साईकिल की कहानी, Hindi story of the cycle

Hindi story of the cycle

साईकिल की कहानी

Hindi story.jpg

Hindi story of the cycle

साईकिल पर चढ़े हुए शर्मा जी सामने से आ रहे थे, उन्हें देखकर ऐसा लगता था, की मनो वो ही है जो सबसे पहले इस वाहन पर बैठे थे, शर्मा जी की हमेशा वो बात याद आती है जब उन्होंने ने कहा था की यह साईकिल उनके बच्पन्न से उनके साथ है, वह अपनी साईकिल को बहुत पसंद भी करते है, आज जब सभी के पास अच्छे-अच्छे वाहन है वही शर्मा जी के लिए यह कोई जहाज से कम नहीं है,

 

एक दिन शर्मा जी ने वो किस्सा भी बताया था जब उन्होंने ने अपनी साईकिल से अपने दो दोस्तों को चरो से बचाया था, तभी शर्मा जी अपनी साईकिल लेकर रुके  और कहने लगे की हमारा इंतज़ार हो रहा था, हमने भी कह दिया है क्यों नहीं, आज संडे भी है और हम सभी लोग एक साथ में रहकर संडे में पुरे दिन अपनी बाते ही तो करते है, लेकिन आज कोई भी टॉपिक नज़र नहीं आ रहा है,

Read More-अधूरी कल्पना की कहानी

Read More-में कमजोर नहीं हू कहानी

तभी और कुछ लोग भी आ गए थे, सभी लोग बेथ गए और एक दूसरे को देखने लग गए थे, आज किस पर बात करे कुछ समझ नहीं आ रहा है, तभी एक हममे से बोला की आज कुछ विचार करने को तो नहीं है, मगर आज मन कर रहा है, शर्मा जी का वो किस्सा सुनने का, जो बहुत दिन हो गए है, हमने सुना नहीं है, सभी लोग अब जिद्द कर रहे थे, तभी शर्मा जी ने कहा ठीक है हम उस बात को बताते है,

Read More-एक मजाक की लघु कहानी

शर्मा जी को बहुत अच्छा लगता है जब भी कोई उनसे उनका किस्सा पूछता है, क्योकि शर्मा जी को पता है की उस किस्से में उनकी साईकिल की बात होती है, तभी शर्मा जी ने अपने किस्से को जारी रखा और सभी लोग उनकी और ध्यान देने लगे थे, शर्मा जी ने कहा की उस दिन बिजली नहीं थी, अँधेरा बहुत ज्यादा था, और शर्मा जी अपनी ससुराल से अपनी साईकिल को लिए आ रहे थे, तभी उनके दोस्त भागते हुए शर्मा जी की साईकिल पर कूदकर बैठ गए थे,

Read More-बड़े लोगो की कहानी

शर्मा जी ने कहा की क्या हमे गिराने का इरादा है, उन्होंने ने कहा की भागो शर्मा जी हमारे पीछे चोर पड़े हुए है, शर्मा जी ने कहा की हम क्यों भागे तुम ही भागो, मुझे चोर से क्या मतलब है, हमारे दोस्त भी बड़े अजीब है, चोर के पीछे लोग पड़ते है, या लोगो के पीछे चोर कुछ समझ नहीं आ रहा था, दोनों दोस्तों ने कहा की हमने उन्हें किसी घर में चोरी करते हुए देख लिया था, इसलिए शोर मचा दिया,

Read More-एक लघु कथा मेरा भाई

चोर तो वह से भाग लिए और हमारे पीछे पद गए है, तभी शर्मा ने पीछे देखा और यह तो सच है चोर पीछे आ रहे थे, अब कुछ भी समझने का मन नहीं था, शर्माजी के पेरो पर आज बहुत वजन था, साईकिल की रफ़्तार अब बढ़ने में ही भलाई थी, तीनो अब चोरो से भाग रहे थे, हलचल में कुछ भी ध्यान नहीं रहा था, सामने एक बहुत बढ़ा गड्ढा था,तीनो उसी में जा गिरे, शर्मा जी ने अब कहा की यही होना बाकी था, अगर तुम्हारे साथ में कुछ और दिन रहा था, पता नहीं क्या होगा, 

Read More-निस्चन ऋषि की कहानी

Read More-सच्चाई कितनी है एक कहानी

Read More-गली नंबर तीन की कहानी

Story in Hindi, तभी सामने से कुछ गांव के लोग आ रहे थे, उनके आने से अब चोर उनके पास नहीं आये, और इस तरह वो सभी लोग बच गए थे, शर्मा जी आज भी यही कहते है की अगर उनकी साईकिल नहीं होती तो वो चोर हमे छोड़ते नहीं, इसलिए शर्मा जी को अपनी साईकिल बहुत पसंद है, वाकई कुछ किस्से ऐसे भी होते है जो भुलाये भी नहीं भूलते है, अगर आपको यह कहानी पसंद है तो आगे भी शेयर करे और हमे भी बताये,

