Chudail ki kahani and chudail wali kahani | चुड़ैल उस रास्ते पर आज भी है

Chudail ki kahani and chudail wali kahani

जब से उस चुड़ैल की कहानी (Chudail ki kahani) सुनी है तब से मुझे बहुत डर लग रहा है मुझे फिर से वह कहानी बिल्कुल भी नहीं सुननी है और उस चुड़ैल के बारे में कोई बात नहीं करनी है अगर तुम ऐसा समझ सकते हो तो हमारे साथ चल सकते हो क्योंकि तुम इस बात को जानते हो कि जब भी तुम हमारे साथ में जाते हो तो उस चुड़ैल (chudail wali kahani) के बारे में बात करते हो

Chudail ki kahani and chudail wali kahani

Chudail ki kahani

Chudail ki kahani

यह रास्ता काफी बड़ा है और रात का समय मुझे इस बारे में कोई बात नहीं करनी है वह कहने लगा कि मैं जानता हूं कि जब भी मैं तुम्हें chudail ki kahani सुनाने के लिए तैयार रहता हूं तभी तुम मुझे मना कर देते हो शायद तुम्हें उस chudail की कहानी के बारे में कुछ पता नहीं है इसलिए तुम इस बारे में कोई बात नहीं करना चाहते but डरने वाली बात नहीं है क्योंकि वह chudail हमारे यहां पर नहीं आएगी है यह तो एक story है

 

जो लोगों ने मुझे सुनाई थी शायद इसीलिए मैं भी तुम्हें यही बात बताना चाहता हूं but मुझे लगता है कि chudail नहीं आने वाले और तुम इस बात को अपने मन से निकाल सकते हो तुम जब भी chudail के बारे में बात करते हो मुझे अच्छा नहीं लगता है because वह kahani है but मेरे मन में इस बात को लेकर हमेशा चिंता रहती है कि कोई भी ऐसी बात हमें नहीं करनी चाहिए जो कि ठीक नहीं है अब हमें चलना चाहिए अगर तुम इस बारे में बात करते हो तो तुम यहां पर रुक सकते हो

 

मुझे यहां पर रुकना नहीं है because मुझे आगे बढ़ना है तुम्हें पता होना चाहिए कि हमें उनके यहां पर समय पर पहुंच जाना चाहिए था but अभी हम यहीं पर हैं शादी का time भी आ रहा है और हम रात के समय में यहां पर घूम रहे हैं जबकि हमें time से पहुंच जाना था इस तरह की बातें करते हुए हम दोनों चले जा रहे थे रास्ता काफी बड़ा था इस बात को हम जानते थे कि किसी के यहां पर शादी थी इसी वजह से हम उनकी शादी को अटेंड करने के लिए वहां पर जा रहे थे चारों ओर देखने पर अंधेरा ही नजर आ रहा था हमें और कोई उजाले की किरण नजर नहीं आ रहे थे

 

but फिर भी हमें पता था कि यह रास्ता गांव की ओर जाता है इसलिए हम उस रास्ते से होते हुए जा रहे थे कुछ दूरी पर जाते ही हमने देखा कि एक बाबा रास्ते पर बैठे हुए हैं और यह रात का समय है वह यहां पर क्या कर रहे हैं हम उनके पास जाते हैं और इस बारे में पूछते हैं कि आप रात के समय में यहां पर क्या कर रहे हैं जबकि यहां पर तो बहुत अंधेरा है तभी बाबा कहते हैं कि मैं रात के समय में इस रास्ते से नहीं जा सकता हु because मैंने कुछ समय पहले लोगों से यहां पर chudail होने की बात सुनी थी इसलिए मैं इस रास्ते में आगे नहीं बढ़ सकता और मेरी मानो तो तुम्हें भी आगे नहीं बढ़ना चाहिए बाबा की बात सुनकर थोड़ा वहम तो हो गया था

