घड़े मै पतलू की कहानी, hindi kahaniya for kids

hindi kahaniya for kids

kids story.jpg
hindi kahaniya for kids

ये कहानी पतलू की फिर से समझदारी की कहानी मैं से एक है. उसने किस तरह से एक बार फिर अपने दोस्त मोटू को रजामंद किया, की वो उनसे ज्यादा देर तक गुस्सा नहीं रह सकते है. एक बार मोटू की किसी बात पर पतलू से नाराज हो गए.

गुस्से में आकर उन्होंने पतलू से भरी पंचायत में कह दिया कि कल से मुझे पंचायत में अपना मुंह मत दिखाना. उसी समय पतलू पंचायत से चला गया. दूसरे दिन जब मोटू पंचायत की ओर आ रहे थे. कि पतलू आपके आदेश के खिलाफ पंचायत में उपस्थित है. बस यह सुनते ही मोटू आग बबूला हो गए.

चुगल खोर आगे बोला, आपने साफ कहा था कि पंचायत में आने पर कोड़े पड़ेंगे, इसकी भी उसने कोई परवाह नहीं की. अब तो पतलू आपके हुक्म की भी अवहेलना करने में जुटा है. मोटू पंचायत में पहुंचे. उन्होंने देखा कि सिर पर मिट्टी का एक घड़ा ओढ़े पतलू विचित्र प्रकार की हरकतें कर रहा है. घड़े पर चारों ओर जानवरों के मुंह बने थे. पतलू, ये क्या बेहुदगी है. तुमने हमारी आज्ञा का उल्लंघन किया हैं, मोटू ने कहा. दंड स्वरूप कोड़े खाने के तैयार हो जाओ.

Read More-जल परी की कहानी

Read more-ऊंट और सियार की कहानी

मैंने कौन सी आपकी आज्ञा नहीं मानी मोटू. घड़े में मुंह छिपाए हुए पतलू बोला, आपने कहा था कि कल मैं पंचायत में अपना मुंह न दिखाऊं तो क्या आपको मेरा मुंह दिख रहा है. हे भगवान. कहीं कुम्भकार ने फूटा घड़ा तो नहीं दे दिया. यह सुनते ही मोटू की हंसी छूट गई. वे बोले, तुम जैसे बुद्धिमान और हाजिर जवाब से कोई नाराज हो ही नहीं सकता. अब इस घड़े को हटाओ और सीधी तरह अपना आसन ग्रहण करो. इस प्रकार से पतलू ने अपने पिर्य मोटू को फिर से खुश कर दिया और वो दोबारा से पंचायत मैं आने लग गए.

नोबिता जियान और हाथी की कहानी

ये कहानी मोस्ट पॉपुलर कॅरक्टर नोबिता और जियान की है. जब वो अपने दोस्त के यहाँ पर एक शादी मैं जाते है, तो क्या होता है उनके साथ. देखते है इस कहानी मैं. नोबिता और जियान पक्के दोस्त थे. नोबिता जहां दुबला पतला था, वहीं जियान मोटा गोल मटोल. दोनों एक दूसरे पर जान देने का दम भरते थे,

 

लेकिन उनकी जोड़ी देखकर लोगों की हंसी छूट जाती. एक बार उन्हें किसी दूसरे गांव में रहने वाले मित्र का निमंत्रण मिला. उसने उन्हें अपनी बहन के विवाह के अवसर पर बुलाया था. उनके मित्र का गांव कोई बहुत दूर तो नहीं था लेकिन वहां तक पहुंचने के लिए जंगल से होकर गुजरना पड़ता था.

 

उस जंगल में जंगली जानवरों की भरमार थी. दोनों चल दिए. जब वे जंगल से होकर गुजर रहे थे तो उन्हें सामने से एक हाथी आता दिखा. उसे देखकर दोनों भय से थर थर कांपने लगे. तभी दुबला पतला नोबिता तेजी से दौड़कर एक पेड़ पर जा चढ़ा, लेकिन मोटा होने के कारण जियान उतना तेज नहीं दौड़ सकता था. उधर हाथी भी निकट आ चुका था, फिर भी जियान ने साहस नहीं खोया.

