Humorous stories of akbar and birbal | short comedy story in hindi

Humorous stories of akbar and birbal | short comedy story in hindi

अकबर बीरबल (Humorous stories of akbar and birbal) अभी बाहर से आये थे तभी अकबर ने कहा की तुम्हे कुछ देर बाद मुझसे मिलने आना है क्योकि हमने जो बात कही है उस पर विचार करना बहुत जरुरी हो गया है बीरबल (short comedy story in hindi) कहते है की आप चिंता न करे में कुछ देर बाद आपसे मिलने आता हु बीरबल कुछ देर बाद वापिस अकबर से मिलने आएंगे उन्होंने किसी दूसरी बात पर चर्चा करनी है akbar काफी तक चुके थे इसलिए वह आराम करना चाहते थे वह आराम करते है

Humorous stories of akbar and birbal and short comedy story in hindi

Humorous stories of akbar and birbal
Humorous stories of akbar and birbal

शाम हो जाती है akbar को यह याद आता है की बीरबल को तो मुझसे मिलने आना था और में बहुत अधिक सो गया हु अकबर बाहर जाकर देखते है तो उन्हें बीरबल वही पर नज़र आते है अकबर birbal को देखते है वह हंस रहे थे akbar को लग रहा था की वह उनकी किसी बात पर हंस रहे है वह बीरबल के पास जाते है और कहते है की आपको हंसी क्यों आ रही है birbal कहते है की आपने मुझे यहां पर बुलाया था और आप अभी तक सो रहे है में आपका यह पर काफी समय से इंतज़ार कर रहा हु

short comedy story in hindi
short comedy story in hindi

आपके सोने से मुझे कुम्भकर्ण की याद आती है वह भी बहुत अधिक सोता था जब यह बात मेरे दिमाग में आयी तो मुझे हंसी आ गयी है यह सुनकर akbar को गुस्सा आता है वह कहते है की आपको ऐसी बात नहीं करनी चाहिए हम काफी थक गए थे इसलिए हमे नींद आ गयी थी मगर birbal की हंसी रुक नहीं रही थी तभी akbar कहते है की अगर आपने अभी भी हसना बंद नहीं किया तो आपको उस कमरे में रहना पड़ेगा जिसमे कोई रहना नही चाहता था, यह सुनकर birbal की हंसी बंद हो जाती है

 

birbal पूछते है की वह कौन सा कमरा है जिसके आप बात कर रहे है akbar कहते है की मुझे भी ज्यादा पता नहीं है मगर वह बहुत समय से बंद है और उसमे भूत रहते है birbal कहते है की ऐसी कोई भी बात नहीं है भूत नहीं होते है और आप हमे भूत का डर वाली बात क्यों बता रहे है यह सच नहीं है आपको इस बारे में बहुत ज्यादा सोचना चाहिए क्योकि भूत नहीं होते है akbar कहते है की ठीक है but आपको डर नहीं लगा तो आप जो मांगेंगे वह मिल जाएगा but आप डर गए तो आपको वही करना होगा जो हम कहेंगे

महामूर्ख की कहानी

इस बात के लिए बीरबल मान जाते है birbal जानते थे की उस जगह पर कोई भूत नहीं है akbar हमे डराना चाहते है इसलिए ऐसा कह रहे है राटा का समय हो गया था birbal आ चुके थे और akbar से बात कर रहे थे वह कमरा सामने ही था जिसमे बीरबल को रुकना था अकबर ने कहा की यह दरवाजा आपको तभी खोलना है जब आप डर जायेंगे और बाहर आने के बारे में सोचेंगे और हमे पता चल जायेगा की आप डरते है या नहीं, birbal ने कहा की में आपकी बात से सहमत हु मगर यह अपर सभी दरबारी भी होने चाहिए तभी सच का पता चलेगा     

 

