जब बरसात हुई हिंदी कहानी, small story in hindi

Small story in hindi | Stories in hindi

Small story in hindi, stories in hindi, एक दिन बहुत तेज बारिश हो रही थी सेठ जी ने जब देखा तो  बारिश के कारण उनकी छत टपक रही थी पानी इतना निकल रहा था कि सभी कमरों में धीरे-धीरे जा रहा था बारिश भी बहुत तेज हो रही थी जिस कारण पानी बिल्कुल भी बंद नहीं हो रहा था इससे परेशान होकर सेठ जी ने अपना छाता उठाया और रामू के घर की तरफ चलने लगे.

जब बरसात हुई हिंदी कहानी : small story in hindi

Small story in hindi
Small story in hindi

रामू एक ऐसा व्यक्ति था गांव में जो कि सभी के मकानों की छत ठीक किया करता था सेठ रामू के घर गए और कहने लगे चलो हमारे साथ बारिश बहुत तेज हो रही है और हमारी छत भी टपक रही है और उसे ठीक कर दो रामू ने इस पर कहां की बारिश बहुत हो रही है सेठ जी ऐसे ही मैं छत को कैसे ठीक कर पाएंगे पर सेठ जी बोले कि कुछ तो इंतजाम करना ही पड़ेगा नहीं तो हमारी छत से पानी टपकता ही रहेगा.

एक जोकर की कहानी

चलो तुम मेरे साथ वहां पर देख लो कि कुछ इंतजाम हो सकता है तो कर दो रामू अपने मन ही मन सोचने लगा कि सेठजी को आज काम पढ़ा तो सेठ जी हमारे पास आ गए नहीं तो सेठ जी तो बिलकुल भी हमें नहीं पूछते because सेठ की ऐसी प्रवृत्ति है कि वह कंजूस मिजाज के हैं वह किसी की भी मदद नहीं करते हैं

रामनाथ की साइकिल हिंदी कहानी

रामू अपने मन में सोच रहा था इतनी तेज बारिश हो रही है और सेठ जी आ गए हैं कि हमारे छत करनी है फिर सेठ जी ने कहा क्या सोच रहे हो रामू चलो रामू ने कहा सेठ जी रुक जाओ थोड़ा अगर बारिश कम हो जाती है तो काम भी जल्दी हो जाएगा और फिर पानी भी बरसना बंद हो गया तो हम जल्दी से काम कर पाएंगे नहीं तो बारिश के होते हुए तो हम कुछ भी नहीं कर पाएंगे

एक पत्रकार की कहानी

सेठ जी कहां मानने वाले थे वह रामू के साथ वहीं बैठ गए हो और बारिश के रुकने का इंतजार करने लगे बारिश कुछ लगभग आधे घंटे के बाद हल्की होने लगी है और रामू सेठ जी के साथ उनके घर चला गया फिर रामू और सेठ जी घर पहुंच गए और हम उन्हें अपने आप ही उस छत को ठीक करना शुरू कर दिया रामू छत को ठीक कर रहा था और सेठ जी देख रहे थे और बता रहे थे यहां से भी अच्छा करना और वहां से भी अच्छा करना रामू यही सोच रहा था कि अब यह हम से काम ले लेंगे और अब देखना जैसे ही मजदूरी का टाइम आएगा सेठ जी कुछ ना कुछ बहाना जरूर बनाने लगे हैं

सब कुछ बह जायेगा हिंदी कहानी

रामू को छत ठीक करने में लगभग आधा दिन तो लगी गया था फिर छत ठीक हो गई अब रामू ने कहा कि सेठ जी मेरी मजदूरी सेठ जी ने कहा है कि चलो मैं तुम्हें खाना खिला देता हूं तुमने खाना भी कही दिनों से नहीं खाया होगा रामू कहने लगा कि जी अगर मुझे मजदूरी मिल जाती तो मैं थोड़ा बाजार से कुछ सामान ले आता जिसकी मुझे बहुत जरूरत है फिर सेठ जी ने कहा  कि अभी तो मेरे पास नहीं है तुम ऐसा करो कल आना और फिर आकर अपनी मजदूरी ले जाना अगले दिन रामू और सेठ जी के पास गया और देखा कि सेठ जी तो घर पर नहीं थे आप ऐसे करते-करते सेठ जी ने एक हफ्ता लगा दिया

बुद्धि की परीक्षा की कहानी

इसपर रामू ने कहा कि मालकिन जब सेठ जी आ जाए तो बता देना मुझे मजदूरी लेनी है अपनी, सेठ जी वैसे बुरे आदमी नहीं है but वह अपनी कंजूसी से बड़े परेशान है कंजूसी उनके अंदर ऐसे ही भरी हुई है कि वह हर चीज में कंजूसी करते हैं अपने खाने में अपने पीने में और बाहर कहीं भी जाना होता है तो ज्यादातर रास्ता भी पैदल ही करते हैं

समय-समय की हिंदी कहानी

Small story in hindi, stories in hindi, फिर अगले दिन रामू सेठ जी के घर गया और सेठ जी ने रामू को बड़ी मुश्किल से उसकी मजबूरी थी और फिर रामू ने सोचा कि देखो मैंने सेठ जी का काम बरसात में भी कर दिया और देखिए सेठ जी ने मेरे को बिल्कुल एक हफ्ते तक घुमाते रहे और एक हफ्ते बाद मेरी मजदूरी दी है. दोस्तों इस कहानी से सीख मिलती है कि पता नहीं किस व्यक्ति को कितनी जरूरत हो इसलिए जरूरत के हिसाब से हमें उसकी मदद करनी चाहिए.

