राजकुमारी और जादूगर बुढ़िया की कहानी, Princess and magician short stories in hindi

Princess and magician short stories in hindi

राजकुमारी और जादूगर बुढ़िया की कहानी, Princess and magician short stories in hindi, राजकुमारी अपने महल से निकल कर हमेशा घूमा करती थी, उसे महल के बाहर की दुनिया बहुत पसंद आती थी लेकिन राजा इस बात को हमेशा ही ध्यान रखते थे कि राजकुमारी घूमते घूमते काफी दूर न निकल जाए.

राजकुमारी और जादूगर बुढ़िया की कहानी : Princess and magician short stories in hindi

short stories hindi.jpg

Princess and magician short stories in hindi

राजकुमारी के पास एक खरगोश था जिसे वह बहुत पसंद किया करती थी खरगोश को लेकर राजकुमारी हमेशा घुमा करती थी और इस बार भी राजकुमारी जब शाम को घूमने गई तो वह अपने खरगोश को लेकर ही साथ में गई थी राजकुमारी को अपने खरगोश के साथ समय बिताना बहुत अच्छा लगता था राजकुमारी का कोई साथी नहीं था इसलिए राजकुमार यही सोचा करती थी कि एक खरगोश ही मेरे जीवन में खुशियां ला सकता है क्योंकि यह मेरे साथ रहता है और मेरा कोई साथी भी नहीं है

 

राजकुमारी यह चाहती थी कि उसका कोई साथी बने लेकिन वह अपने महल से बाहर नहीं जाया करती थी राजकुमारी की दुनिया तो वह महल ही बन गई थी वह महल से बाहर निकल कर सिर्फ एक बगीचे में घुमा कर दी थी उससे ज्यादा दूर वह कहीं नहीं जा सकती थी राजकुमारी का मन हमेशा ही बाहर जाने के लिए करता था लेकिन उसे जाने नहीं दिया जाता था रात का वक्त था राजकुमारी सोई हुई थी तभी उनकी अचानक ही नींद खुल गई और वह अपनी खिड़की से बाहर देखने लगी बाहर चारों ओर अंधेरा ही नजर आ रहा था लेकिन ठंडी-ठंडी हवा चल रही थी वह हवा राजकुमारी को बहुत अच्छी लग रही थी

 

राजकुमारी का खरगोश अभी सोया हुआ था वह राजकुमारी के ही कमरे में रहता था लेकिन राजकुमारी कमरे के अंदर घूम रही थी जब राजकुमारी ने खिड़की के बाहर देखा तो उसे एक बुढ़िया नजर आई वह बुढ़िया बगीचे में क्या कर रही है राजकुमारी को कुछ भी समझ में नहीं आ रहा था वह बढ़िया राजकुमार की खिड़की की ओर देख रही थी राजकुमारी के मन में उसके प्रति जानना बहुत जरूरी हो गया था राजकुमारी उस बुढ़िया को ऊपर से देख रही थी तभी बुढ़िया ने उसे बुलाना चाहा राजकुमारी ने मना कर दिया और कहा कि अगर तुम्हें ही आना है तो तुम मेरे पास आ सकती हो मैं नीचे नहीं आ सकती

Read More-बीरबल और नगर की कहानी

Read More-बीरबल की समस्या भी दूर हुई कहानी

उसके बाद बुढ़िया वहां से गायब हो गई और उसके कमरे में अचानक आ गई है देखकर राजकुमारी डर गई है कोई साधारण बुढ़िया नहीं थी बल्कि एक जादूगरनी थी मैं बुढ़िया कहने लगी कि मैं सब कुछ जानती हूं तुम्हें बाहर जाना बहुत पसंद है लेकिन तुम बाहर नहीं जा सकती अगर तुम चाहो तो मैं तुम्हें बाहर की दुनिया दिखा सकती हूं राजकुमारी ने कहा कि अगर यह हो सकता है तो बहुत अच्छी बात है अगर तुम मेरे लिए यह कर सकती हो तो मुझे बहुत अच्छा लगेगा जादूगर बुढ़ियाने उसे एक जादू दिया और उसके बाद बुढ़ियाऔर राजकुमारी कमरे से गायब हो गई थी

 

