गुस्सा करना छोड़िये, choti choti baatein

choti choti baatein | achi baatein in hindi

गुस्सा करना छोड़िये, choti choti baatein, achi baatein in hindi, छोटी-छोटी बातों पर नाराज होकर चले जाना यह कोई अच्छी बात नहीं है उन्हें इस बारे में सोचना चाहिए but वह तो सुनने को बिल्कुल भी तैयार नहीं है अगर उन्हें कुछ कहा जाता है तो वह जल्दी ही नाराज हो जाते हैं जीवन में कभी खुशियां और कभी गम यह तो चलते रहते हैं.

गुस्सा करना छोड़िये : choti choti baatein

choti choti baatein.jpg

choti choti baatein

अगर हम सभी यह सोचने लगे कि हमारे जीवन में हमेशा खुशियां ही रहेंगे तो यह तो मुमकिन नहीं है but अगर किसी को कुछ कहा जाता है तो वह जल्दी ही नाराज हो जाता है जबकि इसका भी ध्यान रखना बहुत जरूरी बात है कभी-कभी हम जीवन में ऐसी बातें कह देते हैं जिसके बारे में हमें बिल्कुल भी पता नहीं होता और सामने वाले को वह बहुत दुख पहुंचाती हैं

 

हमें ऐसा लगता है कि हमने तो कुछ कहा ही नहीं but यह बात तो सामने वाला ही जानता है एक दिन हमारे पड़ोसी हमसे मिलने आए और उन्हें शायद किसी चीज की जरूरत थी और वह हमारे पास नहीं थी हमने मना कर दिया but फिर भी उनके दिमाग में यही रहा कि हम शायद देना नहीं चाहते किसी को कितना भी समझा लीजिए but वह समझने को तैयार नहीं होता उसे तो यही लगता है कि शायद वह हमें देने को तैयार ही नहीं है

जरुरी काम की बातें

यह बात कोई नहीं जानता है कि किसी के घर में क्या मुसीबत है वह तो सिर्फ उस घर के सदस्य ही जान सकते हैं but दूसरों को यही लगता है कि वह हमें कुछ बताना नहीं चाहते but बताने से भी क्या फायदा होगा यह सभी जानते हैं कि जब समय आएगा तभी बदलाव हो सकता है समय से पहले बदलाव होना जरूरी नहीं है आज लड़के से यह कहा गया कि तुम्हें अपने जीवन में कुछ करने के लिए थोड़ा अच्छा सोचना होगा जिसे तुम अपना जीवन अच्छा चला सकते हो और वह छोटी सी बात को लेकर ही नाराज हो कर चला गया

 

हम आजकल यह देख रहे हैं कि किसी को कुछ नहीं कहा जा सकता अगर कहते हैं तो इससे उनके जीवन पर प्रभाव पड़ता है but वह इस बात को समझने को तैयार नहीं होते हैं उन्हें यही लगता है कि हमें क्यों कहा जा रहा है आज का आलम तो यह हो चुका है कि अगर किसी को समझाने जाओ तो यही सोचता है कि शायद यह अपने आप को बहुत बड़ा समझता है जबकि यह सोचना बिल्कुल गलत है किसी की राय लेने से कोई फर्क नहीं पड़ता है जब तक आप उस पर अमल नहीं करते या जब तक आप उस बात को ढंग से नहीं समझते

 

अगर आपके जीवन में उसका बहुत अच्छा प्रभाव पड़ सकता है तो किसी से राय लेने में कोई बुराई नहीं है हम सभी यह बात जानते हैं कि हम सभी लोगों की बातें सुनते हैं लेकिन उन पर अमल करना यह हमारा ही विचार रहता है सभी की बातें सुनकर हम उसको तुरंत नहीं मान लेते हैं जब तक कि हम उस पर ढंग से विचार नहीं करते हैं अगर आप भी अपने जीवन में कुछ बदलाव लाना चाहते हैं तो आपको भी थोड़ा अलग सोचना होगा शायद अलग सोच हमारे जीवन पर एक अच्छा प्रभाव डाल पाए

