मुश्किलों से भरा सफर की कहानी, hindi story

Hindi Story

मुश्किलों से भरा सफर की कहानी, hindi story, hindi kahani, kahaniya, hindi stories, तुम्हारे बाबा अभी तक भी नहीं आये है, तुम ऐसा करोगे अपने बाबा को ढूंढ कर लेकर आओ क्योंकि मुझे ऐसा लगता है कि उन्हें अभी तक आ जाना चाहिए था.

मुश्किलों से भरा सफर की कहानी :  hindi story

hindi story.jpg

hindi story

लेकिन अभी तक नहीं आए हैं लड़के ने पूछा कि मा पिताजी कहां पर काम करते हैं माता ने बताया कि तुम्हारे पिताजी दूसरे नगर में काम करते हैं और यहां पर बहुत ही कम आते हैं लेकिन वह हर महीने में एक बार जरूर आते हैं लेकिन इस महीने में वह अभी तक भी नहीं आये है जबकि उन्हें आ जाना चाहिए था मुझे तो उनके बारे में बहुत चिंता हो रही है तुम ऐसा करो कि दूसरे नगर में जाकर उन्हें खोज कर लेकर आओ कि पता नहीं वह किसी समस्या में तो नहीं पड़ गए लड़के की उम्र अभी 15 साल की हो गई थी लड़के ने अपनी माता से उस जगह का पता पूछा है जिस जगह पर उसके पिताजी काम करते थे उसके बाद माता ने उस जगह का पता लिखकर दिया और कहा कि तुम्हारे पिताजी यही पर काम करते हैं तुम्हें यहीं पर जाना है और उनके बारे में पता करना है उन्हें अभी तक आ जाना चाहिए था या तो उन्हें कोई समस्या आ गई है या वह भी नहीं आना चाहते

 

बात कुछ भी हो लेकिन उनसे मिलकर खैरियत के बारे में जरूर जानकर मुझे बताना तभी लड़का उस जगह के लिए निकल जाता है लड़के को जगह पर पहुंचने में 2 दिन का समय लगने वाला था क्योंकि वह नगर ज्यादा दूरी पर पड़ता था इसलिए पिताजी हर रोज नहीं आ सकते थे उन्हें आने में 2 दिन का समय लगता था इसीलिए महीने में एक बार जरूर आते थे लड़के ने अपने साथ सभी जरूरी सामान रख लिए क्योंकि 2 दिन का सफर उन्हें तय करना था लड़के अपने साथ सारा सामान लेकर सफर पर निकल गया था लड़के ने सफर के लिए एक बैलगाड़ी का प्रयोग किया था वह बैलगाड़ी उस नगर में जाया करते थे और 2 दिन का वक्त लगा देती थी उसी बैलगाड़ी में वह बैठ गया और उस नगर की ओर जाने लगा

Read More-जीवन में बदले विचार की कहानी

यह सफर आसान नहीं था बैलगाड़ी बहुत धीरे-धीरे चलते थे जिसकी वजह से लड़का परेशान हो रहा था उसे पता था कि मुझे अभी 2 दिन का समय लगना है इसलिए वह यही सोच रहा था कि अगर कोई और साधन मिल जाता तो बहुत अच्छा होता लेकिन मेरे पास इतना धन नहीं है जिसकी वजह से मैं दूसरे साधन को बदल सकूं मुझे तो बैलगाड़ी से ही जाना होगा इसलिए वह उस पर बैठकर और अपने सफर पर निकल गया जब लड़का अपने बाबा की तलाश में निकल चुका था तभी बैलगाड़ी कुछ ही दूरी पर पहुंची थी और पहुंचने के बाद उस बैलगाड़ी में एक लड़की को भी जगह मिल गयी थी लड़का उसे नहीं जानता था क्योंकि उससे अनजान था वह भी उसी बैल गाड़ी में बैठ गई थी और दोनों सफर के लिए निकल गए थे

 

वह लड़की भी उसी नगर में जा रही थी लेकिन उसे कुछ और काम था जिसकी वजह से उसके वहां पर जाना पड़ा था यह बात लड़का बिल्कुल भी नहीं जानता था लड़के ने सोचा कि इस तरह तो सफ़र में काफी बोरियत हो रही है और सामने बैठी लड़की से भी बात करने लगा और पूछने लगा कि तुम कहां पर जा रही हो लड़की ने बताया कि मैं उस नगर में जा रही हूं हम लोग मिट्टी के बर्तन बनाते हैं और उस नगर में बेचते हैं लेकिन इस बार माता मिट्टी के बर्तन लेकर गई थी लेकिन अभी तक वही वह वापस नहीं आई मुझे उनकी चिंता हो रही है इसलिए मैं उनकी खोज में जा रही हूं लड़के ने कहा कि मैं अपने पिताजी की खोज में जा रहा हूं अभी तक भी घर नहीं आए हैं लेकिन मैंने नगर कभी नहीं देखा है

 