जब वह गायब होकर एक जगह पर पहुंची तो वह जगह बहुत ही सुंदर दिखाई दे रही थी चारों और बहुत ही हरियाली छाई हुई थी और शांति भी नजर आ रही थी वह बाहर की दुनिया थी यह देखकर राजकुमारी बहुत ही अच्छा महसूस कर रही थी वह जादूगर बुढ़िया के साथ बहुत जगह घूम रही थी उसे जगह भी जादूगर बुढ़ियाने दिखाई थी जो कि वह नहीं जानते थे राजकुमारी को यह सब देख कर बहुत अच्छा लग रहा था आज उसे पता चल गया था कि बाहर की दुनिया बहुत अच्छी है मैं महल से बाहर कभी गई नहीं इसलिए मुझे यह सब बहुत पसंद आ रहा था

 

जादूगर बुढ़िया ने पूछा कि तुम्हें कैसा लग रहा है राजकुमारी ने कहा कि मुझे तो बहुत अच्छा लग रहा है यह जीवन तो बहुत अच्छा है मेरे महल की जिंदगी तो बहुत ही बोरियत से भरी हुई है वहां पर मेरा मन नहीं लगता है मेरा मन तो बाहर की दुनिया में लगता है जादूगर बुढ़िया कहने लगी कि ठीक है अगर तुम ऐसा चाहती हो तो तुम हर रोज यहां पर आ सकती हो मैं तुम्हारे पास आऊंगी और तुम्हें एक नई दुनिया दिखाऊंगी इस तरह जादूगर बुढ़िया वापिस महल चुकी थी और राजकुमारी भी साथ में आ गई थी अगली सुबह ही जादूगर बुढ़िया उसके पास पहुंच गई थी और राजकुमारी को लेकर गायब हो गई थी और उसने वह दुनिया दिखाई जिसमें सभी लोग घूम रहे थे बाजार लगा हुआ था

Read More-कबीले के पास की गुफा हिंदी कहानी

Read More-शेर का हमला बीरबल की कहानी

Read More-बीरबल ने बचाया अकबर को नयी कहानी

सभी लोग कुछ ना कुछ सामान खरीद रहे थे यह देखकर राजकुमारी को बहुत कुछ अच्छा लग रहा था क्योंकि राजकुमारी सब बहुत ही कम देखा था इसलिए वह यह देखकर बहुत पसंद कर रही थी जादूगर बुढ़िया ने एक लड़के से उसे मिलाया और वह लड़का भी काफी सुंदर था राजकुमारी उसे देखकर यह सोचने लगी कि अगर यह लड़का राजकुमार होता तो मेरी शादी हो गई होती तभी बुढ़िया ने कहा कि अगर तुम मुझसे शादी करना चाहती हो तो मैं इसे भी राजकुमार बना देती हूं और बुढ़िया ने अपनी जादू से राजकुमार बना दिया और इस तरह वह दोनों ही साथ साथ में घूमने लगे खरगोश चारों ओर घूम रहा था लेकिन उसे कहीं भी राजकुमारी नजर नहीं आ रही थी सुबह का वक्त था और वह राजकुमारी को वहां नहीं देख पा रहा था वह भागता भागता हुआ राजा के पास गया उसके बाद राजा को कुछ भी समझ में नहीं आ रहा था

 

लेकिन खरगोश राजा को खींच रहा था जैसे ही राजा कमरे में आए तो देखा की राजकुमारी वहां नहीं है चारों तरफ राजकुमारी को ढूंढ लिया गया लेकिन राजकुमारी कहीं भी नजर नहीं आ रही थी राजा को शक हो गया था कि कहीं राजकुमारी बाहर गई है लेकिन बाहर पहरेदार ने मना कर दिया था उन्होंने कहा कि यहां से राजकुमारी बाहर नहीं गई है महल के दरवाजे अभी भी बंद है राजकुमारी बाहर नहीं जा सकती लेकिन राजकुमारी कहीं भी मिल नहीं रही थी राजा और रानी दोनों ही राजकुमारी के कमरे में बैठे हुए थे तभी अचानक राजकुमारी और बुढ़िया उस कमरे में आ गया और यह देखकर राजा घबरा गए और कहने लगे कि यह जादूगर बुढ़िया ही सब कुछ कर रही है

 

