शेखचिल्ली का मजाक, shekh chilli comedi

shekh chilli comedi

shekh chilli.jpg

shekh chilli comedi

 शेखचिल्ली का मजाक

shekh chilli comedi, shekh chilli kahani, एक दिन गांव में बैठे बैठे कुछ लोग आपस में बातें कर रहे थे कि शेखचिल्ली से हमें ऐसा काम लेना चाहिए जिससे वह हमारे काम भी आ जाए और उसे पता भी ना लगे सभी लोग विचार करने लगे कि हम ऐसा काम दे सकते हैं




शेखचिल्ली को जिससे हमारा काम भी बन जाए और उसको इस बात की बिल्कुल भी भनक ना हो फिर कुछ आदमी शेखचिल्ली के पास गए और कहने लगे कि यार हमें यहां से शहर जाने में बहुत दिक्कत होती है और हमारे यहां से रेलगाड़ी भी गुजरती है




क्यों ना तुम ऐसा करो कि रेलगाड़ी को यह पर रुकवा दो जिससे कि हम शहर आराम से जा सके शेखचिल्ली कहने लगा क्यों मजाक कर रहे हो रेलगाड़ी क्या मेरे कहने से रुकेगी सभी लोग कहने लगे बिल्कुल अगर तुम कहोगे तो हवाई जहाज भी रुक जाएगा रेलगाड़ी तो बहुत दूर की बात है

 

शेखचिल्ली को बहुत अच्छा लगा कि देखो मेरे से तो बहुत चीजें रुक जाती है हवाई जहाज रुकने को तैयार है तो रेलगाड़ी क्यों नहीं रुकेगी तो उसने सोचा कि आज मैं रेलगाड़ी रुकवा कर ही रहूंगा आप सब देख लेना सभी लोग आपस में हंसते हुए और मजाक करते हुए वहां से चले गए

 

शेखचिल्ली देखते हैं कि कैसे रेल गाड़ी को रुकवा आएगा जब रेलगाड़ी आ रही थी तो शेखचिल्ली वहीं पर रेलवे लाइन पर खड़ा हो गया और जोर-जोर से हाथ मिलाने लगा है ड्राइवर ने सोचा कि यह हाथ क्यों हिला रहा है लगता है यहां पर कुछ खराबी है जिसके कारण यह जोर-जोर से हाथ हिला रहा है

 

रेलगाड़ी रुक गई जब रेल गाड़ी रुकी तो ड्राइवर ने पूछा क्या बात है आगे क्या लाइन खराब है शेखचिल्ली ने कहा कि आप के इंजन के टायरों में पंचर हो गया है इसलिए मैं बता रहा था कि आगे गाड़ी नहीं जा सकती है रेलवे ड्राइवर कहने लगा रहे मूर्ख आदमी रेल गाड़ी के पहियों में पंचर नहीं होता है शेखचिल्ली ने कहा कि रेल गाड़ी में पंचर तो होता ही है वह तो तुम्हें समझ में नहीं आ रहा है थोड़ी देर मे तो हवाई जहाज भी रेल गाड़ी पर आ जाएगा आप ड्राइवर समझ गया था तो बेवकूफ आदमी है और वह अपने ट्रेन को लेकर वहां से चला गया

 

 फिर सभी लोग वहां पर आएं और शेखचिल्ली के पास गए और कहने लगे कि तुम तो बड़े कमाल के आदमी हो तुम्हारे कहने से तो ट्रेन भी रुक गई अब ऐसा करो जहाज को भी रोक लो शेखचिल्ली सोचने लगा कि यह तो मेरा मजाक बना रहे हैं मैं जहाज को कैसे हाथ दिखाऊंगा और वह कैसे हमें देखेगा और कब वह कहां उतर जाएगा

Read More-मुर्ख दोस्त की कहानी                                Read More-शेखचिल्ली की कुश्ती

shekh chilli comedi, shekh chilli kahani, शेखचिल्ली ने कहा कि जहाज तो नहीं उतर सकता अगर मैंने उतारने की भी कोशिश की तो किसके घर पर उतरेगा जहां उतरेगा सारे घर तोड़ते चले जाएंगे अब तो अब सभी लोग यही सोच रहे थे की कही जहाज आ गया और गांव में उतार दिया तो सारे घर तोड़ देगा उसने कहा भैया रहने दो तुम ट्रेन रुकवा सकते हो तुम जहाज रुकवा सकते हो तुम तो महान आदमी हो इस तरह से चिली ने नया कारनामा करते हुए अपने घर को चला गया.

Related Posts:-

Read More-असली आलसी

Read More-वो बीस किलोमीटर की दूरी

Read More-पति की समस्या

Leave a Reply

error: Content is protected !!