क्या तुमने वह नगर देखा लड़की ने बताया कि वह कई बार जा चुकी है वह नगर बहुत ही भीड़ वाला है उस नगर में बहुत दूर-दूर से आदमी आते हैं क्योंकि वहां पर सभी तरह के सामान मिल जाते हैं वह एक तरह का बाजार हो सकता है क्योंकि वहां पर सभी तरह के सामान मिलते हैं दूर-दूर से व्यापारी वहां पर अपने सामान को बेचने के लिए आते हैं हम लोग भी मिट्टी के बर्तन बनाते हैं और उस नगर में बेचते हैं और यही काम हम लोग करते हैं लड़की ने पूछा कि तुम क्या काम करते हो लड़के ने कहा कि मैं कुछ नहीं करता मेरे पिताजी वहां पर एक व्यापारी हैं और वहीं पर ही उनकी दुकान है लेकिन कुछ दिनों से वापस नहीं आए हैं इसलिए मैं उन्हें वापस बुलाने के लिए ले लेने जा रहा हूं

Read More-अधूरी कल्पना की कहानी

Read More-सच्चाई कितनी है एक कहानी

लेकिन मुझे नहीं पता है वह कहां पर रहते लड़की ने कहा कि इस बात की चिंता करने की जरूरत नहीं है भले ही वह बाजार बहुत बड़ा हो लेकिन हम आसानी से ढूंढ सकते हैं क्योंकि वह बाजार मैंने देखा हुआ है लड़के को कोई भी परेशानी नहीं होने वाले थे क्योंकि लड़की उसके साथ थी और वह उस बाजार के बारे में अच्छी तरह से जानती थी अभी उन्हें उस बाजार की ओर जाने में काफी समय लगने वाला है इसलिए वह दोनों बातें करते हुए उसी ओर जा रहे थे बाजार आ चुका था और जब लड़के ने देखा वह बाजार तो बहुत बड़ा नजर आ रहा है यहां पर तो कोई भी आकर आराम से परेशान हो सकता है क्योंकि यहां तो कुछ भी समझ में नहीं आ रहा चारों और बहुत ज्यादा लोग संख्या में घूम रहे हैं

 

लड़के ने ऐसा बाजार कभी नहीं देखा था लड़के ने कहा कि यह बाजार इसलिए बड़ा है क्योंकि यहां पर दूर-दूर से व्यापारी आते हैं और वह इतना सारा सामान यहां पर ले कर आते हैं जिससे वे उसे आसानी से बेच सकें इससे बड़ा बाजार कहीं भी नहीं है लड़के के पास पता था इसलिए लड़के ने कहा कि मैं अपने पिताजी की खोज में आगे जाता हूं तुम मुझे इसी दुकान पर मिलना लड़की ने कहा कि ठीक है मैं अपनी माता की खोज में जाती हूं और इसी जगह पर हम दोनों मिलेंगे फिर यहीं से वापस जाएंगे लड़के ने कहा ठीक है अब मैं अपने पिताजी की खोज में जाता हूं कुछ देर के बाद लड़का उस दुकान पर पहुंच गया था जिस जगह पर उसे जाना था और अपने पिताजी की खोज करनी थी वह लड़का उस दुकान पर पहुंच गया था

 

लेकिन वह दुकान बंद थी उसे कुछ भी समझ में नहीं आ रहा है कि पिताजी घर पर भी नहीं पहुंचे और यहां पर भी दुकान बंद है उसने अपने पड़ोसी से पूछा कि यह दुकान कब से बंद है दुकान के पड़ोसी ने बताया कि यह दुकान पिछले हफ्ते से बंद है क्योंकि इस दुकान के मालिक को राजा ने पकड़ लिया है कुछ दिन पहले की बात है राजा ने इस दुकान के मालिक को पकड़ने के लिए कुछ सैनिक भेजे थे लड़के को कुछ भी समझ में नहीं आ रहा था कि यह क्या हो रहा है राजा ने पिताजी को क्यों पकड़ लिया है तभी लड़के ने पूछा कि वह क्यों पकड़े गए हैं वह दुकानदार कहने लगा कि उन्होंने एक ऐसा सामान उन्हें भेजा था जो कुछ दिन बाद ही टूट गया राजा को यह बात पसंद नहीं आई राजा ने अपने सैनिकों को वहां पर भेजा और दुकानदारों को पकड़ने के लिए कहा गया और कुछ दिन पहले ही सैनिक उन्हें पकड़ कर ले गए

Read More hindi story-काम की सफतला हिंदी कहानी

Read More hindi story-यह छोटा रास्ता है कहानी

लेकिन तुम यह सब क्यों पूछ रहे हो लड़के ने बताया कि मैं उनका लड़का हूं और पिताजी का इंतजार कर रहा था लेकिन वह अभी तक भी घर नहीं पहुंचे थे इसी वजह से मैं यहां पर खोजने के लिए होने आया हूं तभी दुकानदार कहने लगा कि तुम बाहर क्यों खड़े हो तुम अंदर आ जाओ वह लड़का अंदर आ जाता है और पूछता है कि अब क्या किया जा सकता है हम अपने पिताजी को कैसे छुड़ा सकते हैं तभी दुकानदार ने कहा कि राजा ने उन्हें कुछ दिन की सजा दी है या तो सजा पूरी होने के बाद वह अपने आप वापस आ जाएंगे अगर तुम चाहते हो उन्हें छुड़ाया जाए तो उसके लिए तुम्हें बहुत सारा धन होने देना होगा लड़के के पास ज्यादा धन नहीं था इसलिए दुकानदार ने कहा है कि हमें एक ऐसी योजना बनानी चाहिए जिससे कि तुम्हारे पिताजी को छुड़ाया जा सके

 