इसे पकड़ लिया जाए इससे पहले जादूगर बुढ़िया को पकड़ा जाता जादूगर बुढ़िया गायब हो चुकी थी और राजकुमारी ने ऐसा करने से मना कर दिया तो उन्होंने कहा कि आपको उसे नहीं पकड़ना चाहिए उसने मेरी बहुत मदद की थी राजा ने पूछा कि इस जादूगर बुढ़िया ने तुम्हारी मदद किस प्रकार की थी राजकुमारी ने बताया कि जब मैं महल में बोर घूम रही थी मेरा मन महल में नहीं लग रहा था तब जादूगर बुढ़िया ने मेरी मदद की थी और उसने मुझे दुनिया दिखाएं जो कि मैंने पहले सपने में भी नहीं देखी थी राजा और रानी समझ चुके थे कि जादूगर बुढ़िया ने जरूर कोई जादू किया होगा जिसकी वजह से राजकुमारी पर यह असर हुआ है

 

राजकुमारी को कहा गया कि आज के बाद जादूगर बुढ़िया से मिलने की जरूरत नहीं है अगर ऐसा बार बार हुआ तो उस जादूगर बुढ़िया को पकड़ लिया जाएगा और उसे सजा दी जाएगी यह सुनकर राजकुमारी डर गई और फिर जादूगर बुढ़िया को कभी भी उसने याद नहीं किया राजकुमारी जानती थी कि वह दुनिया बहुत अच्छी है लेकिन वह अब उस जगह बिल्कुल भी नहीं जा सकती अब उसे उस लड़के की भी याद आती थी जो कि जादूगर बुढ़िया ने उसे मिलाया था अब काफी दिनों से जादूगर बुढ़िया उस तरफ नहीं आ रही थी वह बगीचे के पास भी नजर नहीं आ रही थी पता नहीं जादूगर बुढ़िया अब कहां चली गई है

Read More-उड़ती हुई रेत की कहानी

Read More-अकबर के कौन नजदीक है कहानी

Read More-बीरबल की समझ नयी कहानी

वह राजकुमारी से मिलने क्यों नहीं आती है इस बारे में राजकुमारी हमेशा सोचा करती थी मगर इस बात का जवाब राजकुमारी को मिल नहीं रहा था लेकिन वह यादें राजकुमारी के पास अभी भी थी जिन्हें याद करके सोच रही थी कि वह जादूगर बुढ़िया पता नहीं कहां होगी 1 दिन राजकुमारी रात को सोई हुई थी तभी जादूगर बुढ़िया अचानक उसके कमरे में आ गई है रात का समय था बुढ़िया ने उसे जगाया और राजकुमारी उठ गई उसके बाद राजकुमारी ने पूछा कि तुम काफी दिनों से यहां नजर नहीं आई मैं तुम्हारा इंतजार कर रही थी लेकिन तुम अभी तक भी नहीं आई थी और आज इतने दिनों बाद यहां पर आई हो जादूगर बुढ़िया ने कहा कि मैं समझ गई थी कि तुम्हारे पिताजी को मेरा आना यहां पर अच्छा नहीं लगता है इसलिए मैं यहां पर नहीं आई लेकिन मुझे तुम्हारी याद आ रही थी इसलिए मैं यहां पर तुमसे मिलने आई हूं

 

जादूगर बुढ़िया ने कहा कि मुझे याद आ रहा था कि तुम मुझे जरुर याद करोगी इसलिए मैं तुमसे मिलने आई हूं मुझे पता है कि तुम महल में हमेशा ही यह सोचती होगी कि मुझे यहां से बाहर जाना चाहिए लेकिन निकल नहीं पा रही थी इसलिए मैंने सोचा कि तुम फिर से उस जगह पर घूम सकती हो और इस बारे में राजा को बिल्कुल भी खबर नहीं होगी जादूगर बुढ़िया राजकुमारी को फिर ले गई और राजकुमारी फिर उस लड़के से मिली और इस बार राजकुमारी ने फैसला किया कि मुझे उस लड़के से शादी कर लेनी चाहिए राजकुमारी और वह लड़का हमेशा साथ साथ घूमते रहे और काफी वक्त बीत गया था उन्होंने शादी कर ली थी और इस बात की खबर बुढ़िया को हो चुकी थी

