ता बता सकते है वह पहाड़ी पर रहते है, “Hindi kahani”

शेखचिल्ली का डंडा

वह आदमी कहता है की यह पहाड़ी तो बहुत अधिक ऊंची हो सकती है, इस पर चढ़ना तो बहुत मुश्किल हो सकता है but धन चाहिए तो यह करना ही होगा, वह बहुत मुश्किल से पहाड़ी पर जाता है वही पर साधु जी तपस्या कर रहे थे, वह आदमी कहता है की मुझे धन चाहिए, यह सुनकर साधू जी कहते है की तुम कौन हो जो धन की मांग कर रहा है वह आदमी कहता है की मुझे बहुत सारा धन चाहिए, वह साधु जी कहते है की उसके लिए तो तुम्हे मेहनत करनी चाहिए, तभी तुम्हे धन मिल सकता है, यह सुनकर वह आदमी कहता है की आप मुझे बताये की क्या करना है

शेखचिल्ली का कुआं

साधु जी कहते है की अगर तुम एक काम कर दो तो में तुम्हे बता सकता हु की तुम्हे धन कैसे मिल सकता है वह आदमी कहता है की मुझे जल्दी बताओ की मुझे क्या करना है साधु जी कहते है की यह मुर्गी यह पिजरे से बाहर है तुम्हे इसे पकड़ना है यह छोटा सा काम है अगर तुम यह कर दो तो तुम्हे बहुत अधिक धन मिलेगा आदमी कहता है की आप धन को तैयार रखे में इसे पकड़ सकता हु, बहुत समय बाद भी वह मुर्गी पकड़ी नहीं गयी थी,

Petu pandit ki hasya kahani | Hindi kahani

वह आदमी परेशान हो जाता है, सोचता है की यह मुर्गी पकड़ना आसान नहीं है जितना मुझे लग रहा था यह उससे बहुत अधिक मुश्किल है, जब वह आदमी थक गया तो साधु जी ने कहा की कोई भी काम आसान नहीं होता है धन को पाना आसान नहीं है उसके लिए मेहनत करनी होगी, यह सुनकर वह आदमी कहता है की मुझे अब धन नहीं चाहिए उसके बाद वह घर चला जाता है,

Read More Hindi story :-

शेख चिल्ली और एक आदमी की कहानी

शेख चिल्ली और तलाक की कहानी

शेखचिल्ली का मजाक

शेखचिल्ली की कुश्ती

शेखचिल्ली की तबीयत

शेख चिल्ली और एक आदमी की कहानी

शेख चिल्ली बना डॉक्टर

शेख चिल्ली और तलाक की कहानी

शेखचिल्ली की दुकान

ताऊ जी के डंडे की कहानी

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

error: Content is protected !!