बेवकूफ गधा, nursery stories in hindi

nursery stories in hindi

stories.jpg

nursery stories in hindi

बेवकूफ गधा

nursery stories in hindi, एक बार की बात है एक जंगल में एक गधा रहता था जंगल के सारे जानवर उसे कुछ नहीं समझते थे और ना ही उसकी कोई बात सुनता था एक दिन गधा जंगल में अकेला घूम रहा था उसे घूमते-घूमते मरे हुए शेर की खाल मिल गई





उसने वह पहन ली और सोचने लगा अब मैं शेर बन गया हूं अब मैं जंगल के सभी जानवरों को डरा हुआ और जो मेरा मन करेगा उनके वही करवाऊंगा गधे ने शेर की खाल पहन ली और अपने आप को शेर समझने लगा वह जंगल में आया और सभी जानवरों को डराने लगा




सब जानवर सोचने लगे शेर आ गया उसे आता देख सब छुप गए अब गधा अपने ऊपर बहुत घमंड  आने लगा उसने सोचा देखो मुझे सब से समझ रहे हैं मेरी कितनी इज्जत कर रहे हैं वह जिसे चाहता उसको अपने पास बुलाता और उससे अपने सारे काम करवाता धीरे-धीरे ऐसे ही  3 – 4 दिन बीत गए

 

एक दिन गधा शेर बनकर  पत्थर पर बैठा था और बाकी जानवर नीचे बैठे थे  सभी जानवरों को बता रहा था कि कौन उसके लिए किस दिन उसके लिए क्या लाएगा. अचानक उसको बहुत तेज हिचकी आए और वह गधे की तरह ही डकार मारने लग गया

 

nursery stories in hindi, क्योंकि वह एक गधा था शेर नहीं सब जानवर उसे देखने लगे और समझ गए कि यह गधा है जो उनका बेवकूफ बना रहा था सभी ने उसको बहुत मारा गधे की समझ में आ गया कि किसी की नक़ल करने से हम उस जैसे नहीं बन सकते हम जैसे हैं वैसे ही रहेंगे.

Related Posts:-

Read More-बाबा की सीख

Read More-ढोंगी पंडित की कहानी 

Read More-बेवकूफ दोस्त की कहानी

Leave a Reply

error: Content is protected !!