बकरी की चतुराई, kids story in hindi

kids story in hindi

kids story.jpg

kids story in hindi

बकरी की चतुराई, kids story in hindi

kids story in hindi, child story in hindi, एक बकरी थी उसके चार बच्चे थे वह बकरी अपने बच्चों के साथ एक झोपड़ी में रहती थी बकरी अपने बच्चों को बाकी जंगली जानवर से बचा कर रखती थी उसने अपने बच्चों के नाम मियां मियां रख रखे थे तभी बकरी बाहर खाना लेने जाते थे तो अपने बच्चों से कह जाती थी कि जब मैं आऊं तो मैं बोलूंगी के दरवाजा खोल मियां दरवाजा खोल तभी दरवाजा खोलना तभी बच्चे दरवाजा खोलते थे




अगर मेरे अलावा कोई और आए तो दरवाजा मत खोलना नहीं तो कोई जंगली जानवर आकर तुम्हें खा जाएगा एक दिन एक भेड़िया बकरी की झोपड़ी के पास चुपचाप सुन रहा था कि बकरी ने अपने बच्चों से क्या कहा है और क्या कह कर तो उसके बच्चे दरवाजा खोलेंगे




जब बकरी घर से बाहर खाना लेने गई तो भेड़िए ने बकरी की आवाज में बोला खोल में आई मियां खोल में आई मियां बकरी के बच्चों ने सोचा हमारी मां आ गई और उन्होंने दरवाजा खोल लिया जैसे ही दरवाजा खोला भेड़िया चारों बच्चों को खा गया,

Read Story-गरीब आदमी

 बकरी वापस आई तो उसने बहुत बार दरवाजा खोलने के लिए कहा परंतु वहां पर कोई नहीं था इसलिए दरवाजा नहीं खोला बकरी समझ गई कि आज उसके बच्चों को कोई खा गया है बकरी ने जाकर जंगल में सभी से पूछा कि मेरे बच्चों को किसने खाया है परंतु सब चुपचाप बैठे रहे और किसी ने कुछ जवाब नहीं दिया

 

लोमड़ी बहुत तेज थी उसने कहा तुम अगर ऐसे पूछोगी तो कोई तुम्हें जवाब नहीं देगा सबसे पहले तुम यह देखो किसका पेट मोटा हो रहा है और किस के पेट के अंदर तुम्हारे चारों बच्चे हैं सभी जानवर को बकरी ने देखा और फिर उसने भेड़िए को देखा फिर आराम से सो रहा था

Read Story-किताबो का रहस्य

क्योंकि आज उसका पेट इतना भरा था कि उसे कहीं जाने की जरूरत ही नहीं पड़ी बकरी को पता चल गया कि उसके बच्चों को भेड़िए ने खाया है वह भागी भागी तेली के पास गई तेली से बोली तेली तेली मे  सींग इतने पैने कर दो की जिसके पेट में डालू उसका पेट फट जाए तेली ने उन पर तेल लगाकर इतने उन्हें पैने कर दिया

 

बकरी जाकर तालाब के किनारे बैठ गए क्योंकि उसको पता था जंगल के सभी जानवर तालाब के किनारे पानी पीने जरूर आएंगे धीरे-धीरे सभी जानवर आया सबसे बाद में भेड़िया आया उसने भेड़िए के पेट में वह अपने सींग उसके पेट में डाल दिए उसके बच्चे भेड़िए के पेट में से निकल पड़े पर जब तक मैं मर चुके थे लेकिन बकरी में अपनी चालाकी से अपने सारे बच्चों की मौत का बदला ले लिया था

Read More-खरगोश ने रंग लगाया

kids story in hindi, child story in hindi, भेड़िया को उसकी करने का फल दे दिया था हम में से आज भी बहुत से ऐसे लोग हैं जो अपने फायदे के लिए किसी  को भी  नुकसान पहुंचा सकते हैं अगर आपको यह कहानी पसंद आयी है तो आगे भी जरूर शेयर करे और कमेंट करके हमे भी बातये.

Read More-मोटू पतलू और फिल्म शूटिंग

Read More-मोटू पतलू और जादुई फूल

Read More-मोटू पतलू और जादुई टापू

Read More-मोटू पतलू और मिलावटी दूध

Read More-मोटू पतलू और साधू बाबा

Read More-मोटू पतलू और चिराग

Read More-मोटू पतलू और नगर की सफाई

Read More-मोटू-पतलू का सपना

Read More-पेटू पंडित हास्य कहानी

Read More-शेखचिल्ली की कुश्ती

Read More-शेखचिल्ली का मजाक

Read More-शेखचिल्ली की दुकान

Read More-छोटा भीम और जादूगरनी

Read More-छोटा भीम और क्रिकेट मैच

Read More-मोटू और पतलू का जहाज

Read More-मोटू और पतलू के समोसे

Read More-छोटा भीम और नगर में चोर

Read More-छोटा लड़का और डॉग

Leave a Reply

error: Content is protected !!