Conversation between two friends short stories in hindi

Conversation between two friends short stories in hindi

पहला दोस्त (Conversation between two friends short stories in hindi) दूसरे दोस्त के पास आता है और कहता है की यह अच्छी बात नहीं है तुमने मुझे बताया भी नहीं और तुम शहर जा रहे हो, यहां पर मेरा कोई भी अच्छा दोस्त नहीं है तुम ही मेरे बहुत अच्छे दोस्त हो और तुम city जा रहे हो ऐसा क्या हुआ है, जो यह गांव छोड़कर तुम जा रहे हो, दूसरा friends कहता है की अब हम गांव में नहीं रह सकते हो, मेरे पिताजी ने शहर जाने का फैसला किया है

Conversation between two friends short stories in hindi

Conversation between two friends short stories in hindi

Conversation between two friends short stories in hindi

हमारा परिवार अब city जा रहा है मुझे इस बता का दुःख है की में तुमसे अब अलग हो जाँऊगा, मगर में यह बता जानता हु की तुम मेरे साथ शहर में रह सकते हो तुम्हारा यहां पर कोई नहीं है में ही तुम्हारा friends हु यह बात तुम जानते हो और अब मेरे बाद तुम अकेले पड़ जाओगे इसलिए मेरी बात मानो और मेरे साथ शहर में रहो, अपने friends की बात सुनकर वह कहता है की ऐसी बात नहीं है में यहां से जा नहीं सकता हु क्योकि मेरे पास जो जमीन है इसी में मुझे खेती भी करनी है

जिंदगी का सबक कहानी

यह बात तुम समझते हो जब तुम अच्छा पढ़ लोगे तो मुझसे मिलने जरूर आना because में तो पढ़ नहीं सकता हु यहां पर कोई school भी नहीं है और दूसरी बात यह भी है की में अकेला रहता हु, यह बात तुम समझते हो मुझे खुद ही खेती करनी है फसल उगानी है और इन सबके बीच study कहा हो सकती है अब तुम शहर जा रहे हो तो वह अपर कही अच्छे स्कूल भी होंगे और जब तुम बड़े आदमी बन जाओ तो मुझसे मिलने जरूर आना इस तरह की बातें दोनों friends में हो रही थी

short stories in hindi

short stories in hindi

उसके बाद दूसरा friends चला जाता है पहला दोस्त अब अकेला यही रह जाता है अब उसे ही सब कुछ करना था वह अपने friends से कब मिल पायेगा वह इस बात को नहीं जानता है अभी उनकी उम्र भी ज्यादा नहीं थी वह अपने काम में फिर से लग जाता है पहले खेती करता है उसके बाद जो भी village में उससे काम लेना चाहता है वह उनका काम भी कर देता है इससे उसे खाना भी मिल जाता है और इस तरह उनकी life चलती है जिसके बारे में वह सोच नहीं सकते है but काम तो करना ही है 

कुम्हार की हिंदी कहानी

वह अपनी फसल पर धयान देता है उसकी फसल बहुत अच्छी होती है but इस बीच उसे अपने दोस्त की याद आती है आज बहुत time बीत गया है वह मुझसे मिलने नहीं आया है जबकि उसे आ जाना चाहिए था में तो city नहीं जा सकता हु क्योकि शहर में वह किस जगह रहता है कुछ पता नहीं है, but वह तो मुझसे मिलने आ सकता है में उसका इंतज़ार कर रहा हु but वह नहीं आया है वह इस तरह की बातें करता हुआ जा रहा था

मेरा पिछला अतीत नयी कहानी

तभी उसके एक आदमी मिलता है देखने में वह city से आया लगता है उसकी कार खराब हो गयी थी इसलिए वह पूछता है की यह से village में जाने के लिए कोई सवारी मिल सकती है वह कहता है की सवारी यहां पर नहीं चलती है आपको पैदल ही जाना होगा, but धूप बहुत तेज है इस धूप में चलना बहुत मुश्किल था वह कहता है की मुझे नहीं लगता है की आप पैदल चल सकते हो ऐसा करो की आप मेरे साथ घर चलो मेरे पास घोडा भी है आप उस पर बैठ सकते है

नैतिक शिक्षा नयी कहानी

वह तैयार हो जाता है और घोड़े पर बैठ जाता है वह बातें करते हुए जाते है जब वह घर पहुंच जाता है तो वह घर तो उसे याद आता है because वह बचपन में यह ऐसे अपने दोस्त से बात करके गया था, उसे अब समझ आ जाता है की यह मेरा friend है जिसके साथ में यहां पर आया हु वह कहता है की अब हम पहुंच गए है आप घोड़े से नीचे आ जाए और आराम करे में आपके लिए कुछ लेकर आता हु वह अपने friend को कुछ नहीं बताता है because इससे वह जल्दी ही समझ जाएगा वह उसके लिए कुछ खाने को लाता है 

 

आपको भूख लगी होगी because आप शहर से आये है वह खाना खाते है और बातें करते है जब खाना हो जाता है तो वह कहता है की मेरा friend भी शहर में रहता है मगर आप कैसे जानेंगे because शहर तो बहुत बड़ा है वह भी आपकी तरह ही हो गया होगा आप तो मुझे शहरी लगते हो वह अपने दोस्त की बातें सुन रहा था उसके बाद वह कहता है की में ही तुम्हारा friend हु यह सुनकर वह कहता है की तुमने मुझे बताया क्यों नहीं था

लड़के की मेहनत हिंदी कहानी

बहुत देर से तुम बातें कर रहे हो मगर तुम मुझे बता सकते थे वह कहता है की में यह देख रहा था की मेरा friend मुझे भूल तो नहीं गया है वह कहता है की ऐसी बात नहीं है जबकि में तो हर रोज यही सोचता था की पता नहीं तुम अभी तक क्यों नहीं हो, मुझे यही लग रहा था की एक दिन तुम अपने friends से मिलने जरूर आओगे उसके बाद वह फिर से वही बात कहता है की अब तुम्हे मेरे साथ में चलना होगा लेकिन वह तो यही बात जानता है की उसके लिए शहर नहीं है वह तो गांव में ही अच्छा है

Conversation between two friends short stories in hindi

हर बार कहने से उसका दोस्त उसकी बात मान जाता है और कहता है की कुछ समय के लिए ही में वह चल सकता हु उसके बाद में वहा से वापिस आ जाऊंगा वह अपने friend के साथ चला जाता है, यह कहानी हमे यही बताती है की life में अच्छी दोस्ती हमेशा ही रहती है, वह कभी भी टूटती नहीं है इसलिए आपको भी अच्छे दोस्ती करनी चाहिए और उसे अच्छे से निभाना भी चाहिए, Conversation between two friends short stories in hindi, अगर आपको यह कहानी पसंद आयी है तो शेयर जरूर करे

Related Hindi Story :-

जिम्मेदारी की नयी हिंदी कहानी

गली नंबर तीन की कहानी

सुनना जरुरी है कहानी

मेरी अलग भाषा स्टोरी इन हिंदी

गांव अलग हुए हिंदी कहानियां

यहां बहुत शोर है नयी कहानी

एक कामयाब की हिंदी कहानी

मेरी किस्मत अचानक बदल गयी हिंदी कहानी

एक मजाक की लघु कहानी

सच्चाई कितनी है एक कहानी

हिंदी कहानी जीवन की परेशानी

एक लड़के की मोरल कहानी

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

error: Content is protected !!