पाठकों की अनेक समस्याएं और समाधान, Ghar ki pareshani ko kaise dur kare

Ghar ki pareshani ko kaise dur kare

Ghar ki pareshani ko kaise dur kare, पाठकों की अनेक समस्याएं और समाधान, यहां पर कुछ पूछे गए सवाल के जवाब दिए गए है यह सवाल हमारी जिंदगी और घर की समस्या से जुड़े हुए है जिनका जवाब यहां पर दिया गया है जिससे पाठकों की समस्या दूर हो सके .

पाठकों की अनेक समस्याएं और समाधान

Reader Problems.jpg
Reader Problems

पहला सवाल :- घर में कोई बात नहीं करता है क्या करे

मेरा नाम हरीश है मुझे बहुत बड़ी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है, जिसका हल में खोज नहीं पा रहा हु, इसलिए आप मेरी समस्या का समाधान जरूर बताये मुझे ऐसा लगता है की घर पर कुछ भी अच्छा नहीं चल रहा है जब भी ऑफिस से आता हु तो मुझे यही लगता है की कोई खुश नहीं है, उन सभी को देखकर ऐसा लगता है की मुझे भी कुछ अच्छा करना चाहिए मगर कुछ भी अच्छा नहीं हो रहा है, जब भी इस बारे में बात करता हु तब कोई भी बात नहीं करता है मुझे तो कुछ भी पता नहीं चल रहा है

 

यह समस्या क्या है इसका समाधान कैसे हो सकता है ऑफिस में भी काम रहता है में उसी काम में बहुत परेशान रहता हु शायद में और ज्यादा समय नहीं दे पाता हु, यह मेरे समय न देने के अनुसार हुआ है या कोई और बात है कुछ भी पता नहीं चल रहा है इसलिए परेशानी कम होने जकी बजाए बहुत ज्यादा बढ़ रही है आप ही कुछ सुझाव दे, मुझे तो कुछ भी समझ नहीं आता है

 

समाधान :- हमने आपकी बात सुनी है मगर अभी तक हमे सही समस्या के बारे में कुछ भी पता नहीं चला है, आपको पहले समस्या का पता करना होगा अगर आप सही समस्या का पता लगा सकते है, तो इससे समाधान भी पता चल जाता है अभी आपने बात की थी की आप उन्हें समस्य नहीं दे पाते है यह एक समस्या हो सकती है अगर आप इस पर ध्यान देना चाहते है तो आप यह कर सकते है आपको उन्हें समय देना होगा, यह भी कुछ हद तक आपकी परेशानी को दूर कर सकता है,

 

सही बात यह है की जब भी आप अपने परिवार को समय देते है तो उससे भी कुछ हद तक हम परेशानी को कम कर सकते है, अगर आप उनके साथ घूमने के लिए कोई भी योजना बनाते है तो वह आपके काम बहुत आएगी, दूसरी बात यह है की जब आप उन्हें समय देते है तो इससे आप अच्छा महसूस करते है आपका तनाव भी दूर हो जाता है आज का जीवन तनाव से भरा हुआ है इसलिए आपको इससे दूर ही रहना चाहिए जबकि आपने बताया है की आप उन्हें समय नहीं देते है तो इसके लिए आप उनसे बात कर सकते है भले ही आपके पास समय न हो,

 

मगर आप इतना समय तो निकाल सकते हो की आप उनसे बात कर सके, यही गलती हम करते है क्योकि हम अपने काम में बहुत ज्यादा ही व्यस्त हो गए है कारण यही है की जीवन बहुत ही कठनाई से भरा है आपको समय देना चाहिए जितना आप समय देते है आप उनके उतना ही करीब आ जाते है, हमे लगता है की आपको यह जानकारी पसंद आयी होगी अगर आपका कोई और भी सवाल है तो आप हमसे पूछ सकते है

दूसरा सवाल :- पत्नी का बार बार घूमने जाना  

सर मेरा नाम अंकित है मुझे हर वक़्त ऐसा ही लगता है की मेरा जीवन परेशानी से भरा हुआ है में जब भी घर पर आता हु तो मेरी पत्नी का यही सवाल होता है की में उसे कही बाहर लेकर जाऊ, जबकि में मानता हु की वह सही है मगर यह परेशानी उससे कम नहीं होती है बल्कि बहुत ज्यादा बढ़ जाती है, मेने भी एक दिन यही करके देखा की अगर वह कही घूमने जाना चाहती है तो में यह कर सकता हु, मगर हुआ क्या, एक बार ऐसा किया था, की में उसे घुमाने ले गया था,

 

सोचा यही था की यह समस्या दूर हो जाएगी मगर ऐसा नहीं हुआ था बल्कि और भी ज्यादा बढ़ गयी थी अब उसे हर बार कही पर घूमना था, अब ऐसा तो हो नहीं सकता है की हर बार में कही पर जा सकता हु, मेने उसे समझाया था की मेरे पास ऑफिस के बहुत से काम है मगर वह समझे को तैयार नहीं है उसे तो हर वक़्त घूमने की लगी रहती है, अब में क्या कर सकता हु, आप मुझे इस बारे में कुछ बताये,

 

समाधान :- अंकित जी में तो आप से यही कहना चाहता हु की सभी चीजों को साथ में लेकर चलना ही जीवन है परेशानी सभी की होती है उनके हल भी मिल जाते है मगर इस दुनिया में हर वक़्त हमे जरूरत होती है जिसके बारे में हम सभी जानते है यह भी हो सकता है की आपकी पत्नी घर पर बोर हो जाती है इसलिए वह घूमने के लिए कहती है क्योकि कोई भी इंसान घर पर जितना अधिक समय रहता है वह बोरियत महसूस करता है इसलिए उसका मन बाहर जाने का करता है मगर यहां पर यह भी समस्या आती है की जब कोई काम करता है तो वह हर बार कही पर घूमने नहीं जा सकता है

 

इसलिए आपको वह समय चुनना चाहिए जिसमे आपके पास समय हो, जब आप घर पर हो तो आप घूमने जा सकते है अगर आपके पास उस वक़्त काम है तो आप उन्हें बता सकते है मगर जब भी समय मिलेगा तब आप जरूर जा सकते है, इससे आपके बीच में झगड़े नहीं होंगे, क्योकि अगर ऐसा होता है तो आपकी समस्या कम नहीं होगी बल्कि बहुत ज्यादा बढ़ जायेगी, यह बात आप जानते है इसलिए समय के साथ आगे बढ़ते रहना होगा,

 

अंकित जी आपका सवाल हरीश जैसा ही है हरीश ने भी यही पूछा था की उसे क्या करना चाहिए, उसके परिवार में कोई भी उससे बात नहीं कर रहा था कारण यही था की वह अपने परिवार को समय नहीं दे पाते है लेकिन उन्हें भी यही बताया गया है की आपको समय देना चाहिए यहां पर आपको भी यही बात कहता हु की काम के साथ साथ भी हमे अपने परिवार को समय देना चाहिए यह समय आप कैसे देते है यह आप खुद सोचिये,  

अगर आप भी किसी समस्या का सामना कर रहे है या आप उसका कोई भी समाधान नहीं ढूढ़ पा रहे है तो आप हमसे वह सवाल पूछ सकते है, Ghar ki pareshani ko kaise dur kare, पाठकों की अनेक समस्याएं और समाधान,  अगर आपको यह जानकारी पसंद आयी है तो आप इसे शेयर जरूर करे जिससे सभी को उनके जवाब मिल पाए.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

error: Content is protected !!