समझदार गधे की कहानी, panchatantra in hindi

panchatantra in hindi

समझदार गधे की कहानी

hindi story.jpg

panchtantra stories in hindi

panchatantra in hindi, panchtantra stories in hindi, एक आदमी के पास अपना एक गधा था वह उस गधे से अपना सारा काम लेता था लेकिन उसको खाने के लिए बहुत ही कम देता था गधा हमेशा सोचा करता था की इसे मेरी बिलकुल भी चिंता नहीं है यह मुझसे बहुत काम लेता है सारे दिन मुझे चलाता है और खाने की जब बारी आती है तो मुझे भर पेट खाना नहीं देता है मेरा मन तो ऐसा करता है की इसे छोड़कर चला जाऊ, लेकिन यह मुझे खोलकर भी तो नहीं रखता जिससे में यहां से भाग  जाऊ,

 

गधा हमेशा अपने भागने के बारे में सोचा करता था लेकिन कभी भी उसे मौका नहीं मिल पाया, एक दिन रात को गधे ने अपनी बढ़ी रस्सी खोल दी और धीरे-धीरे से बहार की और चलने लगा वह आदमी सोया हुआ था उसे कुछ आवाज सुनाई दी और वह बहार देखने आया तो उसे लगा की कोई उसके गधे को चुरा रहा है वह अंदर से एक डंडा लेकर आया और गधे पर ही चला दिया गधा डर के अंदर चला गया और गधे ने सोचा की यहां से निकलना बहुत ही मुश्किल है इसने तो चोर समझकर मुझे ही पीट दिया

 

ऐसा लग रहा है की मेरी तो किस्मत ही खराब है जो इसके पल्ले बंध गया हु न खाने देता है न जाने देता है गधे ने सोचा की आज एक योजना बनानी चाहिए आज में काम ही नहीं करूँगा तब ऐसे पता चलेगा की जब काम नहीं होता है तो केसा लगता है आज वह अपने गधे को बाजार में ले जाने के लिए सोच रहा था बाजार से कुछ समान लेकर आना था वह जल्दी ही उठकर बाजार जाने के लिए तयारी करने लगा पर आज गधा कहा जाने वाला था, उस आदमी ने बहुत कोशिस की पर गधा नहीं उठ रहा था उसे लगा की आज गधे की तबियत खराब है इसलिए वह आज नहीं उठ रहा है   

Read More-दोस्त की सच्ची कहानी

उसने सोचा की आज बाजार से में ही थोड़ा समान लेकर आ जाता हु, कल गधे को साथ में ले जायूँगा पर इस गधे को यहां पर छोड़ना भी मुसीबत है इसलिए उसने बहार से दरवाजा बंद कर दिया और बाजार चला गया गधे ने पूरी कोशिश की पर दरवाजा नहीं खुल रहा था थोड़ी देर बाद उसने पीछे के रस्ते में एक पैर मारा और कुछ हिस्से की दिवार गिर गयी क्योकि वह हिस्सा अभी भी कच्चा था आज गधा आज़ाद था

Read More-एक बोतल दूध की कहानी

गधे बाजार की और जाने लगा और गधे को बहुत ही अच्छा लग रहा था आज वह कुछ भी कर सकता था जब गधा  बाजार पहुंचा तो उसे बहुत अच्छा लगा आज वह अपने मन से कुछ भी कर सकता था पर गधे की नज़र अपने मालिक पर पड़ी और मालिक ने भी अपना गधा पहचान लिया की ये यहां पर कैसे, गधे ने अपने मालिक को देखा और भागने लगा, अब उसके मालिक को बहुत तेज गुस्सा आ गया और वह गधे को पुरे रस्ते मरते हुए लाया अब गधा समझ गया था की अब मुझे जीवन भर इसी के साथ ही रहना है कोशिश करना सब बेकार है  

Read More-एक शादी की कहानी

panchatantra in hindi, panchtantra stories in hindi, आज भी वह गधा भागने की योजना बनाता रहता है कभी तो वह इस मुसीबत से निकल जाएगा, कोशिश करनी कभी नहीं छोड़नी चाहिए पता नहीं समय कब बदल जाए अगर आपको यह कहानी पसंद आयी है तो आगे भी शेयर करे और हमे भी बताये, 

Read More-विश्वास की कहानी

Read More-सफल किसान एक कहानी

Read More-एक दूरबीन का राज

Read More-एक अच्छी छोटी कहानी

Read More-सब की खातिर एक कहानी

Read More-जादू का किला    

Read More-मेरे जीवन की कहानी

Read More-आखिर क्यों एक कहानी

Read More-मेरा बेटा हिंदी कहानी

Read More-दूल्हा बिकता है एक कहानी

Read More-जादूगर की हिंदी कहानी

Read More-छोटी सी मुलाकात कहानी

Read More-हीरे का व्यापारी

Read More-पंडित के सपने की कहानी

Read More-बिना सोचे विचारे

Read More-जादू की अंगूठी

Read More-गमले वाली बूढ़ी औरत

Read More-छोटी सी बात हिंदी कहानी

Read More-समय जरूर बदलेगा

Read More-सोच का फल कहानी

Read More-निराली पोशाक

Read More-पेड़ और झाड़ी

Read More-राजा और चोर की कहानी

Read More-पत्नी का कहना

Read More-एक किसान

Read More-रेल का डिब्बा

Read More-छोटी सी मदद

Read More-दिल को छूने वाली कहानी

Read More-गुस्सा क्यों

Read More-राजा की सोच कहानी

Read More-हिंदी कहानी एक सच

Read More-दोस्त की सच्ची कहानी

Read More-हिंदी कहानी विवाह

Read more-गांव में बदलाव

Read More-चश्में की हिंदी कहानी

Read More-परीक्षा का परिणाम

Leave a Reply

error: Content is protected !!