किताब की मॉरल कहानी, kitab ki hindi story for child with moral

kitab ki hindi story for child with moral

किताब की मॉरल कहानी : kitab ki hindi story for child with moral, जब वह अपने दोस्त के पास आया तो उसने देखा कि उसका दोस्त एक किताब पढ़ रहा है वह चुपचाप आकर इसके पास बैठ गया और उस किताब को देखने लगा वह अपने दोस्त (friends) को भी देख रहा था और उस किताब (kitab) को भी देख रहा था लेकिन चुपचाप बैठा हुआ था वह जानता था कि वह उस किताब (kitab) को इतनी अच्छी तरह से पढ़ रहा है कि उसकी और उसका ध्यान ही नहीं जा रहा था.

kitab ki hindi story for child with moral

kitab ki hindi story for child with moral.jpg

kitab ki hindi story for child with moral

उसका दोस्त यह भी सोच रहा था कि जब तक मेरा दोस्त (friends) किताब (kitab) पढ़ रहा है तब तक मुझे कुछ नहीं बोलना चाहिए इससे वह डिस्टर्ब (Disturb) हो सकता है और यह भी हो सकता है कि उसकी इस किताब (kitab ki hindi story for child with moral) में रुचि ही समाप्त हो जाए इसलिए मुझे चुपचाप बैठ कर देखना चाहिए कि वह मेरी और कब ध्यान देगा काफी देर हो गई थी और वह किताब (kitab) की ओर ही ध्यान दे रहा था तभी उसका ध्यान अपने दोस्त की ओर गया और पूछने लगा कि तुम कब आए मैं तो काफी देर से किताब (kitab) पढ़ रहा हूं मुझे तो यह भी ध्यान नहीं रहा कि तुम कब आए होगे

 

उसका दोस्त (friends) कहने लगा कि मुझे काफी देर हो गई है तुम्हारे पास आए हुए लेकिन तुम किताब पढ़ रहे थे इसलिए मैंने तुम्हें परेशान नहीं किया और मैंने सोचा कि जब तुम किताब (kitab ki hindi story for child with moral) पढ़ लोगे तो भी मेरी ओर ध्यान दोगे और ऐसा ही हुआ उसके दोस्त कहने लगा कि तुम्हें बता देना चाहिए था कि तुम आए हो लेकिन तुमने मुझे बताया भी नहीं और मेरा ध्यान भी नहीं किया और सुनाओ तुम तो काफी समय बाद मेरे पास मिलने के लिए आए हो वह कहने लगा कि काफी दिनों से हम मिले नहीं थे

Read More-राजकुमारी और जादूगर बुढ़िया की कहानी

Read More-बच्चों को मिली सीख कहानी

इसलिए मैं तुमसे मिलने के लिए आ गया था स्कूल (school) भी अब बंद हो गया और सभी बच्चे भी अपने घर (home) पर ही हैं जब तक स्कूल नहीं खुलेंगे तब तक हम कभी नहीं मिल पाएंगे इसलिए मैंने सोचा कि स्कूल खुलने में तो काफी दिन है इसलिए तुमसे मिल लेना चाहिए तभी उसका दोस्त (friends) कहने लगा कि यह कौन सी किताब (kitab hindi story for child with moral) है जो तुम बहुत अच्छी तरह से पढ़ रहे थे और मेरी तरफ भी ध्यान नहीं दिया उसके दोस्त ने कहा कि यह बहुत अच्छी किताब (kitab) है और यह सभी बच्चों (child) के लिए बहुत जरूरी भी है

Read More-बीरबल ने बचाया अकबर को नयी कहानी

Read More-राजा और नगर में दावत कहानी

इस कहानी में यह मोरल (moral) बताया जाता है कि तुम जीवन (life) में हमेशा आगे बढ़ सकते हो और कभी भी अपनी परेशानी से घबराकर भागना नहीं चाहिए उसका दोस्त कहने लगा कि अगर यह बहुत अच्छी (good) किताब (kitab) है तो मुझे भी पढ़ना चाहिए तब उसका दोस्त कहने लगा कि बिल्कुल तुम्हें भी पढ़ना चाहिए मैं आज ही तुम्हें यह किताब दे दूंगा और तुम इसे अच्छी तरह से पढ़ना यह हम सभी बच्चों के लिए बहुत अच्छी किताब (kitab) है उसके बाद उस दोस्त (friends hindi story for child with moral) ने पूछा कि तुम कौन सी कहानी (story) इस किताब में पढ़ रहे थे