Read More-राजकुमारी और तितली की कहानी

Read More-सब-कुछ संभव है कहानी

जादूगर बुढ़िया ने कहा कि तुम्हें ऐसा नहीं करना चाहिए था क्योंकि तुम ने शादी कर ली है और इस बात की खबर अगर राजा को हो गई तो वह यह शादी  नहीं मानेंगे और तुम्हें सजा दे सकते हैं राजकुमारी ने कहा कि इस बारे में आप चिंता ना करें वह मुझे कुछ नहीं कहेंगे उसके बाद जादूगर बुढ़िया और उस लड़के को साथ में लेकर राजकुमारी के कमरे में आ गई थी दोनों की शादी हो चुकी थी वह दोनों उसी कमरे में थे जब सुबह हुई तो राजा उस कमरे में आए और उस लड़के को देखकर पूछने लगे कि कौन है राजकुमारी ने अपने पिताजी को बताया है कि हमारी शादी हो चुकी है और यह मेरे पति है यह सुनकर राजा ने कहा कि ऐसा नहीं हो सकता तुम्हारी शादी जल्दी और इसे कैसे हो सकती है कौन है हम तो इसके बारे में कुछ भी नहीं जानते उसके बाद राजा ने बुढ़िया को देखा और कहा कि यह सब कुछ तुमने ही किया है तुम्हारी वजह से यह सब हो रहा है मुझे तुम्हें सजा देनी होगी उसके बाद राजकुमारी ने कहा कि इसमें इनकी कोई गलती नहीं है

Read More-भालू को रंग लगाया बच्चों की कहानी

Read More-दो शेर की नयी कहानी

यह लड़का मैंने पसंद किया है और शादी भी मेरी मर्जी से हो रही है राजा समझ चुके थे की राजकुमारी ने यह फैसला अपनी मर्जी से किया होगा तभी यह शादी हुई है, जादूगर बुढ़िया को उसने छोड़ दिया और कहा कि इसमें तुम्हारी कोई गलती नहीं तुम जा सकती हो जो नसीब में होता है वह हो चुका है उसे मैं भी नहीं बदल सकता उसके बाद जादूगर बढ़िया जा चुकी थी और वह लड़का और राजकुमारी वहीं पर रह गए थे राजा ने वह शादी स्वीकार कर ली थी जबकि उनका मन बिल्कुल भी इस शादी को स्वीकार करने के लिए नहीं कर रहा था मगर अब राजा कुछ नहीं कर सकते थे क्योंकि राजकुमारी ने शादी कर ली थी जिसे अब हम दूर नहीं कर सकते थे वह लड़का और राजकुमारी दोनों साथ में रहने लगे और समय व्यतीत करने लगे

Read More-बीरबल की कहानी

Read More-राजा और चोर की कहानी

राजा इस बात को जान गए थे कि जो हम चाहते हैं वह जीवन में कभी नहीं होता हमारे चाहने से भी कुछ नहीं होता है बहुत कुछ अपनी मर्जी से भी चलता है जिसको हम बदल नहीं सकते वह चाहते थे कि राजकुमारी की शादी बहुत अच्छी जगह पर हो जाए मगर ऐसा नहीं हुआ था और इस तरह राजा ने यह स्वीकार किया कि दुनिया में कभी भी कुछ भी हो सकता है क्योंकि हालात इंसान को बदल सकते हैं, राजकुमारी और जादूगर बुढ़िया की कहानी, Princess and magician short stories in hindi अगर आपको यह कहानी पसंद आई है तो आगे भी शेयर करें कमेंट करके हम एक बताएं.

Read More Hindi Story :-

Read More-जामुन की तलाश बच्चों की कहानी

Read More-खाने की समस्या बच्चों की कहानी

Read More-अकबर बीरबल की मजेदार नयी कहानियां

Read More-अकबर-बीरबल और मुखिया की कहानी

Read More-नानी की पुरानी कहानी

Read More-साथ देना जरुरी एक कहानी

Read More-भाषाओं का ज्ञान कहानी

Read More-अनोखी भाषा की हिंदी कहानी

Read More-मेरा घर हिंदी कहानी

Read More-आज का दिन हिंदी कहानी

Read More-कुछ भी नहीं है एक कहानी

Read More-ये दूरियां हिंदी कहानी

Read More-कल क्या होगा कहानी

Read More-मन की जीत एक कहानी

Read More-बरसात के दिन आये कहानी

Read More-आप क्या करते हो हिंदी कहानी

Read More-कक्षा पांच की कहानी

Read More-एक परिंदे की कहानी

Read More-भेड़िये की नयी हिंदी कहानी

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

error: Content is protected !!