हमें कुछ सैनिकों को कुछ धन देना होगा जिससे कि हम वहां पर पहुंच जाएं और उन्हें छुड़ा सकते हैं लड़के को अब कुछ भी समझ में नहीं आ रहा था क्योंकि वह तो सोच रहा था कि पिताजी यहीं पर होंगे लेकिन पिताजी को राजा ने पकड़ लिया है अब वह क्या करें कुछ भी तो रास्ता नजर नहीं आ रहा था वह लड़का उस दुकानदार वाले से पूछता है कि हम अपने पिताजी को कैसे बचा सकते हैं आप कोई दूसरा रास्ता खोजे जिससे हमारे पास पिताजी आ सके उस दुकानदार ने कहा कि देखो अगर हम सैनिकों को धन देते हैं तो वह  पिताजी को छुड़ा सकते हैं लड़के ने पूछा कि सैनिक कैसे यह काम कर पाएंगे मुझे तो कुछ समझ में नहीं आ रहा यहां का राजा अच्छा नहीं है वह सभी पर जुल्म करता है और सभी को परेशान करता है और छोटी-छोटी बातों पर नाराज हो जाता है

 

जिसकी वजह से वह किसी को भी सजा दे सकता है यहां के राजा ने एक नियम बना रखा है कि जिसे भी सजा मिलेगी हफ्ते में एक बार उन सभी को एक जगह पर लाया जाएगा और उन से काम लिया जाएगा जिससे उनकी सजा को और ज्यादा परेशानी से भर दिया जाए और उन्हें समझ में आ जाएगा कि आगे से वह ऐसा ना कर सकें अगर हम सैनिकों को धन दे देते हैं तो इसे सैनिक उन्हें भगाने में मदद कर सकते हैं जब भी उन्हें वहां पर लाया जाएगा तभी उन्हें छुड़ाया जा सकता है हमें एक ऐसी योजना तैयार करनी होगी जिसकी वजह से तुम्हारे पिताजी घर वापस आ सकते है लड़का अभी इस बात पर विचार कर रहा था तभी उसे याद आया कि वह लड़की के साथ आया था उसका इंतजार कर रही होगी इसलिए लड़का कहता है कि मैं अभी कुछ देर बाद आता हूं

 

मैंने किसी से मिलने का वादा किया था वह मेरा इंतजार कर रहा होगा दुकानदार वाले ने कहा कि ठीक है तुम जल्दी आ जाओ हम फिर इस बारे में बात करते हैं लड़का तो जगह पर जाता है जहां पर लड़की ने उससे मिलने के लिए कहा था कुछ देर इंतजार करता है वह लड़की अपनी माता के साथ आती है तभी लड़का पूछता है कि यह सब खैरियत से हैं तभी वह लड़की कहती है कि माता को किसी परेशानी से गुजरना पड़ा था जिसकी वजह से वह घर पर नहीं आ पाई थी वह मेरे साथ हैं और तुम्हारे पिताजी कहां पर है तभी लड़के ने बताया कि उन्हें राजा ने पकड़ लिया है अब हमें उन्हें छुड़ाने के लिए कोई योजना बनानी होगी नहीं तो राजा उन्हें लंबी सजा से मुक्त करने में काफी समय लगा देगा

 

लड़की ने कहा कि अगर तुम्हारे पास कोई भी योजना है तो मैं उसमें तुम्हारी मदद कर सकती हूं तभी लड़के ने बताया कि उन्हें हर हफ्ते काम पर लाया जाता है और ऐसी जगह पर सभी लोग काम करते हैं लेकिन हमें वहां पर ध्यान से पहुंचना होगा और उन्हें छुड़ाने के लिए कोई योजना बनानी होगी लड़की की मां का ने कहा कि मैं घर निकलती हूं तुम इस लड़के की मदद करके घर वापस आ जाना और उसके बाद लड़का और लड़की दोनों दुकानदार वाले के पास जाते हैं और इस बारे में बात करते हैं

Read More hindi story-जीवन में बदलाव नयी कहानी

Read More hindi story-गरीब का हिस्सा हिंदी कहानी

दुकानदार कहता है की अब रात हो गई है अब तो घर पहुंच सोना चाहिए उसके बाद हमें वही पर किसी योजना पर काम करना चाहिए अगली सुबह हमें जल्दी उठना है क्योंकि कल सुबह तुम्हारे पिताजी को जगह पर लाया जाएगा जैसे कि काम होता है सुबह हो चुकी थी तीनों उठ चुके थे और उन्हें अब उस जगह पर जाना था जहां पर उसके पिताजी काम कर रहे थे तभी तीनों जगह पर जाते हैं और देखते हैं कि वहां पर तो बहुत सारे लोग काम कर रहे हैं लड़का कहता है कि यहां पर तो बहुत सारे सैनिक है और इन सैनिक से बचकर अपने पिताजी को निकालना बहुत मुश्किल नजर आ रहा है दुकानदार वाला कहता है कि हमें योजना तो बनानी होगी नहीं तो इस समस्या से कैसे निकल पाएंगे लड़के ने कहा कि हमें और सोच विचार करना होगा इतने सारे लोगों के बीच से आसानी से अपने पिताजी को निकालना कोई आसान काम नहीं है

 