Read More-पक्षी ने दी परेशानी हिंदी कहानी

Read More-अनोखी भाषा की हिंदी कहानी

तभी उसने कहा कि मैं उस कहानी (stories) को पढ़ रहा था जो कि चैप्टर (chapter) नंबर 4 की है इस कहानी में कुछ दोस्त (friends) एक नाव में बैठकर एक टापू (Island) पर जाते हैं लेकिन उस टापू (Island) पर उन्हें खाने को कुछ भी नहीं मिलता वह बहुत परेशान हो जाते हैं और खाने की खोज में काफी दिन तक घूमते रहते हैं लेकिन वह हार नहीं मानते हैं उन्हें उस टापू में बहुत परेशानी का सामना करना पड़ता है लेकिन वह हार नहीं मानते हैं और कुछ दिनों बाद अपने लिए एक अच्छी नाव तैयार करते हैं और जब नाव तैयार हो जाती है तो बाहर निकलने का रास्ता (way) खोजते हैं वह इस बात को अच्छी तरह से जानते हैं कि अगर यहां पर ज्यादा समय रुकेंगे तो एक समय ऐसा आएगा कि उनके पास कुछ भी नहीं होगा

Read More-अकबर-बीरबल और मुखिया की कहानी

Read More-नानी की पुरानी कहानी

इसलिए वह उस जगह से जल्दी से जल्दी निकलना चाहते हैं कुछ दिनों बाद ही वह सभी निकलने के लिए कामयाब हो जाते हैं और अपने घर वापस चले जाते हैं इस किताब में बहुत अच्छी अच्छी कहानियां (stories) लिखी हुई है अगर तुम सभी कहानियों को पढ़ते हो तो जीवन में जरूर अपना एक लक्ष्य (aim) निर्धारित कर सकते हो जब तुम इस किताब (kitab) को पढ़ोगे तो तुम्हें सभी कहानियां (stories) बहुत अच्छी लगेंगे.

किताब की मॉरल कहानी | kitab ki hindi story for child with moral

मुझे उम्मीद है कि तुम्हें यह कहानी (story) बहुत पसंद आएगी तभी उसका दोस्त (friends) कहने लगा कि मैं घर जाकर इस किताब (kitab) को पढ़ना शुरू करता हु और ऐसी किताबें (kitab) हमेशा सभी बच्चों (child) को पढ़नी चाहिए क्योंकि जीवन में उन्हें आगे बढ़ने के लिए लक्ष्य प्रदान करती हैं, किताब की मॉरल कहानी : kitab ki hindi story for child with moral, अगर आपको यह कहानी (stories) पसंद आई है तो आगे भी शेयर करें कमेंट करके हमें मना है.

Read More Hindi Kids Story :-

Read More-शेर की मदद किड्स कहानी

Read More-बिल्ली की नानी हिंदी कहानी

Read More-कभी न सुनने वाले बच्चे की कहानी

Read More-लड़के की मेहनत नयी कहानी

Read More-राजा और रानी की अच्छी कहानी

Read More- आठ सबसे अच्छी कहानी

Read More-दो शेर की नयी कहानी

Read More-मेरी शक्ल का आदमी किड्स कहानी

Read More-जादू की किताब पुरानी कहानी

Read More-पेड़ के भूत की जातक कथा

Read More-सबसे अच्छी जातक कथा

Read More-राजा की छवि बच्चों की कहानी

Read More-राजा और प्रजा की नयी किड्स कहानी

Read More-बीरबल और नगर की कहानी

Read More-कबीले के पास की गुफा हिंदी कहानी

Read More-आदमी की मूंगफली किड्स कहानी

Read More-मेरी किस्मत कब बदलेगी कहानी

Read More-राजकुमारी का विवाह किड्स कहानी

Read More-धन का पेड़ बहुत छोटा है किड्स कहानी

Read More-जादुई नाव की कहानी

Read More-अकबर और बीरबल की साथ नयी कहानी 

Read More-दादी माँ की कहानी

Read More-जामुन की तलाश बच्चों की कहानी

Read More-खाने की समस्या बच्चों की कहानी

Read More-अकबर बीरबल की मजेदार नयी कहानियां

Read More-साथ देना जरुरी एक कहानी

Read More-भाषाओं का ज्ञान कहानी

Read More-हमारी दोस्ती नयी कहानी

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

error: Content is protected !!