Read More Hindi Story :-

Read More-चिट्ठी एक नयी कहानी

Read More-दुःखो का अंत नहीं कहानी

Read More-क्षमादान की नयी कहानी

Read More – जीवन में बदलाव नयी कहानी

Read More – गरीब का हिस्सा हिंदी कहानी

Read More-सब कुछ मिला नहीं था हिंदी कहानी

Read More-सुनहरी पहाड़ी की नयी कहानी

Read More- अचानक ही चला गया कहानी

Read More-मेहनत ही जीवन का धन है कहानी

Read More-जिंदगी का सबक एक कहानी

Read More-क्रोध से दूर रहे कहानी

Read More-दो मूर्खों की कहानी

Read More-बुद्धि की परीक्षा की कहानी

Read More-माँ के दिल की कहानी 

Read More-आज और कल की कहानी

Read More-बदले की भावना की कहानी

Read More-अंधे को मिली सजा की कहानी

Read More-परीक्षा का परिणाम

Read More-एक आत्मकथा की कहानी

Read More-एक पिता की कहानी

Read More-आखिरी काम की कहानी

Read More-संत के स्वप्न की कहानी

Read More-अपने मन के राजा की कहानी

Read More-अंधे को मिली सजा की कहानी

Read More-परीक्षा का परिणाम

Read More-एक आत्मकथा की कहानी

Read More-एक पिता की कहानी

Read More-आखिरी काम की कहानी

Read More-संत के स्वप्न की कहानी

Read More-अपने मन के राजा की कहानी

Read More-अंधे को मिली सजा की कहानी

Read More-परीक्षा का परिणाम

Read More-एक आत्मकथा की कहानी

Read More-एक पिता की कहानी

Read More-मेहनत का फल हिंदी कहानी

Read More-भिखारी और राजा की कहानी

Read More-हिंदी कहानी विवाह

Read More-सच्चे दोस्त की कहानी

Read more-गांव में बदलाव

Read More-सफल किसान एक कहानी

Read More-एक दूरबीन का राज

Read More-चश्में की हिंदी कहानी

Read More-हिंदी कहानी एक सच

Read More-दोस्त की सच्ची कहानी

Read More-साधू और गिलहरी की कहानी

Read More-दानवीर सुखदेव सिंह की कहानियां

Read More-गुलाब के फूल की कहानी

Read More-व्यापारी के अहंकार की कहानी

Read More-सच्चे मन की प्रार्थना की कहानी

Read More-राजा और मंत्री की कहानी 

Read More-एक छोटी सी मदद की कहानी

Read More-मूर्खो से बचे एक कहानी

Read More-व्यापारी के अहंकार की कहानी

Read More-सच्चे मन की प्रार्थना की कहानी

Read More-इंसान और क्रोध की कहानी

Read More-एक नाटक से सीख

Read More-जादुई बक्सा हिंदी कथा

Read More-समय का महत्व

Read More-एक किसान की कहानी

Read More-पशु की भाषा हिंदी कहानी

Read More-जीवन की सीख एक कहानी

Read More-उस पल की कहानी

Read More-एक महाराजा की कहानी

Read More-वो सोता और खाता था हिंदी कहानी

Read More-मंगू और दूसरी पत्नी की कहानी

Read More-सोच की कहानी

Read More-एक शादी की कहानी

Read More-छोटा सा गांव हिंदी कहानी

Read More-एक बोतल दूध की कहानी

Read More-सुबह की हिंदी कहानी

Read More-जादुई लड़के की हिंदी कहानी

Read More-दोस्त की सच्ची कहानी

Read More-आईने की हिंदी कहानी

Read More-जादुई कटोरा की कहानी

Read More-एक चोर की हिंदी कहानी

Read More-जीवन की सच्ची कहानी

Read More-छज्जू की प्रतियोगिता

Read More-जब उस पार्क में गए

Read More-असली दोस्ती क्या है

Read More-एक अच्छी छोटी कहानी

Read More-गुफा का सच

Read More-बाबा का शाप हिंदी कहानी

Read More-यादगार सफर

Read More-जादू का किला 

Read More-मेरे जीवन की कहानी

Read More-आखिर क्यों एक कहानी

Read More-दूल्हा बिकता है एक कहानी

Read More-जादूगर की हिंदी कहानी

Read More-छोटी सी मुलाकात कहानी

Read More-हीरे का व्यापारी

Read More-पंडित के सपने की कहानी

Read More-बिना सोचे विचारे

Read More-जादू की अंगूठी

Read More-छोटी सी बात हिंदी कहानी

Read More-समय जरूर बदलेगा

Read More-सोच का फल कहानी

Read More-निराली पोशाक

Read More-राजा और चोर की कहानी

Read More-पत्नी का कहना

Read More-एक किसान

Read More-रेल का डिब्बा

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

error: Content is protected !!