कुछ देर बाद ही सभी दरबारी भी आ जाते है रात हो जाती है और birbal उस कमरे में चले जाते है उन्हें पता है की कोई भूत नहीं है सभी दरबारी बाहर ही रहते है क्योकि वह जानना चाहते है की क्या होगा बीरबल उस कमरे में ही रहते है वहा पर बहुत अधिक अँधेरा होता है तभी उन्हें कोई आवाज आती है यह किसकी आवाज है उन्हें कुछ नज़र क्यों नहीं आ रहा है birbal को यह बात पता है की भूत नहीं है

पेटू पंडित हास्य कहानी

मगर birbal को लग रहा है की कोई कमरे में आया है जो मुझे डराना चाहता है वह कौन हो सकता है तभी बीरबल के पास कोई आता है वह कौन है यह जानने के लिए वह पूछते है की तुम कौन हो वह कहता है की में भूत हु बीरबल यही सोचते है की यह भूत है या कोई और, मुझे पता करना होगा क्योकि अगर यह सामने के दरवाजे से आया होता तो सभी दरबारी उसे देख लेते मगर ऐसा नहीं है यह कही और से आया है तभी birbal पूछते है की तुम यह पर क्यों हो वह कहता है की जो भी यहां पर आता है मुझे वह पसंद नहीं है

 

birbal को कुछ आवाज पहचानी सी लग रही थी तभी बीरबल उसे पकड़ लेते है और समझ जाते है की यह कौन है बीरबल कहते है की आज यह भूत इस कमरे में नहीं रहेगा क्योकि मुझे भी पसंद नहीं है की कोई भूत इस कमरे में रहे birbal उसे पकड़े रहते है और सभी दरबारी को आवाज लगाते है की मेने भूत पकड़ लिया है भूत का नाम सुनकर वह सभी डर जाते है उन्हें लग रहा होता है की अगर वह अंदर गए तो उन्हें भी भूत पकड़ सकता है मगर जब बीरबल बुला रहे है तो हमे जाना चाहिए   

भोजन मोजी जब रहे भूखे

वह अंदर जाते है मगर कोई भी नज़र नहीं आता है यह कैसे हो गया था वह बीरबल से पूछते है की वह भूत कहा चला गया है जिसको आपने पकड़ा था बीरबल कहता है की शायद वह मुझसे डर के भाग गया होगा आज उसे पता चल गया होगा की birbal भूत से भी नहीं डरते है बीरबल ने दरवाजा नहीं खोला था सभी दरबारी अंदर आ गए थे कुछ देर बाद अकबर भी आते है, birbal कहते है की मुझे ऐसा लगता है की आप ठीक नहीं है

Humorous stories of akbar and birbal | short comedy story in hindi

akbar बीरबल को देखते है और समझ जाते है की birbal ने उन्हें पकड़ा था और वह पहचान गए है की वह भूत कौन है उसके बाद birbal अकबर के पास जाते है और कहते है की आपको आराम कर लेना चाहिए आपकी तबियत ठीक नहीं है सभी दरबारी कहते है की वह भूत कहा चला गया है अकबर कहते है की कोई भूत नहीं अब आप यहां से जाईये अगर आपको यह कहानी Humorous stories of akbar and birbal, short comedy story in hindi, पसंद आयी है तो शेयर जरूर करे  

Read More Hindi Story :-

Read More-शेखचिल्ली का मजाक

Read More-शेखचिल्ली की कुश्ती

Read More-शेखचिल्ली की तबीयत

Read More-शेख चिल्ली और एक आदमी की कहानी

Read More-शेख चिल्ली बना डॉक्टर

Read More-पेटू पंडित हास्य कहानी

Read More-शेख चिल्ली और तलाक की कहानी

Read More-शेखचिल्ली की दुकान

Read More-ताऊ जी के डंडे की कहानी

Read More-शेखचिल्ली का कुआं

Read More-शेखचिल्ली का डंडा

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

error: Content is protected !!