Read More Hindi Story :-

एक लघु कथा मेरा भाई

चिट्ठी एक नयी कहानी

दुःखो का अंत नहीं कहानी

जिंदगी का सबक एक कहानी

गर्मी में मुसीबत की हिंदी कहानियां

अच्छाई सभी में होती है कहानी

जिंदगी में धैर्य की कहानी

अनमोल जिंदगी की हिंदी कहानी

सेठ को ईमानदारी की तलाश कहानी

भविष्य की खोज हिंदी कहानी

जिंदगी में नया मोड़ कहानी

सही मार्ग कौनसा है हिंदी कहानी

भक्त की हिंदी कहानी

एक समस्या की कहानी

आज भी बीत जाएगा कहानी

नया जमाना हिंदी कहानियाँ

कोहरे का सफर कहानी

किसान और बेटे की हिंदी कहानी

सही मार्ग कौनसा है हिंदी कहानी

बात की गहराई कहानी

मन क्यों शांत नहीं है कहानी

अनसुलझी एक कहानी

मंजिल दूर नहीं हिंदी कहानी

उगते सूरज की कहानी

एक हिंदी नाटक कहानी

राजमहल में चोर हिंदी कहानी

मिठाईवाले की कहानी

एक आरज़ू की कहानी

बांसुरी की धुन एक लघु कहानी

एक कहानी ऐसी भी

भगवान् की भक्ति

एक कलाकार की कहानी

मेरी नयी हिंदी कहानी

कुछ भी हो सकता है कहानी

मै नहीं मानता हिंदी कहानी

उस दिन की हिंदी कहानी

किताबें कुछ कहती है कहानी

अच्छाई सभी में होती है कहानी

जिंदगी में धैर्य की कहानी

सही मार्ग कौनसा है हिंदी कहानी

भक्त की हिंदी कहानी

एक समस्या की कहानी

आज भी बीत जाएगा कहानी

नया जमाना हिंदी कहानियाँ

कोहरे का सफर कहानी

किसान और बेटे की हिंदी कहानी

सही मार्ग कौनसा है हिंदी कहानी

बात की गहराई कहानी

मन क्यों शांत नहीं है कहानी

अनसुलझी एक कहानी

मंजिल दूर नहीं हिंदी कहानी

राजमहल में चोर हिंदी कहानी

मिठाईवाले की कहानी

एक आरज़ू की कहानी

बांसुरी की धुन एक लघु कहानी

एक कहानी ऐसी भी

भगवान् की भक्ति

एक कलाकार की कहानी

मेरी नयी हिंदी कहानी

उस दिन की हिंदी कहानी

चलते-चलते हिंदी कहानी

अधूरी बात की कहानी

ज्योतिष की कहानी

लकीर का फकीर हिंदी कहानी

जब वक़्त मिले हिंदी कहानी

दादा जी की बातें हिंदी कहानी

सोने के सिक्के की कहानी

अच्छी मुलाकात की कहानी

जरूर सोचिये हिंदी कहानी

बढ़ई की नयी सीख कहानी

समय का सही उपयोग कहानी

अनोखी भाषा की हिंदी कहानी

आज का दिन हिंदी कहानी

कुछ भी नहीं है एक कहानी

ये दूरियां हिंदी कहानी

कल क्या होगा कहानी

मन की जीत एक कहानी

बरसात के दिन आये कहानी

आप क्या करते हो हिंदी कहानी

बदलते विचार की हिंदी कहानी

एक कहानी सोचना जरुरी है

सुखमय जीवन की कहानी

जीवन की सफलता की कहानियां

सही दिशा में सपनों की कहानी

अकेले ही चलते रहे हिंदी कहानी

एक सच्चे दोस्त की कहानी

उड़ती हुई रेत की कहानी

कला का ज्ञान हिंदी कहानी

मेहनत बेकार नहीं जाती कहानी

जीवन में कामयाबी की कहानी

सीखने की कला हिंदी कहानी

यादगार पल की हिंदी कहानी

परेशानियों का सामना हिंदी कहानी

विचित्र हिंदी कहानियां

सब-कुछ संभव है कहानी

पहाड़ी की दूरिया हिंदी कहानी

कबीले के पास की गुफा हिंदी कहानी

जीवन के सही मूल्यों की कहानी

अनोखी दास्तान की कहानी

मन की शांति की कहानी

काबिल इंसान की कहानी

राजकुमारी और तितली की कहानी

सेवा का सही मूल्य हिंदी कहानी

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

error: Content is protected !!