सेब का फल, story in hindi language

story in hindi language

story in hindi.jpg

story in hindi language

सेब का फल हिंदी कहानी 

story in hindi language, hindi story, एक बार की बात है कि राजा को सेब खाने बहुत ही पसंद है और इतने पसंद थे कि सेब खाने के बगैर  बिल्कुल भी नहीं रह सकते थे एक दिन राजा ने बहुत ही भर पेट सेब खाए हैं और इतना मन किया कि खाते ही चले जाएं और उसी दिन राजा की तबीयत बहुत ही खराब हो गई.




फिर वैध जी को बुलाया गया वैध जी ने राजा की तबीयत को जांचा और कहा कि इन्हें बहुत ही पेट की बीमारी हो गई है {Read more-एक धनी व्यक्ति}क्योंकि इन्होंने से बहुत ही ज्यादा मात्रा में सेब खा लिए हैं और इनके लिए वह नुकसान दे रहे हैं




 वैध जी ने बताया कि कुछ दिनों तक अगर आप सेव नहीं खाएंगे तो आपका पेट ठीक हो जाएगा और फिर उसके बाद आप अपने आप कुछ भी खा सकते हैं लेकिन राजा को सेव इतने पसंद थे कि वह सेव के बगैर रह नहीं सकते थे

Read More-रामनाथ की साइकिल हिंदी कहानी

एक दिन राजा अपने कोतवाल के साथ शिकार पर गए जब राजा शिकार पर गए तो शिकार करते करते वह भी जंगल में बहुत दूर निकल गए हो {Read More-कितनी जमीन नापी}और मौसम खराब होने की वजह से उन्हें कहीं पेड़ के नीचे छिपकर रहना पड़ा क्योंकि बहुत तेज बारिश हो रही थी

Read More-बिना सोचे विचारे

जिस पेड़ के नीचे कोतवाल और राजा बैठे थे वह सेब का ही पेड़ था जो कोतवाल ने देखा यह तो सेव का पेड़ राजा से कहा कि आप यहां मत बैठिए थोड़ा जाने का बैठने से कुछ नहीं होता है वैसे भी बारिश बहुत पड़ रही है और मैं सेब को खा थोड़े ही रहा हूं

Read More-छोटी सी मुलाकात कहानी

बारिश धीरे-धीरे और तेज होने लगी और कोतवाल को लगा हम उस पेड़ के नीचे खड़े हैं जिस पेड़ के फल राजा को नुकसान दे सकते हैं बारिश तेज होने की वजह से कुछ फल नीचे गिर गए तब राजा ने सेब का फल उठाया और देखने लगे तभी कोतवाल ने कहा कि

Read More-राजा की बात हिंदी कहानी

आप इसे मत देखिये  आपके लिए नुकसानदायक हो सकता है फिर राजा ने कहा मैं फल सिर्फ देख रहा हूं खा थोड़ी रहा हूं लेकिन फल की खुशबू राजा के दिमाग में गई और वह सेब को खाने में लग गए और इसके बाद सेब खाते ही राजा की तबीयत खराब हो गई

Read More-बहादुर बच्चा

जैसा कि मैं वैध जी ने कहा था कि आप को सेब से परहेज करना चाहिए लेकिन राजा ने परहेज नहीं किया और इस प्रकार राजा की तबीयत खराब हो गई और कोतवाल को उन्हें ले जाना पड़ा

Read More-आदत से मजबूर

story in hindi language, hindi story, दोस्तों इस कहानी से यही सीख मिलती है कि हमें किसी भी चीज की अति नहीं करनी चाहिए अगर हम अभी भी किसी चीज की अति करते हैं तो हमारे शरीर के लिए बहुत ही नुकसानदायक होती है.

Leave a Reply

error: Content is protected !!