लड़की ने भी सब कुछ देख लिया था और कह रही थी कि अगर तुम अपने पिताजी को यहीं से निकालना चाहते हो तो इसमें मैं तुम्हारी मदद कर सकती हूं जिसकी वजह से तुम्हारे पिताजी आसानी से यहां से निकल सकते हैं उसकी बात सुनकर दोनों ही सोच में पड़ जाते हैं लड़की पूछती है कि यह यहां पर कब तक काम करते रहेंगे दुकानदार कहता है कि यह सुबह से लेकर रात तक यहां पर काम करेंगे और अगली सुबह यहां से चले जाएंगे और उसके बाद अगले हफ्ते ही इन्हें यहां पर लाया जाएगा अब लड़की की समझ में आ गया था कि उसे क्या करना है उसने कहा कि जो भी काम हमें करना है वह हर रात के समय में ही करना होगा दिन के समय में यहां पर कुछ भी नहीं हो सकता अगर हम रात को यह काम करते हैं तो शायद हम इसे पूरा कर सकते हैं

 

मगर लड़का पूछता कि तुम्हारे पास कोई योजना है जिसके तहत हम काम कर सकते हैं लड़की ने कहा कि हमें योजना बनानी होगी और हमारे पास पूरा दिन है योजना बनाने के लिए जिसकी वजह से हम तुम्हारे पिताजी को यहां से बाहर निकाल सकते हैं दुकानदार कहता है कि ठीक है हम यहीं पर रुकते हैं और इस बारे में पूरी योजना बनाते हैं जिससे कि हम उसी योजना पर रात में काम कर सके और तुम्हारे पिताजी को बाहर निकाल सकें वह तीनों योजना बना रहे थे क्योंकि उसी योजना के तहत उन्हें काम करना था पूरे दिन भर वही योजना बनाते रहे और उन्हें एक योजना पर काम करने के लिए सही तरीका समझ में आ गया था

Read More-लड़के का सपना हिंदी कहानी

Read More-समय बदल सकता है कहानी

लड़की ने बताया कि हमें एक ऐसा वस्त्र चाहिए जो सैनिकों ने पहना है अगर यह वस्त्र मिल जाता है तो लड़के को पहना कर सैनिक के रूप में वहां पर जा सकता है और उन्हें वहां से लेकर आ सकता है दुकानदार वाला भी समझ गया था कि अगर लड़का वस्त्र पहन कर जाता है और सैनिक जैसा नजर आता है तो इससे वह इस पर शक भी नहीं करेंगे और उसे वह आसानी से वहां से लेकर आ सकते हैं दुकानदार कहता है कि तुम यहीं पर रुको और इस बारे में सोचो मैं सैनिक का वस्त्र लेकर आता हूं और जिसके बाद हमें इस योजना को पूरा होते हुए देखने में बहुत अच्छा प्रतीत हो सकता है उसके बाद दुकानदार चला जाता है लड़का और लड़की दोनों बातें करते हैं लड़का कहता है कि तुम्हारी योजना काम कर जाए यह बहुत अच्छी बात है जिससे मेरे पिताजी इस जगह से बाहर आ सकते हैं

 

लड़की ने कहा कि आप चिंता ना करें आपके पिताजी जल्दी इस जगह से निकल जाएंगे अगर हमारी योजना कामयाब हो गई तो कोई परेशानी नहीं हो सकती उधर दुकानदार सैनिक का वस्त्र लाने के लिए पूरी तैयारी कर रहा था और उसे कुछ वस्त्र मिल भी गया था जो कि सैनिक जैसा ही नजर आ रहा था उसके बाद दुकानदार वस्त्र को लेकर उन दोनों के पास आ रहा था दुकानदार को उस लड़के के पिताजी के बहुत ही अच्छे दोस्त है जिसकी वजह से मैं उनकी मदद करने के लिए हमेशा तैयार रहता था वह जानता था कि राजा बहुत ही क्रोधित हो जाते हैं और वह किसी भी गलत फैसले पर जल्दी चले जाते हैं और उनका निर्णय भी गलत ही होता है इसलिए उन दोनों की मदद कर रहा था जिसकी वजह से उसके पिताजी उस जगह से बाहर आ सकते थे

 

उधर लड़का इंतजार कर रहा था कि दुकानदार अभी आया नहीं है और हमें और भी योजना पर काम कर रहे हैं रात को हमें यह भी जगह देखने की किस जगह पर वह हमारे पिताजी को रखते हैं जिससे कि हम उन पर नजर रख पाएं दिन भर में लड़का अपने पिताजी को देखकर समझ में आ गया था कि यह काम बहुत ही कठिन है इसलिए राजा इस काम को सभी से करवाते हैं लेकिन अब काम को नहीं करेंगे हम जल्दी पिताजी को लेकर यहां से चले जाएंगे लड़की ने कहा हमें दिन भर तुम्हारे पिता जी पर नज़र रखनी होगी कि उन्हें किस जगह पर रखा जाएगा तभी हम रात में उस जगह पर जा सकते हैं और उन्हें छुड़ा सकते हैं दोनों ने उन पर नजर रखी जिससे कि उस जगह का पता है चल पाए

