मानसिक बीमारी, mansik bimari in hindi

mansik bimari in hindi

mansik.jpg

mansik bimari in hindi

mansik bimari in hindi, mansik tanav hindi, mansik rog, आज बहुत से लोगों में मानसिक रोग बढ़ता ही जा रहा है जैसे जैसे मानसिक रोग हमें देखने को मिलता है वैसे ही हर आदमी में मानसिक तनाव के कारण ही यह रोग उत्पन्न हो रहा है आज की जिंदगी इतनी बिजी हो चुकी है कि आज आदमी को पल भर के लिए भी आराम नहीं मिल पा रहा है उसका नतीजा हमें ही भुगतना पड़ रहा है जो कि हमारी मानसिक परेशानियां और मानसिक बीमारियां बढ़ती ही जा रही हैं



जैसे जैसे लोग अपने कामों में बहुत ही बिजी हो गए हैं उन्हें आराम का समय भी नहीं मिल पा रहा है और वही लोग आज मानसिक बीमारी से प्रभावित हो रहे हैं यह रोग आजकल किसी भी अवस्था में हो सकता है जहां लोग ज्यादा परेशान होते हैं अपनी परेशानियों को लेकर वह बहुत ज्यादा सोचने लगते हैं उनके दिमाग पर भारी असर पड़ता है और वह मानसिक तनाव में आ जाते हैं




आइए अब आगे बढ़ते हैं मानसिक रोग के लक्षण हम जानेंगे और इनके उपचार भी कि कैसे आप अपने आप को मानसिक रोगों से दूर रख पाएंगे

 

सबसे पहले हम यह देखते हैं कि मानसिक रोग किन व्यक्ति को हो सकता है जब कोई इंसान बहुत ही गहरी सोच में डूबा होता है या फिर उस पर ऐसा प्रेशर होता है जिससे कि उसे सोचने पर मजबूर होना पड़ रहा है और वह व्यक्ति बहुत ही गंभीरता से सोच पर अपना नजरिया लगाता है और किसी भी निर्णय पर नहीं पहुंच पाता है और परेशानियां उत्पन्न होने लगती है

Read More-गोरे होने के उपाय

और कभी-कभी वह व्यक्ति ऐसी बातें कर देता है जो कि सही नहीं है या फिर जिन का मतलब आप नहीं समझ पा रहे हैं तो समझ लीजिए वह इंसान और मानसिक रोग की चपेट में आ चुका है मानसिक रोग कोई आम बीमारी नहीं है कि आप इसे अनदेखा कर पाए इसके लिए आपको तुरंत ही डॉक्टर से सलाह लेकर आगे की प्रक्रिया पूरी करनी चाहिए

 

 हम यहां पर यह जानेंगे कि इस रोक से हम कैसे बच सकें और देखेंगे की मानसिक रोग के और कौन से लक्षण हैं जिन्हें हम पहचान कर यह जान सकते हैं कि मानसिक रोग अब उत्पन्न हो रहा है मानसिक बीमारी के लक्षण जब कोई व्यक्ति बहुत सारी भीड़ से अलग होकर थोड़ा दूरी पर अपने आप को अकेला महसूस कर रहा होता है या फिर अपने आप से ही बातें करता रहता है और बातों को वह समझ नहीं पाता है या फिर नींद उसे नहीं आ पाती है दूसरों से बातें करना पसंद नहीं करता है बात बात पर झगड़ा करने लगता है या कभी कभी वह किसी ना किसी वजह से रोने लग जाता है या फिर बहुत ही गुस्सा करने लगता है तो यह वह लक्षण है जो की मानसिक रोग पर प्रभाव डाल रहे हैं

Read More-फटी एड़िया

इन लक्षणों को पहचान कर आप थोड़ा बहुत समझ जाएंगे कि अब आपको इस बीमारी से बचने की जरूरत है मानसिक रोग के लक्षण कभी-कभी यह रोग हमारी फैमिली में एक जनरेशन के तौर पर पीछे से चला आ रहा है तो इससे आगे आने वाले व्यक्ति पर असर पड़ सकता है या फिर ऐसा कह सकते हैं कि वह इस रोग का से ग्रसित हो सकता है इस रोग के कारण में आप मोटे लोग भी इस रोग में आसानी से चपेट में आ सकते हैं

 

 यह बहुत ही दुबले-पतले लोग भी इस बीमारी का शिकार आराम से बन सकते हैं क्योंकि अगर हम देखें तो ज्यादातर मोटे लोग ज्यादा सोचने पर अपने आप पर विचार करने में और ज्यादा पतले लोग भी अपने आप पर समानता रूप से सोचने और विचार करने पर गंभीरता से बातों को प्रयोग में लाते हैं और तनाव से ग्रसित हो जाते हैं और उसका परिणाम से मानसिक बीमारी है से ग्रसित हो जाते हैं

