ब्रह्माण्ड निर्माण, history of earth in hindi

history of earth in hindi

ब्रह्माण्ड का निर्माण कैसे हुआ

history of earth.jpg

history of earth in hindi

history of earth in hindi, prithvi ka janam, ब्रह्माण्ड का निर्माण कैसे हुआ, कैसे हमारी पृथ्वी पर जीवन बना इसकी जानकरी के लिए हम यहां पर आपको बताने जा रहे है जैसी की आप लोग आज अपनी पृथ्वी को देखते है पहले ऐसी नहीं थी अगर हम करोड़ो साल पहले की बात करे तो यहां पर कुछ भी नहीं था जो आप पृथ्वी देख रहे है यह भी यहां पर नहीं थी.





आइए जानते है शुरुआत से क्या हुआ था जब यहां पर कुछ नहीं था जब हमारी पार्थवी का निर्माण हुआ तो उस समय पृथ्वी पूरी तरह से जवालमुखी से भरी हुई थी और हर जगह पर जवालामुखी ही जल रहा था ऐसे में कोई भी जीवन होना संभव नहीं था चारो और लावा ही लावा था इस दौरान तो हम जीवन की कल्पना भी नहीं कर सकते थे.





ज्वालामुखी की तरह बनी पृथ्वी बहुत तेजी से चल रही थी उस समय इसकी स्पीड उतनी थी की पृथ्वी पर दिन सिर्फ आठ घंटे का था पृथ्वी की स्पीड की वजह से समय बहुत ही कम था इसके बाद गुर्त्वाकर्षण होने की वजह से ये सारा लावा केंद्र की तरफ जाने लगा और पृथ्वी की बाहरी परत का निर्माण होने लगा

Read More-आसमान से गिरती है अजीब वस्तुए

इसके बाद एक काम और हुआ उस समय में पृथ्वी पर बहुत से धूमकेतु टकरा जाते थे उसी दौरान मंगल ग्रह जितना बड़ा धूमकेतु पृथ्वी से टकरा गया और उसका कुछ हिस्सा भी पृथ्वी से मिल गया जब धूमकेतु टकराया तो उसी समय पृथ्वी पर भरा हुआ लावा अंतरिक्ष फैल गया

Read More-दुनिया की अजीब बातें

जब चाँद का निर्माण हुआ तो हमारी पृथ्वी पर बहुत से बदलाव होने लगे चाँद के होने से पृथ्वी की स्पीड भी कम होने लगी अब पृथ्वी पर दिन आठ घंटे से चौबीस घंटे का हो गया पृथ्वी पर वाष्प होने के कारण फिर बारिश का निर्माण हुआ. जब बारिश हुई थी तो बहुत सालो में पृथ्वी ठंडी हो गयी उसी दौरान नदियो और तालाबों और समुन्द्र का निर्माण हुआ 

Read More-दुनिया के अनसुलझे रहस्य

 

ये बात सभी लोग जानते है है सबसे पहले जीवन जल में ही उत्तपन्न हुआ था और धीरे धीरे बहुत से जीव पानी में जन्म लेने लगे और जीवन की शुरुआत हो गयी इसके बाद धीरे धीरे ऑक्सीजन की मात्रा पानी से निकल कर हमारे वातावरण में घुल गयी जिससे पृथ्वी पर जीवन होना सम्भव हो गया

Read More-रहस्मयी मंदिर जहाँ आज भी

इसी तरह पानी में भी जीव और बहुत मात्रा में पैदा होने लगे और पृथ्वी पर जब ऑक्सीजन की मात्रा बढ़ने लगी जिससे ओजोन लेयर भी बन गयी जो की सूर्य से रक्षा करती है सुंदर के जीवो ने भी ऑक्सीजन का प्रयोग करना शुरू कर दिया जिससे कुछ बड़े जीव पृथ्वी पर आ गए

Read More-मेला जहां नाचते है भूत

 

इस समय पृथ्वी पर पेड़ पौधे का निर्माण शुरू हो गया था जिससे पृथ्वी पर जीवन संभव होता है इसके बाद डायनासोर का जीवन शुरू हुआ और काफी समय तक चला फिर एक दिन पृथ्वी से एक धूमकेतु टकरा गया और पृथ्वी पर चारो और धुँवा ही धुँवा हो गया जिससे पृथ्वी का तापमान फिर से बढ़ गया और जीवन मुश्किल में पड़ गया और डायनोसोर जैसी प्रजाति लुप्त होने लगी एक बार फिर जीवन की समाप्ति होनी शुरू हो गयी थी

Read More-गर्म तेल में भी नहीं जलते हाथ

फिर धीरे धीरे पृथ्वी पर बदलाव हुआ और जानवरो की उतपत्ति शुरू हो गयी और uske बाद पेड़ पौधे बनने शुरू हो गए और मानव जीवन भी शुरू हो गया पहले बंदर पेड़ो पर रहते थे बाद में उन्होंने भी काफी कुछ सीख लिया था और आज की दुनिया में काफी तेजी आ गयी आज हमारे पास लगभग हर सुविधा है

Read More-संतान देने वाला मंदिर

history of earth in hindi, prithvi ka janam, हमारी पृथ्वी ने करोडो साल का सफर तय किया है और आज इस पर जीवन है और भी बहुत सी खोज चल रही है मानव जीवन के प्रति जिससे हमे और ज्ञान उपलब्ध कराया जा सके जिससे हम आज भी अनजान है. अगर आपको यह जानकारी पसंद आयी है तो आगे भी शेयर जरूर करे और हमे भी बताये.

Leave a Reply

error: Content is protected !!