Read More hindi story :- पत्नी की चिंता नयी कहानी

Read More hindi story :- कबीले के सरदार की कहानी

कुछ देर बाद ही दुकानदार आता है और कहता है कि मुझे सैनिक के वस्त्र मिल गया है जो कि सैनिक जैसा दिखाई देता है तुम इसे पहन के सैनिक जैसे लगोगे और आराम से अंदर जा सकते हो शाम हो चुकी थी और उन्होंने पूरी तरह से योजना बना ली थी और पिताजी पर भी नजर रखे हुए थे कि उन्हें कहां पर रखा जाएगा रात होने में भी थोड़ा सा समय बाकी था लड़के ने वस्त्र पहन लिए थे और सैनिक जैसा नजर आ रहा था अब वह उस जगह पर जाने के लिए बिल्कुल तैयार था जैसे ही अंधेरा होगा वह लड़का उस जगह पर चला जाएगा लड़की ने कहा कि मैं भी तुम्हारे साथ में जाऊंगी और अगर किसी को भी शक होता है तो हम उसे वहीं पर रोक सकते हैं जिससे कि हमारी योजना में कोई भी बाधा नहीं आएगी लड़का समझ गया था लड़का सैनिक जैसा दिखाई दे रहा था वह लड़की भी उसके साथ जाने को तैयार थी अब अंधेरा हो चुका था वह निकल चुके थे उन्हें अपनी योजना को पूरे होते हुए देख बहुत अच्छा लग रहा था

 

उन्हें लग रहा था कि अब हम कामयाब हो जाएंगे तभी वह सैनिक के बीच में पहुंच गए थे और धीरे-धीरे अंदर की ओर जा रहे थे जिससे कि मैं अपने पिताजी की खोज कर पाए लड़की भी लड़के जैसा रूप बनाकर उस लड़के के साथ अंदर जा रही थी तभी सामने से एक सैनिक आया और उसने पूछा कि तुम्हारे साथ यह कौन है जो अंदर जा रहा है लड़के ने कहा कि यह भी एक सजा काट रहा व्यक्ति है लेकिन यह भागने की कोशिश कर रहा था जिसकी वजह से मैंने से पकड़ लिया और इसे फिर से अंदर लेकर जा रहा हूं सैनिक ने कहा कि ठीक है इसे अंदर जाकर बंद कर दो लड़का और लड़की दोनों अंदर पहुंच चुके थे उन्हें कोई परेशानी नहीं हो रही थी अब वह लड़की के पिताजी के पास जा रहे थे तभी उन्होंने देखा कि पिताजी को सो रहे हैं वह पिताजी के पास गए और वहीं पर पिताजी उठ गए थे

 

पिताजी ने सैनिक को देखा और खड़े हो गए और कुछ भी नहीं बोल रहे थे तो उन्हें डर लग रहा था कि सैनिक उन्हें कोई सजा ना दे पाए सैनिक के रूप में लड़का आ चुका था और वह कहने लगा कि पिताजी आप हमें मिल गए यह बात सुनकर लड़के की और देखने लगे और कहने लगे कि तुम यहां पर क्या कर रहे हो अगर किसी सैनिक ने तुम्हें देख लिया तो तुम्हें भी पकड़ लिया जाएगा तो यहां पर नहीं होना चाहिए था लड़की ने कहा कि हम आपको यहां से छुड़ाने आए हैं इसलिए हम यहां पर बहुत ही ज्यादा खतरे में आपसे मिलने आए हैं और आपको यहां से लेकर जाएंगे तभी पिताजी ने कहा कि तुम्हें यह काम नहीं करना चाहिए था लड़के ने बताया कि माता घर पर परेशान हो चुकी है आपका इंतजार कर रही थी उन्हें लग रहा था कि अभी तक आपको आ जाना चाहिए था लेकिन आप अभी तक भी नहीं आए थे जिससे कि सभी लोग परेशान हो रहे थे और इसलिए मैं यहां पर आया हूं

 

लड़के ने अपने पिता जी से कहा कि अब समय बिताने की जरूरत नहीं है हमें जल्दी यहां से निकलना चाहिए इससे पहले कि यहां पर कोई आ जाए और हम सभी पकड़े जाएं लड़की ने पिताजी की वेशभूषा बदल ली थी और जिससे कि वह कुछ अलग दिखाई दे रहे थे लड़की जो साथ में आई थी वह कुछ वस्त्र लेकर आई थी तीनों सैनिक बन चुके थे और अब उन्हें कोई भी नहीं पहचान सकता था सैनिक की वेशभूषा में बाहर आसानी से निकल सकते थे तीनों बाहर की ओर जाने लगे तीनों बाहर की ओर जा रहे थे तभी एक सैनिक आया और कहने लगा कि तुम्हें तो पहरा देना चाहिए था तुम कहां जा रहे हो तभी तीनों कहने लगे कि हम यहां पर पास ही में देखने जा रहे हैं कि कोई भागकर तो नहीं गया सैनिक ने कहा कि ठीक है तुम जल्दी पता करके आ जाओ तीनों वहां से निकल चुके थे अब वह उन सैनिकों की पहुंच से बहुत दूर थे वह अपने पिताजी को बाहर लेकर आ रहे थे

Read More-अच्छे काम की तलाश कहानी

Read More-छोटी सी लापरवाही की कहानी

तभी दुकानदार वाला भी वहीं खड़ा था वह कहने लगा कि तुमने अपनी योजना में कामयाबी दिखाइए दुकानदार कहने लगा कि मुझे तो यकीन ही नहीं हो रहा था कि आप सभी सफल हो जाएंगे लेकिन तुम्हारे पिताजी बाहर आ गए इस बात की बहुत बड़ी खुशी है और इस तरह वह बातें करते हैं वह दुकानदार के घर पहुंच जाते हैं और कहते हैं कि तुम्हारी वजह से ही हम सब बाहर निकले हैं दुकानदार कहता है कि हम दोनों काफी समय से व्यापार कर रहे हैं हम दोनों की दुकान पास है और यह बहुत ही अच्छे दोस्त हैं बहुत सालों से हम एक दूसरे को जानते हैं जब परेशानी आई तभी से मैं योजना बनाने के लिए तैयार था लेकिन मुझे कोई सहारा नहीं मिल रहा था जिसकी वजह से मैं कामयाब नहीं हो पाए लेकिन आज पता लग चल चुका है कि तुम्हारा लड़का बहुत ही कामयाब व्यक्ति है

