जब शादी हुई, Simple love story in hindi

Simple love story in hindi

जब शादी हुई

love story.jpg

love story in hindi

love story in hindi, यह कहानी उस लिफ्ट से शुरू हुई थी, जब हर रोज सुबह लिफ्ट से नीचे आया करते थे, गर्मियों के समय में भी हर रोज नौ बजे उससे मुलाकात होती थी, और जब सर्दिया आती थी, तो दस बज जाया करते थे, हमे नहीं पता था की एक दिन उससे से शादी भी हो जायेगी, हर बार की कहानी में ऐसा नहीं होता है, लेकिन हमारी कहानी में ऐसा ही हो गया था, चलिए अब आगे चलते है, की शुरवात कब हुई थी,





ये बात बहुत साल पहले की है, क्योकि अब जब में आपके सामने यह कहानी ला रहा हू, तो आज इस बात को बहुत साल हो गए है, जब में लास्ट ईयर में पढ़ रहा था, वह भी लास्ट ईयर में ही थी, लेकिन कॉलेज अलग थे, इसलिए जायद मुला काट नहीं होती थी, सिर्फ मुलाकात का समय सुबह ही होता था, हम सातवीं मंजिल पर रहते थे, और वह छठी मंजिल पर थी, जब भी कॉलेज का वक़्त होता था, तभी हम लिफ्ट से नीचे जाया करते थे, तभी मुलाक़ात होती थी,

 




एक दिन संडे था, संडे को समान भी आता था, क्योकि हम और दिन जयादा बिजी होते थे, संडे को ही बचे  हुए काम करते थे, क्योकि और दिन समय का मिलना भी बहुत मुश्किल था, संडे को बहुत बार हम मिल जाया करता थे, जब पढ़ाई पूरी हुई तो एक कंपनी में जॉब मिल गयी थी, जब जॉब मिली तो शादी के रिश्ते भी आने लगे थे, पर अभी शादी का मन भी नहीं था, अभी तो जॉब मिली थी, और अब शादी कुछ अजीब सा लग रहा था,

Read More-दिल को छूने वाली कहानी

शादी होने के बाद बहुत सी ज़िम्मेदारी आती है, और वह सब पूरी भी होनी चाहिए, इसके लिए हमे पूरी तरह तैयार होना चाहिए, इसलिए जहा तक हो स्का शादी को दूर ही रखने में कोशिश की जा रही थी,  कुछ महीने बाईट ही थे, की अचानक में जब जॉब से घर आया तो देखा की उस लड़की के फादर घर पर बैठे थे, उन्हें देखकर ऐसा लगा की यह कोई शिकायत लेकर आये है, या फिर उन्होंने हमे देख लिया होगा, ऐसा ही ख्याल मन में चल रहा था, वो काफी देर तक हमारे यहां पर बैठे थे,

Read More-हिंदी कहानी एक सच

जब वो चले गए तो मेरी बिलकुल भी हिम्मत नहीं हो रही थी, की अपने माता-पिता से यह पूछा जाए की वह क्यों आये थे, इस बात का पता हमे बिलकुल भी नहीं चला था, की वो क्यों आये थे, अगली सुबह में अपने ऑफिस को निकल गया था, मन में ख्याल आ रहा था की उन्होंने ने क्या कहा होगा, दो दिन बाद मेरी माँ ने मुझे बतया की कुछ दिन बाद मेरी शादी है, ऐसा सुनकर मुझे बहुत डर लगने लगा था,

Read More-छोटी सी मदद

क्योकि में पहले भी मना कर चुका था, अब मुझे बिना पूछे ही शादी तय कर ली थी, उन्होंने ने तो शादी की डेट भी तय कर ली थी, शादी की डेट अगले महीने की थी, अब कुछ भी बोलना सही नहीं था, अब में उस लड़की से क्या जवाब दूंगा, की मेरी शदी हो गयी है, मेने उस लड़की को फोन किया और उसने भी कहा की मेरी भी शादी तय हो चुकी है, अब कुछ भी समझ नहीं आ रहा था, की यह सब क्या हो रहा है, 

Read More-सच्चा प्यार एक कहानी 

जब शादी की डेट नज़दीक आयी तो हमने मिलने का फैसला किया, हम दोनों अपनी छत पर ही मिले और यह सब बाते की, यह सब क्या हो रहा है हमारी शादी अगले ही महीने है, और हम दोनों यह नहीं जानते है की हमारी शादी किस्से हो रही है, तभी हमर माता-पिता भी छत पर आ गए थे, जब वो आये तो हम दोनों बहुत डर चुके थे,

Read More-प्यार की सच्ची दोस्ती

क्योकि उन्होंने ने हमे एक साथ देख लिया था, उन्होंने ने हमे शादी के कार्ड दिए, उन कार्ड पर हम दोनों का नाम लिखा था, हम यह देख घबराये भी और खुश भी हो  गए थे, उस दिन जब लड़की के पापा घर आये थे, तो यही बात करने आये थे, क्योकि उन्होंने ने हमे एक दूसरे के साथ दिख लिया था, इसलिए दोनों की शादी की जाए, इसलिए उन्होंने ने नहीं बताया था, हमारे साथ कभी अच्छा हो जाता है तो हम खुश हो जाते है, हमारे प्यार की कहानी एक सच्ची कहानी है,

Read More-अच्छी हिंदी प्रेम कहानी

Read More-प्यार कहाँ है एक कहानी

Mohika real love story in hindi

Read More-असली प्यार की कहानी

Read More-प्यार की बातें 

Read More-अधूरी प्रेम कहानी

Read More-प्यार का एहसास

Read More-वो फिर नहीं आया

Read More-छोटी सी मुलाकात कहानी

Read More-हमारे रास्ते अलग है

Read More-प्यार की कहानी

Read More-हौसला बनाये रखना

Read More-दोस्त की सच्ची कहानी

Read More-छोटी सी बात हिंदी कहानी

Read More-सोच का फल कहानी

Read More-परीक्षा का परिणाम 

Read More-समय जरूर बदलेगा

Read More-विश्वास की कहानी

अन्य कहानियां भी पढ़े:-

Read More-गुस्सा क्यों

Read More-राजा की सोच कहानी

Read More-राजा और चोर की कहानी

Read More-पत्नी का कहना

Read More-एक किसान

Read More-रेल का डिब्बा

Leave a Reply

error: Content is protected !!