Small story in hindi | jadui matka hindi kahani | कुम्हार का मटका कहानी

Small story in hindi | jadui matka hindi kahani 

ये कहानी (Small story in hindi, jadui matka hindi kahani) एक मटके पर आधारित है. जो की बहुत ही खूबसूरत है और चाचा चौधरी की अक्लमंदी से तो इस कहानी मैं चार चाँद ही लगा दिए है. एक बार राजा पुष्पेंद्र राव किसी बात पर चाचा चौधरी से नाराज हो गए.

Small story in hindi : कुम्हार का मटका कहानी

hindi story.jpg
hindi kids story

गुस्से में आकर उन्होंने चाचा चौधरी से भरी राजसभा में कह दिया कि कल से मुझे दरबार में अपना में अपना मुंह मत दिखाना. उसी समय चाचा चौधरी दरबार से चला गया. दूसरे दिन जब राजा राज सभा की ओर आ रहे थे तभी एक चुगली करने वाले ने उन्हें यह कह कर भड़का दिया कि चाचा चौधरी आपके आदेश के खिलाफ दरबार में उपस्थित है. बस यह सुनते ही राजा आग बबूला हो गए. चुगली करने वाले दरबारी आगे बोला आपने साफ कहा था कि दरबार में आने पर कोड़े पड़ेंगे, इसकी भी उसने कोई परवाह नहीं की.

परियों की नयी कहानी

अब तो चाचा चौधरी आपके हुक्म की भी अवहेलना करने में जुटा है. राजा दरबार में पहुंचे. उन्होंने देखा कि सिर पर मिट्टी का एक घड़ा ओढ़े चाचा चौधरी विचित्र प्रकार की हरकतें कर रहा है. घड़े पर चारों ओर जानवरों के मुंह बने थे. चाचा चौधरी, ये क्या बेहुदगी है. तुमने हमारी आज्ञा का उल्लंघन किया हैं, राजा ने कहा. दंड स्वरूप कोड़े खाने के तैयार हो जाओ. मैंने कौन सी आपकी आज्ञा नहीं मानी राजा. घड़े में मुंह छिपाए हुए चाचा चौधरी बोला , आपने कहा था. कि कल मैं दरबार में अपना मुंह न दिखाऊं तो क्या आपको मेरा मुंह दिख रहा है.

Small story in hindi | jadui matka hindi kahani |

हे भगवान, कहीं कुम्हार ने फूटा घड़ा तो नहीं दे दिया. यह सुनते ही राजा की हंसी छूट गई. वे बोले, तुम जैसे बुद्धिमान और हाजिर जवाब से कोई नाराज हो ही नहीं सकता. अब इस घड़े को हटाओ और सीधी तरह अपना आसन ग्रहण करो. दोस्तों वाक़ेय मैं चाचा चौधरी बहुत होशियार और बुद्धिमान आदमी थे. उनका मुकलबला कोई भी नहीं कर सकता था.

 

Jadui matka hindi kahani : जादुई मटका नयी कहानी 

Jadui matka hindi kahani
Jadui matka hindi kahani

दो आदमी थके हुए अपने घर वापिस आ रहे थे उनका घर जंगल के पार था, दोनों को बहुत भूख लगी थी वह किसी पेड़ के पास जाते है और अपना खाना निकालकर खाते है क्योकि उन्हें बहुत भूख लगी थी वह रास्ते भर पैदल चलकर आ रहे थे तभी उनमे से एक कहता है की वह देखो क्या है, दूसरा आदमी देखता है और कहता है की वह पेड़ है मगर फिर वह कहता है की उसके पास क्या रखा हुआ है वह ध्यान से देखता है उसे जादुई मटका नज़र आता है

बीरबल ने बचाया अकबर को नयी कहानी

वह दोनों उस jadui matka के पास जाते है वह देखते है की यह तो अंदर से चमक रहा है हमे लगता है की यह कोई jadui matka है वह उसे लेते है और अपने पास रख लेते है तभी वह कहते है की यह कैसे काम करता है उनमे से एक कहता है की jadui matka हम बहुत थके हुए है हमारी लिए किसी सवारी का इंतज़ाम करो, कुछ देर बाद दो घोड़े उनके पास आते है वह बहुत खुश होते है, उन्हें नहीं पता था की यह सब कुछ कर सकता है, उसके बाद वह दोनों घोड़े पर बैठ जाते है, घर की और निकल जाते है,

राजकुमारी और जादूगर बुढ़िया की कहानी

उनमे से दोनों यही बात सोचते है की यह मेरे पास हो तो बहुत अच्छा है यह jadui matka है यह मेरे बहुत काम आता है, दोनों के मन में लालच आ गया था वह दोनों ही jadui matka को लेना चाहता है मगर कुछ नहीं हो सकता था वह कहता है की यह सिर्फ एक jadui matka है यह हम दोनों नहीं रख सकते है इसलिए किसी को यह छोड़ना होगा दूसरा कहता है की में इसे अपने पास रखता हु दूसरा कहता है की यह मेरे पास होना चाहिए

Small story in hindi | jadui matka hindi kahani |

यह सब कुछ उस jadui matka के कारण हो रहा था वह दोनों ही लालची हो गए थे और कुछ देर बाद उस jadui matka के लिए वह दोनों झगड़ते है, इसी बीच उनका मटका टूट जाता है, अब कुछ नहीं हो सकता था वह किसी के भी हाथ नहीं आया था, यह कहानी हमे यही कहती है की लालच कभी भी नहीं करना चाहिए, अगर आपको यह Small story in hindi, jadui matka hindi kahani, पसंद आयी है तो शेयर जरूर करे 

Read More Hindi Story :-

कौवा की दो नयी कहानी

शेर और बकरी की कहानी

राजा और प्रजा की नयी किड्स कहानी

पक्षी ने दी परेशानी हिंदी कहानी

सबसे अच्छी जातक कथा

सोने की हिंदी कहानी

चूहे और बिल्ली की नयी कहानी 

बंदर और मगरमच्छ की नयी कहानी

जादुई चक्की की कहानी

बच्चो की दो कहानी

परियों की कहानी में राजकुमार

छोटे बच्चों के साथ मछली की कहानी

छोटा जादूगर किड्स कहानी

लड़के की मेहनत नयी कहानी

राजा और रानी की अच्छी कहानी

आठ सबसे अच्छी कहानी

दो शेर की नयी कहानी

मेरी शक्ल का आदमी किड्स कहानी

चींटी और कबूतर की कहानी

पेड़ के भूत की जातक कथा

Little red riding hood story

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

error: Content is protected !!