 

जिसने आपकी मदद की और आप को बाहर लेकर आया तभी लड़के ने कहा कि इसमें मेरी मदद की इतनी जरूरत नहीं है लड़की ने भी बहुत मदद की थी लड़की का नाम सुनकर पिताजी देखते हैं और कहते हैं कि यहां पर लड़की कौन है तभी लड़का कहता है कि यह हमारे साथ जो है आदमी नहीं है लड़की है यह अपनी वेशभूषा बदलकर वहां पर गई थी पिताजी ने कहा कि कोई भी दुनिया में मदद करने के लिए तैयार नहीं होता लेकिन तुमने तो हमारी मदद की और हम तो तुम्हें जानते भी नहीं है लड़के ने कहा कि यह बहुत ही पा बहादुर लड़की है जिसने हमारी मदद की और इस योजना को कामयाब बनाने के लिए अपना समय दिया

 

सुबह हो चुकी थी और अब वह तीनों अपने घर वापस लौटने के लिए तैयार थे तभी पिताजी ने कहा कि तुम चलने की तैयारी करो हम जल्दी ही अपने घर पर पहुंच जाएंगे लेकिन जाने से पहले पिताजी ने कहा कि हमें यह दुकान बंद कर देनी चाहिए क्योंकि कुछ दिन बाद सैनिकों को पता लग जाएगा और फिर वह मेरी तलाश में यहां पर आएंगे इसलिए मुझे यहां से काम बंद कर देना चाहिए उस दिन लड़के के पिताजी ने काम बंद कर दिया था क्योंकि वह जानते थे कि कुछ दिन बाद राजा को इस बात की खबर हो जाएगी और फिर मुझे पकड़ने के लिए सैनिक जरूर भेजेंगे इसलिए यहां पर काम का बंद होना बहुत जरूरी था उसके बाद तीनों अपने घर जा रहे थे लेकिन तेजाजी ने कहा कि यह लड़की हमारे साथ ही जाएगी उसके बाद यह अपने घर वापस जाएगी यह बात सुनकर लड़का बहुत खुश हो गया था

Read More-बातों से बदलाव आ गया कहानी

वे 2 दिन के सफर के बाद घर पहुंच गए थे जब वह घर पहुंचे तो माता ने देखा कि उनके पिताजी घर वापस आ गया बहुत खुश हो गई इसके पीछे क्या कहानी थी अपनी माता को लड़के ने पूरी बात बताई और यह सुनकर माता घबरा गई थी क्योकि उन्हें तो यकीन नहीं हो रहा था कि वह बड़ी मुसीबत में फंस गए हैं पिताजी अंदर से आते हैं और कहते हैं कि क्या बात हो रही है तभी माता कहते हैं कि लड़के ने सब कुछ बता दिया कि वहां पर क्या हो रहा था मुझे तो बहुत डर लग रहा है यह बात सुनकर पिताजी ने कहा कि आप वहां पर काम बंद कर चुके हैं वहां पर जाने का कोई भी कोई मतलब नहीं है इसलिए तुम्हें इस बारे में सोचने की कोई जरूरत नहीं है उसके बाद पिताजी ने कहा कि एक बात जो तुम्हें सोचनी चाहिए हमे लड़के की शादी से लड़की से कर देनी चाहिए

 

मुझे लगता है यह दोनों दोस्त बन चुके हैं और दोनों ने मिलकर ही मुझे बचाया था दोनों ना होते तो शायद मैं अभी वापस नहीं आ पाता लड़के के पिताजी ने कहा कि अब तो वह घर वापस जा सकती हो और लड़की अपने घर चली गयी उसके दो दिन बाद ही पिताजी उसके घर पर पहुंच गए थे उनकी माता से मिले और कहा कि आप की लड़की के लिए हम अब लड़के से शादी करना चाहते हैं यह बात सुनकर माता खुश हो गए और कहने लगी अगर यह दोनों एक दूसरे को पसंद करते हैं तो शादी कर सकते हैं इसमें कोई भी परेशानी नहीं है कुछ दिन बाद ही दोनों की शादी हो जाती यह सफर जो दोनों के साथ शुरू हुआ था और उनकी शादी के बाद ही पूरा हो पाए

 

पिताजी ने देखा कि लड़का बहुत खुश है और लड़की भी बहुत खुश नजर आ रही है दोनों की शादी हो चुकी है पिताजी को यह बात बहुत अच्छी लग रही थी कि यह दोनों ही बहुत बहादुर है दोनों ने अपनी हिम्मत से मुझे बचाया था अगर आज यह दोना अब नहीं होते तो शायद मैं बिल्कुल भी नहीं बच पाता लेकिन इन्हीं की वजह से मैं यहां पर हूं और यह दोनों मुझे बहुत पसंद है लड़का भी लड़की से कहता है कि यह सफर हमेशा हमें यादगार बनाए रखना होगा हमें याद होगा कि हम एक साथ सफर शुरू किया था और एक साथ ही हम सफर पर से वापस लौटे थे जब हम दोनों साथ गए थे तो बिल्कुल अनजान थे लेकिन जब वापस लौटे तो हमारी शादी हो चुकी थी ऐसा सफर तो हमेशा ही याद रहेगा उसके बाद उनका जीवन बहुत अच्छे से चल रहा था

