एक नेक काम, Best kahaniya in hindi with moral

Best kahaniya in hindi with moral

एक नेक काम मोरल कहानी

moral stories.jpg

moral stories in hindi

moral stories in hindi, मुझे नहीं पता था की वो लड़का कहा से आया था, अगर उस लड़के जैसे विचार हर कोई अपना लेता तो आज हम बहुत कुछ कर सकते थे, लेकिन आज का हर आदमी तो अपने जीवन में ही बिजी है, उसके पास समय तो नहीं है, लेकिन कुछ देर रुक कर हम सोच तो सकते ही है की हम क्या कर रहे है, क्या हम सब सही है, क्या हमे कुछ करना चाहिए, शायद आप सोच रहे है की हम क्या बात कर रहे है, जिसके बारे में सोचना चाहिए,





हम उस लड़के नरेश की बात कर रहे है, जिसने अपना हर काम बहुत ही अच्छे से किया था, शायद कोई करता या न करता इस बात का पता तो मोके पर ही chalta है उस दिन यह हुआ था, नरेश अपने कॉलेज जा रहा था, आज उसका सेमिस्टर टेस्ट था, उसे पहले ही कॉलेज जाने में देर हो चुकी थी, आज बस भी बहुत देर से आयी थी, वह काफी देर से बस का इंतज़ार कर रहा था, जब बस आयी नरेश बस में चढ़ गया था,




उसका कॉलेज एक घंटे की दुरी पर था बस थोड़ी देरी से आयी थी, लेकिन इतना समय था की वह कॉलेज पहुंच सकता था, वह अपनी सीट पर बैठा और बस चल दी, अभी आधा घंटा ही हुआ था, बस एक सिग्नल पर रुकी हुई थी, नरेश ने अपनी खिड़की में से देखा तो एक छोटी बच्ची अपने हाथ में फूल लेकर बेचने निकली थी, शायद वह हर रोज फूलो को बेचा करती थी, इतनी कम उम्र भी काम करना अच्छा नहीं लगता है, नरेश को यह अच्छा नहीं लग रहा था, 

Read More-परीक्षा का परिणाम

Read More-सफल किसान एक कहानी

Read More-एक दूरबीन का राज

तभी एक मोटर सायकिल बहुत तेजी से आयी और उस छोटी बच्ची को उसने गिरा दिया था, नरेश बस में से उतरा और उसे लेकर किसीडॉकटर के पास गया, उस बच्ची को ज्यादा चोट तो नहीं आयी थी, पर उसके हाथ में काफी चोट थी, वह रो रही थी, नरेश अब उसके हाथ में दवाई लगवा रहा था, उस छोटी सी बच्ची से नरेश ने पूछा की तुम कहा रहती हो, उसने बताया की वह मंदिर के पास रहती है, और यह फूल मंदिर ले जा रही थी,

Read More-हिंदी कहानी विवाह

Read more-गांव में बदलाव

Read More-चश्में की हिंदी कहानी

नरेश उसे उसके घर पर छोड़ने आया गया और उसके माता-पिता को कहा की तुम इस छोटी सी बच्ची से काम करवाते हो, वह एक गरीब परिवार था और फूलो को बेचकर ही अपना घर चला रहा था, वो लड़की फूलो को बेचने के लिए मंदिर जा रही थी, घर का हर आदमी काम करता था, नरेश ने कहा की तुम्हे इससे बहार के काम नहीं करवाने चाहिए, क्योकि आज देखो इसके चोट आयी है, नरेश आज अपना एक्साम ही भूल गया था, उसे तो सिर्फ यही याद था की बच्ची को चोट आ गयी थी, आज उसका एक्साम छूट गया था, जब वह कॉलेज पहुंचा तो काफी देर हो चुकी थी,

Read More-राजा की सोच कहानी

Read More-हिंदी कहानी एक सच

Read More-दोस्त की सच्ची कहानी

आपको क्या लगता है, की हम अपने काम को छोड़कर उस बच्ची की मदद करते, शायद नहीं, क्योकि आज हर वयक्ति अपने काम को पहले देखता है, क्योकि उसके पास समय नहीं है, वो सिर्फ अपने लिए ही जी रहा है, पर हमे यह सोचना चाहिए की हम इंसान है हमे एक दूसरे की मदद करनी चाहिए, काम तो हम रोज ही करते है, पर एक दिन जब किसी को आपकी ज़रूरत होगी तो आप उसकी मदद जरूर करियेगा, शायद हमारा एक नेक काम कुछ मुसीबत को कम करदे, अगर आपको यह कहानी पसंद आयी है तो आगे भी शेयर करे और हमे भी बताये,    

Read More-सच्ची मोरल कहानी

Read More-छोटी सी मदद

Read More-दिल को छूने वाली कहानी

Read More-गुस्सा क्यों

Read More-सोच का फल कहानी

Read More-निराली पोशाक

Read More-पेड़ और झाड़ी

Read More-राजा और चोर की कहानी

Read More-पत्नी का कहना

Read More-एक किसान

Read More-रेल का डिब्बा

Read More-मेहमान आया

Read More-असली दोस्ती क्या है

Read More-एक अच्छी छोटी कहानी

Read More-नरेश की शादी हिंदी कहानी

Read More-यादगार सफर

Read More-सब की खातिर एक कहानी

Read More-जादू का किला    

Read More-मेरे जीवन की कहानी

Read More-आखिर क्यों एक कहानी

Read More-मेरा बेटा हिंदी कहानी

Read More-दूल्हा बिकता है एक कहानी

Read More-जादूगर की हिंदी कहानी

Read More-छोटी सी मुलाकात कहानी

Read More-हीरे का व्यापारी

Read More-पंडित के सपने की कहानी

Read More-बिना सोचे विचारे

Read More-जादू की अंगूठी

Read More-गमले वाली बूढ़ी औरत

Read More-छोटी सी बात हिंदी कहानी

Read More-समय जरूर बदलेगा

Leave a Reply

error: Content is protected !!