chhote bachho ki kahani and chhote bachho ki fish stories

chhote bachho ki kahani and chhote bachho ki fish stories

आज सभी छोटे बच्चे (chhote bachho ki kahani) एक साथ बैठे हुए थे और इस बारे में सोच रहे थे कि उन्हें कौन सा ऐसा खेल खेलना चाहिए जिसकी वजह से उन्हें काफी अच्छा महसूस हो पाए छोटे बच्चे (chhote bachho ki fish stories) इस बात के बारे में सोच ही रहे थे तभी उन्होंने नदी के किनारे पर एक मछली दिखाई थी यह मछली देखने में बहुत अच्छी लग रही थी क्योंकि उसका रंग सुनहरा था

chhote bachho ki kahani : छोटे बच्चों के साथ मछली की कहानी

chhote bachho ki kahani

chhote bachho ki kahani

सभी छोटे बच्चे (chhote bachho) इस (fish) मछली को देखकर बहुत खुश हो रहे थे क्योंकि उसका रंगम बहुत ही सुनहरा था और धूप के कारण वे चमक दे रहा था, सभी छोटे बच्चे (chhote bachho) यही चाहते थे कि उस मछली (fish) को पकड़ा जाए लेकिन वह इस बात को जानते थे कि अगर नदी के किनारे पर जाते हैं तो यह भी हो सकता है कि उनका पैर फिसल जाए इसलिए वह नदी के किनारे पर नहीं जा सकते थे वह इंतजार कर रहे थे कि कोई आए और उनके लिए वह मछली पकड़ कर लाए

कौवा की दो नयी कहानी

लेकिन ऐसा कोई भी नहीं था जो सुनहरी मछली को पकड़ पाए इसलिए वह छोटे बच्चे (chhote bachho) वहीं पर खड़े हुए थे कुछ देर बाद इंतजार करने के पर भी कोई नजर नहीं आ रहा था इसलिए वह इस बारे में सोच रहे थे कि अगर वह सुनहरी मछली (fish) हमें नहीं मिलती है तो इसमें कोई बात नहीं है क्योंकि हम नदी के किनारे नहीं जा सकते हैं वह मछली पकड़ने के लिए एक जाल को बना रहे थे उन्हें लग रहा था कि अगर हम उस जाल को बना लेते हैं तो उस मछली (fish) को आराम से पकड़ सकते हैं सभी छोटे बच्चे (chhote bachho) मिलकर उस जाल को बना चुके थे लेकिन उस जाल को बनाने के बाद उस मछली को पकड़ पाना बहुत ही मुश्किल था

राजकुमारी और जादूगर बुढ़िया की कहानी

क्योंकि उसके लिए नदी के किनारे जाना होता है और नदी के किनारे जाने पर उन्हें मुसीबत का सामना करना पड़ सकता है इसलिए वह इस बारे में भी सोच नहीं सकते थे लेकिन सभी छोटे बच्चे (chhote bachho) इस बात को जानते थे कि आज हम उस मछली को जरूर पकड़ेंगे इसलिए वह इंतजार कर रहे थे तभी एक आदमी सामने से आता है वह सभी बच्चे भागकर उस आदमी के पास जाते हैं और कहते कि हमारे लिए उस मछली को पकड़ दो वह बहुत ही अच्छी मछली (fish) है

राजा और प्रजा की नयी किड्स कहानी

वह आदमी छोटे बच्चों से कहता है कि तुम्हें यहां पर नहीं रहना चाहिए क्योंकि यह नदी का किनारा है और यहां पर कभी भी नदी का पानी आ सकता है और आप लोग पानी में डूब सकते हो इसलिए आपको अपने घर चले जाना चाहिए लेकिन वह सभी छोटे बच्चे (chhote bachho) इस बात को नहीं मान रहे थे क्योंकि उन्हें तो लग रहा था कि जब तक उन्हें वह सुनहरी मछली (fish) नहीं मिल जाती है तब तक वह इस जगह से नहीं जाएंगे उस आदमी के समझाने पर भी छोटे बच्चे नहीं जा रहे थे