जीवन की सच्चाई क्या है

जीवन में मुसीबत ही चलते रहेंगे यह तो कम हो सकती हैं खत्म नहीं हो सकती इसलिए मुसीबतों पर ध्यान ना देकर आप अपने काम पर ध्यान दीजिए शायद उसे जीवन पर एक अच्छा प्रभाव बढ़ सके और आपका जीवन बहुत अच्छा बन जाए वह नाराज होकर जो चला गया था but जब शाम हुई तो फिर वापस आया अब शायद ठीक लग रहा था but अभी भी नाराज ही था जब पिता जी आए तब भी वह नाराज था पिताजी ने उसे अपने पास बुलाया वहां और पूछा कि तुम क्यों नाराज हो जाते हो

 

तुम किसी भी बात पर जल्दी नाराज हो जाते जबकि ऐसा नहीं करना चाहिए शायद तुम जानते नहीं हो जो लोग जीवन में बदलाव करना चाहते हैं उन्हें नाराज होने की जरूरत नहीं है उस कमी को दूर करने की कोशिश करते हैं जो कि उनके सामने समस्या पैदा करती है but अगर तुम्हें कुछ कहा जाए तो तुम नाराज हो कर चले जाते हो ऐसा कब तक चलेगा जीवन में कुछ करना है तो तुम्हें नाराजगी को दूर करना होगा छोटी-छोटी बातों पर नाराज होना अच्छी बात नहीं होती है

 

शायद तुम्हें पता नहीं है जो लोग नाराज होते हैं या जल्दी ही गुस्सा करते हैं वह निर्णय लेने में बहुत जल्दबाजी करते हैं और कभी-कभी ऐसा फैसला कर लेते हैं जो कि बिल्कुल ही गलत होता है जब तक उन्हें उस चीज का एहसास होता है तब तक बहुत देर हो चुकी होती है इसलिए कभी भी जीवन में ऐसा फैसला लेने के लिए गुस्सा करना जरूरी नहीं होता इसलिए अगर जीवन में कुछ भी करना है तो और नाराजगी को दूर करना चाहिए

जीवन क्या है

छोटी-छोटी बात पर नाराज होने की जरूरत नहीं है अपनी कमी को दूर कीजिए क्यों नाराज होते हो इस बात का पता कीजिए जब यह बात पता लग जाती है तो उसके बारे में बारे में सही निर्णय लीजिए तभी तुम अपने जीवन में कुछ कर सकते हो अगर तुम यह बातें ही समझ सकते हो तो बहुत कुछ कर सकते हो शायद उसे अपने पिताजी की बातें ठीक लग रही थी उसे भी लग रहा था कि जब भी मैं गुस्से में कुछ करता है तो हमेशा ही गलत हो जाता है इसलिए मैं यह सोच रहा था कि अगर मैं गुस्सा ना करूं तो बहुत अच्छा होगा

Read More-जीवन की बातें

वह अपने जीवन में कुछ भी अच्छा करने के लिए गुस्सा छोड़ने के लिए तैयार हो चुका था जब उसने कुछ फैसले ऐसे लिए जिनमें उसे नाराज होने की जरूरत नहीं थी तो उसने देखा कि उसके फैसले बहुत अच्छे थे जबकि नाराजगी में लिए गए बहुत सारे फैसले उसके गलत साबित हो चुके थे इसलिए जीवन में गुस्सा करना बहुत ही गलत बात है  हमें कुछ भी नहीं करने देता हूं और हमारी सोच को कम कर देता है जिससे कि हम सही फैसले नहीं ले पाते हैं, इसलिए गुस्सा छोड़िये जीवन में आगे बढिये गुस्सा करना छोड़िये, choti choti baatein, achi baatein in hindi, अगर आपको यह बातें पसंद आयी है तो आगे भी शेयर कर सकते है.

Read More :-

दिल की अच्छी बातें

कुछ अलग सोचे

जीवन में सफल बने

हमेशा खुश रहे

एक बार जरूर पढ़े

आज ही सोचिये

लाइफ से जुडी बातें

जीवन की जरुरी बातों पर विचार

Best Tips happy married life 

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

error: Content is protected !!