संगठन की कहानी, Organization story in hindi

Organization story in hindi

संगठन की कहानी

hindi story.jpg
kids story in hindi

एक गांव के वनो मैं एक बहुत ही विशालकाय सांप रहता था. वह बहुत अत्यंत क्रूर था. जब वह अपने बिल से निकलता तो सब जीव उससे डरकर भाग खडे होते. उसका मुंह इतना विकराल था कि भेड़िये तक को निगल जाता था. एक बार सांप शिकार की तलाश में घूम रहा था. सारे जीव तो उसे बिल से निकलते देखकर ही भाग चुके थे. उसे कुछ न मिला तो वह क्रोधित होकर फुफकारने लगा और इधर उधर खाक छानने लगा.

 

वहीं निकट में एक बकरी अपने नवजात शिशु को पत्तियों के ढेर के नीचे छिपाकर स्वयं भोजन की तलाश में दूर निकल गई थी. सांप की फुफकार से सूखी पत्तियां उडने लगी और बकरी का बच्चा नजर आने लगा. सांप की नजर उस पर पडी बकरी का बच्चा उस भयानक जीव को देखकर इतना डर गया कि उसके मुंह से चीख तक न निकल पाई. सांप ने देखते ही देखते गाये के बच्चे को निगल लिया. तब तक बकरी भी लौट आई थी, पर वह क्या करती. आंखों में आंसू भर जड होकर दूर से अपने बच्चे को काल का ग्रास बनते देखती रही. गाये के शोक का ठिकाना न रहा. उसने किसी न किसी तरह सांप से बदला लेने की ठान ली.

बकरी की एक नेवले से दोस्ती थी. शोक में डूबी गाये अपने मित्र नेवले के पास गई और रो रोकर उसे अपनी दुखभरी कथा सुनाई. नेवले को भी बहुत दुख हुआ. वह दुख भरे स्वर में बोला मित्र, मेरे बस में होता तो मैं उस सांप के सौ टुकडे कर डालता. पर क्या करें, वह छोटा मोटा सांप नहीं है, जिसे मैं मार सकूं वह तो एक सांप है. अपनी पूंछ की फटकार से ही मुझे अधमरा कर देगा. लेकिन यहां पास में ही चीटिंयों की एक बांबी हैं. वहां की रानी मेरी मित्र हैं. उससे सहायता मांगनी चाहिए.

Read More-शेखचिल्ली की दुकान

Read More-छोटा भीम और जादूगरनी

बकरी निराश स्वर में विलाप किया पर जब तुम्हारे जितना बडा जीव उस सांप का कुछ बिगाडने में समर्थ नहीं हैं तो वह छोटी सी चींटी क्या कर लेगी. नेवले ने कहा ऐसा मत सोचो. उसके पास चींटियों की बहुत बडी सेना हैं. संगठन में बडी शक्ति होती हैं. गाये को कुछ आशा की किरण नजर आई. नेवला गाये को लेकर चींटी रानी के पास गया और उसे सारी कहानी सुनाई. चींटी रानी ने सोच विचारकर कहा हम तुम्हारी सहायता करेंगे . हमारी बांबी के पास एक संकरीला नुकीले पत्थरों भरा रास्ता है. तुम किसी तरह उस सांप को उस रास्ते से आने पर मजबूर करो. बाकी काम मेरी सेना पर छोड दो. नेवले को अपनी मित्र चींटी रानी पर पूरा विश्वास था इसलिए वह अपनी जान जोखिम में डालने पर तैयार हो गया.

Read More-नकल के लिए अक्ल जरूरी

Read More-छोटा भीम और जादूगरनी

दूसरे दिन नेवला जाकर सांप के बिल के पास अपनी बोली बोलने लगा. अपने शत्रु की बोली सुनते ही सांप क्रोध में भरकर अपने बिल से बाहर आया. नेवला उसी संकरे रास्ते वाली दिशा में दौडा. सांप ने पीछा किया. सांप रुकता तो नेवला मुडकर फुफकारता और सांप को गुस्सा दिलाकर फिर पीछा करने पर मजबूर करता. इसी प्रकार नेवले ने उसे संकरीले रास्ते से गुजरने पर मजबूर कर दिया. नुकीले पत्थरों से उसका शरीर छिलने लगा. जब तक सांप उस रास्ते से बाहर आया तब तक उसका काफ़ी शरीर छिल गया था उसी समय चींटियों की सेना ने उस पर हमला कर दिया. चींटियां उसके शरीर पर चढकर छिले स्थानों के नंगे मांस को काटने लगीं. सांप तडप उठा. अपना शरीर पटकने लगा जिससे और मांस छिलने लगा और चींटियों को आक्रमण के लिए नए नए स्थान मिलने लगे. सांप चींटियों का क्या बिगाडता. वे हजारों की गिनती में उस पर टूट पड रही थीं. कुछ ही देर में क्रूर सांप ने तडप तडपकर दम तोड दिया. इसलिए ये बात एक दम से सही है की एक छोटे से छोटा संघठन भी बड़ो को धूल तक छटा देता है. हमे सदा ही एक जुट होकर रहना चाहिए, इससे हमे ही फायदा होगा.

Read More-राजा के खजाने की कहानी

Read More-सबसे गरीब कौन एक कहानी

Read More-जल परी की कहानी

Read more-ऊंट और सियार की कहानी

Read More-राजा और सेवक की कहानी 

Read More-दरबारियों की परीक्षा

Read More-मोटू पतलू और चिराग

Read More-सोनू के हाथी की कहानी

Read More-मोटू पतलू और नगर की सफाई

Read More-अकबर और बीरबल की कहानी

Read More-लालच बुरी बला है

Read More-बाघ और पंडित की कहानी

Read More-राजा का गुस्सा एक कहानी

Read More-बच्चों की कहानी

Read More-बोलने वाले पक्षी

Read More-अलादीन का जादुई चिराग

Read More-कौवे और मैना की बाल कहानियां

Read More-चालाक लोमड़ी और भालू की कहानी

Read More-खरगोश की कहानी 

Read More-बच्चों का पार्क

Read More-अकबर बीरबल और युद्ध

Read More-बड़े हाथी की कहानी

Read More-एक शिक्षाप्रद कहानी

Read More-शेर और खरगोश

Read More-मोटू पतलू और साधू बाबा

Read More-मोटू पतलू और फिल्म शूटिंग

Read More-मोटू पतलू और जादुई फूल

Read More-मोटू पतलू और जादुई टापू

Read More-मोटू पतलू और मिलावटी दूध

Read More-छोटा भीम और जादूगरनी

Read More-छोटा भीम और क्रिकेट मैच

Read More-मोटू-पतलू का सपना

Read More-चाचा चौधरी और साबू

Read More-पेटू पंडित हास्य कहानी

Read More-शेखचिल्ली की कुश्ती

Read More-शेखचिल्ली का मजाक

Read More-मोटू और पतलू का जहाज

Read More-अकल की दवाई

Read More-कौवे का पेड़

Read More-छोटू का पार्क कहानी 

Read more-ऊंट और सियार की कहानी

Read More-राजा और लेखक

Read More- धनवान आदमी हिंदी कहानी

Read More-सेब का फल हिंदी कहानी

Read More-ढोंगी पंडित की कहानी 

Read More-बेवकूफ दोस्त की कहानी

Read More-मोटू और पतलू के समोसे

Read More-अमरूद किस का हिंदी कहानी

Read More-छोटा भीम और नगर में चोर

Read More-छोटा लड़का और डॉग

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

error: Content is protected !!