पेड़ के भूत की जातक कथा

इसलिए वह आदमी कहता है कि ठीक है मैं उस मछली को पकड़ देता हूं उसके बाद तुम्हें घर चले जाना चाहिए सभी छोटे बच्चे (chhote bachho) कहने लगे कि ठीक है अगर आप उस मछली को पकड़ लेते हैं तो हम उसके बाद अपने घर चले जाएंगे वह आदमी सुनहरी मछली (fish) को देखता है वह सोचता है कि यह तो बहुत अच्छी मछली है और इस पर सूरज की किरने जब भी पड़ रही है यह चमकती हुई जा रही है शायद यही कारण होगा कि इन छोटे बच्चों (chhote bachho) को यह मछली बहुत पसंद आई है इसी वजह से उसे पकड़ना चाहते हैं

पक्षी ने दी परेशानी हिंदी कहानी

वह आदमी मछली को पकड़ने की कोशिश करता है उस मछली (fish) को पकड़ने के बाद मछली पकड़ी जाती है तो वह नजदीक से बहुत सुन्दर होती है तभी वह आदमी एक छोटा सा गड्ढा बनाता है और उसमें पानी भरने के बाद मछली को छोड़ देता है जिससे कि वह उस पानी में जिंदा रह सके आदमी कहने लगा कि अब तुम्हें इस मछली को देख लेना है और उसके साथ थोड़ी देर खेलने के बाद तुम्हें अपने घर चले जाना चाहिए और मैं इस मछली (fish) को दोबारा नदी में छोड़ दूंगा

बीरबल ने बचाया अकबर को नयी कहानी

क्योंकि अगर ऐसा नहीं किया गया तो यह मछली मर सकती है सभी छोटे बच्चे (chhote bachho) कहने लगे ठीक है हम इसके साथ थोड़ी देर खेल लेते हैं और फिर उसके बाद हम घर चले जाएंगे वह आदमी भी उन छोटे बच्चों को देख रहा था कि कैसे बहुत खुशी हो रहे थे कि उसकी वजह से छोटे बच्चे (chhote bachho) बहुत खुश थे और वे उस मछली के साथ खेल रहे थे काफी देर खेलने के बाद अब वह आदमी आता है और कहता है कि अब तुम्हें घर जाना चाहिए मैं इस मछली (fish) को नदी में छोड़ देता हूं उसके बाद बच्चे अपने घर की ओर चले जाते हैं वह आदमी से मछली को नदी में छोड़ देता है और वह भी अपने घर की ओर चला जाता है

बंदर और मगरमच्छ की नयी कहानी

आज छोटे बच्चे (chhote bachho) बहुत खुश नजर आ रहे थे क्योंकि आज वे सुनहरी मछली (fish) के साथ खेल कर आए थे जो कि उन्हें दूर से दिखाई दे रही थी उस आदमी की वजह से आज उन्हें बहुत खुशी मिली थी क्योंकि उसने ही उस मछली को पकड़ा था उनके लिए खेलने के लिए दी थी वह आदमी भी सोचता हुआ घर जा रहा था कि आज मैंने बच्चों को एक मछली (fish) दी थी जिसकी वजह से वह खेल पाए थे जीवन में किसी को ख़ुशी देने के बाद बहुत अच्छा लगता है जैसा उस आदमी को लग रहा था आज उन्हें पता था की उन्हें वह मछली (fish) खेलने के लिए मिली थी

Chhote bachho ki kahani and chhote bachho ki fish stories

यह कहानी हमें यही बताती है कि हमें कभी भी नदी के किनारे नहीं जाना चाहिए अगर हम नदी के किनारे जाते हैं तो मुसीबत में पड़ सकते हैं इसलिए आपको इंतजार करना होता है कि कोई भी बड़ा वहां पर आए और आपकी मदद कर सके इसलिए यह बात सभी बच्चों को ध्यान में रखनी चाहिए अगर आपको यह छोटे बच्चों की कहानी Chhote bachho ki kahani and chhote bachho ki fish stories, पसंद आई है तो आगे भी शेयर करें कमेंट करके हमें बताएं

Read More Hindi Kids Story :-

जादुई चक्की की कहानी

बच्चो की दो कहानी

परियों की कहानी में राजकुमार

छोटा जादूगर किड्स कहानी

लड़के की मेहनत नयी कहानी

राजा और रानी की अच्छी कहानी

आठ सबसे अच्छी कहानी

दो शेर की नयी कहानी

मेरी शक्ल का आदमी किड्स कहानी

सबसे अच्छी जातक कथा

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

error: Content is protected !!