 

कुछ समय बाद ही लड़के के एक लड़का होता है और वह धीरे-धीरे बड़ा हो जाता है वह भी अपने पिताजी की तरह बहुत ही समझदार होता है और बहुत ही बहादुर बन जाता है उस लड़के को उसकी दादी हमेशा वही कहानी सुनाएं कर दी थी कि जिस दौरान उसके पिताजी बहुत बुरी तरह से फस गए थे थे तो उस वक्त तुम्हारे पिताजी उन्हें बचाने के लिए गए थे और वह भी बहुत बहादुरी से उन्हें बचा कर ले कर आए थे यह कहानी बहुत अच्छी लगती थी दादी उसे हमेशा सुनाएं करती थी और वह भी कहता था कि बड़ा होकर मैं भी सफर पर जाऊंगा और बहुत सारी कहानियां बना लूंगा यह बात सुनकर दादी हमेशा हंसते थे और कहती थी कि अगर तुम बड़े हो गए तो दो तुम भी अपने पिताजी की तरह ही बन जाओगे

Read More Hindi story :- सपने में अंगूठी की कहानी

1 दिन लड़का खेल रहा था वह कह रहा था कि पिताजी मुझे वह कहानी सुनाओ जो दादी मुझे सुनाती हैं दादी उसमें कुछ बातें मुझे नहीं बताती है वह सभी बातें में जानना चाहता हूं जब आपके और आपके पिताजी के बीच में हुई थी उसके पिताजी कहते हैं कि तुम कहानी क्यों सुना चाहते हो लड़का कहता है कि मैं भी सफर पर जाऊंगा और इस तरह के काम करूंगा जिससे कि मेरी भी कहानियां (kahaniya) दूसरों को सुनाई जाएगी यह बात सुनकर लड़का हंसता है और कहता है कि तुम भी कहानियां (kahaniya) बनाना चाहते हो लड़का कहता है कि पिताजी मुझे है वह कहानी (Hindi story) दोबारा से सुननी है हर रोज मुझे वह कहानी (Hindi Kahani) बहुत अच्छी लगती है अगर आप मुझे को सुनाते हो तो बहुत अच्छा लगता है उसके बाद वह लड़का अपने बेटे को फिर से वही कहानी सुनाता है और उस कहानी को सुनने के बाद उसे बहुत अच्छा लगता है

 

क्योंकि वह कहानी उसे बहुत पसंद आ चुकी है जिसकी वजह से आज है उस जगह पर है लड़का अपने माता के पास आता है और कहता है कि मेरा लड़का हर रोज उस कहानी (hindi kahani) को सुनता है आपसे कहानी सुनी तो है लेकिन उसके बाद वह मुझसे पूछता है तभी माता कहती है कि उन बातों को पूछता है जो मैं नहीं जानती क्योंकि सफर के दौरान तुम्हें सब कुछ पता था मुझे तो उतना ही पता जितना तुमने ने मुझे बताया इसलिए उन सब बातों को पूछना चाहता है उसके बाद लड़का कहता था कि आपसे वह कहानी (hindi story) सुनता है, हर बार वह कहानी (hindi stories) सुकर याद रखेगा, माता ने कहा कि कुछ बातें तो अपने बेटे की हमेशा याद रखनी चाहिए अब समझ में आ गया था कि जीवन में कुछ भी संभव हो सकता है अगर हम अपनी हिम्मत से काम ले तो सब कुछ हो सकता है

Read More Hindi story -सही समझ बहुत जरुरी है कहानी

Read More Hindi story -परेशानी क्या कम हो सकती है कहानी

लड़का बड़ा हो गया था और एक दिन वह उस जगह पर गया था जिस जगह पर उसके दादाजी की दूकान थी उन्हें भी मिला था जिसने उनकी मदद की थी वह भी अब बहुत बूढ़े हो गए थे वह भी उसके दादाजी लगते थे जब उसने अपने बारे में बताया तो वह दुकानदार कहने लगा की तुम उसके बेटे हो मुझे बहुत अच्छे से याद है की उस दिन क्या हुआ था उसके बाद भी सैनिक बहुत बार यहां पर आये थे मगर उन्हें कुछ भी पता नहीं चल पाया था क्योकि कोई फिर कभी इस तरफ नहीं आया था यह बात जानकार वह लड़का वापिस आ जाता है कुछ सफर हमेशा याद रहते है जिन्हे कोई नहीं भूल सकता है, मुश्किलों से भरा सफर की कहानी, hindi story, hindi stories, hindi story, hindi kahani, kahaniya, अगर आपको यह कहानी पसंद आयी है तो शेयर जरूर करे और हमे भी बताये.