Read More-चेहरे से तिल कैसे हटाये

मानसिक रोग से बीमारी मैं आने वाला व्यक्ति अपने आप में खोया रहता है किसी दूसरे से बातें पसंद नहीं करता है और दूसरे की बात को जल्दी ही नहीं मानता है और वह अपने ही खोजबीन में लगा रहता है या ऐसा कहें कि वह अपने आप में ही रहता है दूसरों पर वह ध्यान नहीं देता है कभी-कभी मानसिक बीमारियां उन लोगों को भी हो जाती है जो ज्यादातर दवाइयों का सेवन करते हैं और मदिरापान करते हैं या फिर घूम्रपान बहुत ज्यादा करते हैं तो तनाव में आ जाते हो तनाव में आने के कारण ही वह बीमारी का शिकार हो जाते हैं

 

मानसिक रोग की बीमारियां आसानी से पहचाना जा सकता है कभी-कभी व्यक्ति बिना बात ही वह डर लगता है या फिर रोने लगता है या फिर हंसने लगता है तो वह मानसिक बीमारियों से ग्रसित हो रहा है मानसिक रोग में अगर आप देखेंगे तो बहुत से आदमी इस से परेशान है क्योंकि वह आज की जिंदगी में बहुत सारी परेशानियां ले आए हुए हैं जिनका समाधान होना लगभग असंभव ही है

Read More-बालतोड़ का इलाज

 जिस का प्रभाव हमारे दिमाग पर पड़ता है और फिर वह मानसिक रोग का मरीज बन जाता है मानसिक रोग का उपचार हिंदी में हम जानेंगे कि हम कैसे बच सकते हैं अपने मानसिक तनाव से हमें प्रत्येक दिन हर रोज सुबह थोड़ा व्यायाम या प्राणायाम करना बहुत ही आवश्यक होता है अगर आप प्रणायाम करते हैं तो इससे आपको बहुत लाभ होता है आपके माइंड पर जो प्रेशर पढ़ रहा होता है वह उसकी भी मात्रा कम हो जाती है और आप बहुत ही रिलैक्स फील करते हैं

 

जितना आपका दिमाग शांत होगा उतना ही आप इस बीमारी से दूर रहेंगे ज्यादा से ज्यादा कोशिश करें कि आप इस बीमारी से दूर रहने के लिए अपने दिमाग को ज्यादा से ज्यादा शांत रखें किसी भी बात पर निर्णय लेने के लिए आप उस पर कुछ देर विचार करें और बिल्कुल ठंडे दिमाग से ही उस निर्णय को लें

Read More-कलाई में दर्द होना

 किसी भी निर्णय को लेने के लिए आपको अपने दिमाग पर बिल्कुल भी जोर नहीं देना है अगर आप जोर  डालते हैं तो हो सकता है कि आप मानसिक रोग के मरीज बन जाए और फिर यह परेशानी बढ़ती ही जाती है अगर आप ऐसा नहीं करते हैं तो आपका दिमाग शांत रहता है और आप इस बीमारी से दूर रहते हैं

 

परिवार में ज्यादा से ज्यादा समय आपस में बात करके ही आपको बिताना चाहिए जितना आप बातें करेंगे उतना ही आपका दिमाग और मन शांत रहेगा और ज्यादातर अकेले बैठे रहने से आप थोड़ा सा चिंता रोग से ग्रसित हो जाते हैं इसलिए उस चिंता को दूर करने के लिए आपस में समय बिताएं और ज्यादा से ज्यादा अपने आप को काम में बिजी रखें कभी-कभी आदमी खाली रहता है तो उसके दिमाग में बहुत सारी बातें चलती हैं और इन बातों को चलते रहने से उसका दिमाग दृश्य में आ जाता है और इसका कारण यह है होता है

Read More-पैर की मोच का इलाज

mansik bimari in hindi, mansik tanav hindi, mansik rog, मानसिक तनाव का शिकार हो जाता है मानसिक तनाव की बीमारी से बचने के लिए आपको प्रत्येक दिन आप सुबह हल्की सैर पर जा सकते हैं और थोड़ा सा व्यायाम करके भी आप इस परेशानी को दूर कर सकते हैं

अगर आपको यह आर्टिकल पसंद आया है तो आगे शेयर जरूर करे और कमेंट करके हमे भी बातये,

 

Leave a Reply

error: Content is protected !!