 

उसने सुन रखा था कि हाथी मृत शरीर को नहीं खाते. वह तुरंत जमीन पर लेट गये और सांस रोक ली. ऐसा अभिनय किया कि मानो शरीर में प्राण हैं ही नहीं. हाथी घुरघुराता हुआ जियान के पास आया, उसके चेहरे व शरीर को सूंघा और उसे मृत समझकर आगे बढ़ गया. जब हाथी काफी दूर निकल गया तो नोबिता पेड़ से उतरकर जियान के निकट आया और बोला मित्र, मैंने देखा था.

 

हाथी तुमसे कुछ कह रहा था. क्या कहा उसने. जियान ने गुस्से में भरकर जवाब दिया मुझे मित्र कहकर न बुलाओ और ऐसा ही कुछ हाथी ने भी मुझसे कहा. उसने कहा, नोबिता पर विश्वास न करना, वह तुम्हारा मित्र नहीं है. सुनकर नोबिता शर्मिन्दा हो गया. उसे अभ्यास हो गया था कि उससे कितनी भारी भूल हो गई थी. उसकी मित्रता भी सदैव के लिए समाप्त हो गई. तो देखा दोस्तों अपने एक सच्चा दोस्त वही होता है जो की समय पर काम आता है, नहीं तो दोस्त तो सभी बन जाते है.

Read More-शेखचिल्ली की दुकान

Read More-छोटा भीम और जादूगरनी

Read More-नकल के लिए अक्ल जरूरी

Read More-छोटा भीम और जादूगरनी

Read More-राजा और सेवक की कहानी 

Read More-दरबारियों की परीक्षा

Read More-मोटू पतलू और चिराग

Read More-मोटू पतलू और नगर की सफाई

Read More-अकबर और बीरबल की कहानी

Read More-लालच बुरी बला है

Read More-बाघ और पंडित की कहानी

Read More-राजा का गुस्सा एक कहानी

Read More-बच्चों की कहानी

Read More-बोलने वाले पक्षी

Read More-अलादीन का जादुई चिराग

Read More-कौवे और मैना की बाल कहानियां

Read More-चालाक लोमड़ी और भालू की कहानी

Read More-खरगोश की कहानी 

Read More-बच्चों का पार्क

Read More-अकबर बीरबल और युद्ध

Read More-बड़े हाथी की कहानी

Read More-एक शिक्षाप्रद कहानी

Read More-शेर और खरगोश

Read More-मोटू पतलू और साधू बाबा

Read More-मोटू पतलू और फिल्म शूटिंग

Read More-मोटू पतलू और जादुई फूल

Read More-मोटू पतलू और जादुई टापू

Read More-मोटू पतलू और मिलावटी दूध

Read More-छोटा भीम और जादूगरनी

Read More-छोटा भीम और क्रिकेट मैच

Read More-मोटू-पतलू का सपना

Read More-चाचा चौधरी और साबू

Read More-पेटू पंडित हास्य कहानी

Read More-शेखचिल्ली की कुश्ती

Read More-शेखचिल्ली का मजाक

Read More-मोटू और पतलू का जहाज

Read More-अकल की दवाई

Read More-कौवे का पेड़

Read More-छोटू का पार्क कहानी 

Read more-ऊंट और सियार की कहानी

Read More-राजा और लेखक

Read More- धनवान आदमी हिंदी कहानी

Read More-सेब का फल हिंदी कहानी

Read More-ढोंगी पंडित की कहानी 

Read More-बेवकूफ दोस्त की कहानी

Read More-मोटू और पतलू के समोसे

Read More-अमरूद किस का हिंदी कहानी

Read More-छोटा भीम और नगर में चोर

Read More-छोटा लड़का और डॉग

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

error: Content is protected !!