Read More Hindi Story :-

Read More-जिंदगी का सबक एक कहानी

Read More- गर्मी में मुसीबत की हिंदी कहानियां

Read More-अच्छाई सभी में होती है कहानी

Read More-जिंदगी में धैर्य की कहानी

Read More-अनमोल जिंदगी की हिंदी कहानी

Read More-सेठ को ईमानदारी की तलाश कहानी

Read More-भविष्य की खोज हिंदी कहानी

Read More-जीवन की अच्छी बातें कहानी

Read More-उसने आखिर पूछ लिया कहानी

Read More-जिंदगी में नया मोड़ कहानी

Read More-सही मार्ग कौनसा है हिंदी कहानी

Read More-भक्त की हिंदी कहानी

Read More-एक समस्या की कहानी

Read More-आज भी बीत जाएगा कहानी

Read More-नया जमाना हिंदी कहानियाँ

Read More-कोहरे का सफर कहानी

Read More-किसान और बेटे की हिंदी कहानी

Read More-सही मार्ग कौनसा है हिंदी कहानी

Read More-बात की गहराई कहानी

Read More-मन क्यों शांत नहीं है कहानी

Read More-अनसुलझी एक कहानी

Read More-मंजिल दूर नहीं हिंदी कहानी

Read More-उगते सूरज की कहानी

Read More-एक हिंदी नाटक कहानी

Read More-राजमहल में चोर हिंदी कहानी

Read More-मिठाईवाले की कहानी

Read More-एक आरज़ू की कहानी

Read More-बांसुरी की धुन एक लघु कहानी

Read More-एक कहानी ऐसी भी

Read More-भगवान् की भक्ति

Read More-एक कलाकार की कहानी

Read More-मेरी नयी हिंदी कहानी

Read More-कुछ भी हो सकता है कहानी

Read More-मै नहीं मानता हिंदी कहानी

Read More-उस दिन की हिंदी कहानी

Read More-चलते-चलते हिंदी कहानी

Read More-अधूरी बात की कहानी

Read More-ज्योतिष की कहानी

Read More-लकीर का फकीर हिंदी कहानी

Read More-जब वक़्त मिले हिंदी कहानी

Read More-दादा जी की बातें हिंदी कहानी

Read More-सोने के सिक्के की कहानी

Read More-अच्छी मुलाकात की कहानी

Read More-जरूर सोचिये हिंदी कहानी

Read More-बढ़ई की नयी सीख कहानी

Read More-समय का सही उपयोग कहानी

Read More-अनोखी भाषा की हिंदी कहानी

Read More-आज का दिन हिंदी कहानी

Read More-कुछ भी नहीं है एक कहानी

Read More-ये दूरियां हिंदी कहानी

Read More-कल क्या होगा कहानी

Read More-मन की जीत एक कहानी

Read More-बरसात के दिन आये कहानी

Read More-आप क्या करते हो हिंदी कहानी

Read More-बदलते विचार की हिंदी कहानी

Read More-एक कहानी सोचना जरुरी है

Read More-सुखमय जीवन की कहानी

Read More-जीवन की सफलता की कहानियां

Read More-सही दिशा में सपनों की कहानी

Read More-अकेले ही चलते रहे हिंदी कहानी

Read More-एक सच्चे दोस्त की कहानी

Read More-उड़ती हुई रेत की कहानी

Read More-कला का ज्ञान हिंदी कहानी

Read More-मेहनत बेकार नहीं जाती कहानी

Read More-जीवन में कामयाबी की कहानी

Read More-सीखने की कला हिंदी कहानी

Read More-यादगार पल की हिंदी कहानी

Read More-परेशानियों का सामना हिंदी कहानी

Read More-विचित्र हिंदी कहानियां

Read More-सब-कुछ संभव है कहानी

Read More-आप कैसे हो एक कहानी

Read More-पहाड़ी की दूरिया हिंदी कहानी

Read More-कबीले के पास की गुफा हिंदी कहानी

Read More-जीवन के सही मूल्यों की कहानी

Read More-अनोखी दास्तान की कहानी

Read More-गांव पर शेर का हमला कहानी

Read More-मन की शांति की कहानी

Read More-काबिल इंसान की कहानी

Read More-राजकुमारी और तितली की कहानी

Read More-सेवा का सही मूल्य हिंदी कहानी

Read More-राजा और चोर की कहानी

Read More-समय-समय की हिंदी कहानी

Read More-यकीन नहीं होता हिंदी कहानी

Read More-एक गांव का पेड़ कहानी

Read More-समय का इंतज़ार हिंदी कहानी  

Read More-सभी का ध्यान रखना चाहिए कहानी

Read More-हार की जीत की कहानी

Read More-प्रेरक हिंदी कथा

Read More-कुछ तो है एक कहानी

Read More-अलग हुए दो गांव की कहानी

Read More-जीवन धन्य हो गया एक कहानी

Read More-एक मूर्ति की हिंदी कहानी

Read More-एक सुनहरा पल कहानी

Read More-कुछ बातों का जीवन कहानी

Read More-रौशनी कहा से आ रही है कहानी

Read More-घर अभी खाली है हिंदी कहानी

Read More-अनोखा सफर एक कहानी

Read More-पापा के प्यार की कहानी

Read More-विवाह की अनोखी कहानियां

Read More-जिंदगी में बदलाव कहानी

Read More-बचपन बहुत अच्छा होता है एक कहानी

Read More-सही राह की तलाश हिंदी कहानी

Read More-जाना बहुत जरुरी है कहानी

Read More-उनकी बातें क्या कहती है कहानी

Read More hindi story-तीनों की अजीब बातें कहानी

Read More hindi story-कुछ बदलाव जरुरी है कहानी

Read More hindi story-यह आवाज किसकी है कहानी

Read More hindi story-किसकी बात पर यकीन करे कहानी

 

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

error: Content is protected !!