किले का रहस्य, horror stories in hindi

horror stories in hindi

किले का रहस्य 

horror stories.jpg

horror stories in hindi

 

horror stories in hindi, बात कुछ दिनों की है यकीन आये या न आये पर यह सच्ची घटना है बहुत से लोगो को विस्वास नहीं होता है भूतो पर, पर क्या करे जिसके साथ घटित होता है वो ही जानता है आप ये तो जानते ही होंगे की मध्यप्रेदश में बहुत से पुराने किले है.




ये बात है असीरगढ़ के एक किले की कुछ दोस्तों ने उस किले में घूमने का प्लान तैयार किया और सब को शाम को आने को कहा, ये दो दोस्त ने प्लान किया की हम, शाम साथ बजे यह पर मिलेंगे और अंदर जायँगे, जस की तय हुआ था दोनों दोस्त शाम साथ बजे आ गए,




 

शाम के समय यह किला बंद कर दिया जाता था, सो अब तो यहाँ ताला लगा हुआ है और हम दो दोस्त ही है यहाँ पर, और कोई नहीं,

बीरबल की कहानी

अब देखा की ये तो बंद है हमे लगा की ये हमेशा से खुला रहता होगा पर कब क्या करे , ताला तो बंद उसके चारो और से देखा तो एक रास्ता दिखाई दिया और दोनों दोस्त उसी में चले गए, और अंदर घूमने लगे गुमते हुए वो बाते की जो करनी थी की ये किला तो बहुत साल पुराना है, उनमे से एक चाट पर चला गया और एक नीचे घूमता रहा.

रेल  का डिब्बा

एक दोस्त जो ऊपर चाट पर घूम रहा था, उसे एक कमरे में जहा बहुत ही अंधेरा था वह से किसी के रोने की आवाज आने लगी, अब वो यही सोच रहा था की कोई हमारे तरह यही पर फास गया है और निकल नहीं पा रहा है इसलिए अंदर कोई रो रहा है.

एक आदमी

अंदर जाने पर एक बूढी औरत अंदर रो रही है देखी, अब सोचने की बात ये है की बूढ़ी औरत कहा से आयी और यहाँ कैसे फस गयी, कुछ देर देखने के बाद उसने पूछा की आप यहाँ क्या कर रही है और तुम रो क्यों रही है, उसकी बात सुनकर बूढी चौकी और कहा की तुम मुझे सुन सकते हो, में सुन ही सकता नहीं बल्कि देख भी रहा है आपको,

सच्चा भक्त

समझ में तो आ गया की ये कोई आम औरत नहीं है बल्कि कोई आत्मा है, वो डरावनी बिलकुल भी नहीं लग रही थी तो दर भी नहीं लग रहा था, अब सोचने की बात थी की अब तक और किसी ने इसे महसूस क्यों नहीं किया था.

एक लड़की  की कहानी

बूढी औरत ने अपने पास बुलाया और कहा की तुम्हे कोई नुक्सान नहीं होगा और तुम्हे डरने की कोई जरूरत भी नहीं, बहुत साल हो गए मुझे आवाज लागते हुए पर किसी ने मुझे अभी तक नहीं सुना. तुम ही हो जिसने पहली बार मुझे देखा और सुना.

हमारे रिश्ते

बूढ़ी औरत ने कहा की मेरा नाम इंदुमती है यहाँ के राजा की छोटी रानी हू, एक दिन बड़ी रानी ने मुझे दोखे से विष दे दिया. और इस बात की घबर राजा को इस प्रकार दी की रानी की म्रत्यु साँप के काटने से हुई है सो राजा को कभी पता ही नहीं चला की उस दिन क्या हुआ था.

भूत कहा रहते है जानिये

और आज इतने सालो बाद आज तुमने मेरी आवाज सुनी और में तुम्हारी बहुत ही आभारी हू. ये सब सुनकर उस दोस्त के रोंगटे खड़े हो रहे थे और दर भी बढ़ता ही जा रहा था उसकी बात सुनकर, पर और कुछ नहीं बूढी औरत ने कहा की ये राज़ बताने के लिए में अभी तक जिन्दा हू शायद अब मुक्ति मिल जाएगी, और बूढी औरत वहाँ से गायब हो गयी, बाहर देखा तो हल्की रौशनी अभी भी थी, अभी पूरा अंधेरा नहीं हुआ था समय लगभग साढ़े साथ का हुआ था.

एक निठला व्यक्ति 

मेरे दोस्त ने आवाज़ लगाई और में छत पर बेहोश पड़ा था और सर पर चोट आयी थी दोस्त ने पूछ की तुम यहाँ गिरे हुए हो और में सारी जगह पर ढूंढ लिया, क्या हुआ था और अपने दोस्त को सारी बात बताई पर उसे मुझ पर कोई विस्वास नहीं था और हम दोनों घर की और वापिस चल दिए,

 

horror stories in hindi, पता नहीं ये कोई सपना था या कोई सचाई, बस सोचते ही वो वाक्य सामने आ ही जाता है, पता नहीं की इस दुनिया में कौन सी और ऐसी कितनी सचाई छुपी है कौन जाने.

Leave a Reply

error: Content is protected !!