 

but इस बात को पूरी तरह से यकीन करना ठीक है या नहीं इस तरह के विचार हमारे मन में चल रहे थे but हमने बाबा की बात पर ध्यान नहीं दिया और आगे बढ़ने के लिए अपने कदम जारी रखें हम थोड़ी दूरी चले थे तभी वह कहने लगा कि मैंने कहा था ना कि chudail इस दुनिया में होती है तभी तो वह बाबा इस बारे में बात कर रहे हैं सुनने के बाद मैंने यही कहा कि हमें इस बारे में बात नहीं करनी चाहिए और आगे बढ़ना चाहिए जो भी होगा आगे देखा जाएगा फिलहाल मुझे इस बारे में कोई बात नहीं सुननी है अभी गांव का आधा रास्ता ही बाकी था कि तभी हमें आवाजें आने लगी

दहशत की एक रात कहानी

वह आवाज किसी के चलने की थी यह आवाज किसकी थी है देखने के लिए हमने काफी बार पीछे देखने की कोशिश की but हमें कोई नजर नहीं आया इस बात में कितनी सच्चाई थी यह बात हमें पता चल रही थी कि because कदमों की आवाज तेज भी हो रही थी ऐसा लग रहा था कि कोई हमारे पीछे चल रहा है यह कौन हो सकता है जो हमारे पीछे चल रहा है और अचानक ही छुप जाता है जबकि ऐसा नहीं हो सकता तभी मेरे साथ में चल रहा दोस्त ने कहा कि मुझे तो ऐसा लग रहा है कि हमारे पीछे chudail चल रही है उसकी बातें सुनकर बहुत गुस्सा आ रहा था

डायन की डरावनी कहानी

because वह इसी तरह की बातें करता हुआ आ रहा था रास्ते भर मैंने उसकी यही बात सुनी थी जिसकी वजह से परेशानी बढ़ गई थी वह यही बात को कह रहा था कि लगता हमारी पीछे chudail आ रही है क्योंकि वह बाबा सही कह रहे थे इस रास्ते पर chudail को देखा गया था उसी की आवाज हो सकती है because और तो कोई हमारे पीछे नहीं है तभी कुछ देर बाद ही हम दोनों के कंधों पर किसी ने हाथ लगाया और जैसे हमने पीछे मुड़कर देखा फिर शायद हमें होश नहीं आया

डर की रियल कहानी

जब हमें होश आया तो सुबह हो चुकी थी और उसकी बातों से लग रहा था कि वह सच कह रहा था कि चुड़ैल इस रास्ते पर आज भी घूमती है सुबह के उजाले में कुछ भी नजर नहीं आ रहा था सब कुछ ऐसा लग रहा था कि मानो रात का सफर खत्म हो गया हो और वह chudail जो हमें नजर आ गई थी गायब हो गई हो अब हमें नजर नहीं आ रही थी but अपने दोस्त की बातों पर मुझे यकीन हो गया था कि चुड़ैल इस दुनिया में हो सकती है

Chudail ki kahani and chudail wali kahani

जिसने हमारे ऊपर हाथ लगाया था जिसकी वजह से हम बेहोश हो गए थे अब हम होश आ चुका था और हम गांव की ओर बढ़ रहे थे जब हम गांव में पहुंचे हैं तो इस बारे में बताया बहुत से लोगों को लग रहा था कि यह सच कह रहे हैं क्योंकि उन्हें कभी-कभी ऐसा लगता था कि कोई तो है जिसके बारे में बातें की जाती है शायद कोई चुड़ैल (chudail) है जो आज भी उस रास्ते पर घूमती है. Chudail ki kahani and chudail wali kahani अगर आपको भी लगता है की ऐसा कुछ होता है तो हमे भी जरूर बताये 

Read More Horror Story :-

एक डायन का साया भूत की कहानी 

एक परछाई नज़र आती है भूत कहानी

कोई मिल गया हॉरर कहानी

वह कौन थी हिंदी कहानी

राजकुमार की खोज हिंदी कहानी

 राजा और भूत की कहानी

जंगल की भयानक रात कहानी 

भूत की तस्वीर नहीं आयी

दहशत की एक रात कहानी

किले का मुख्य द्वार डरावनी कहानी

राजमहल की हिंदी कहानी

होटल गायब हो गया डरावनी कहानी

भूत का किला हिंदी घोस्ट स्टोरीज

पीपल का भूत

दूसरा जन्म भूत की कहानी

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

error: Content is protected !!